तुलसी का पौधा घर में आने वाले संकटो की देता है पूर्व सुचना

Spread the love

कभी कभी आप सोचते होंगे कि कितना अच्छा होता अगर घर पर कोई संकट आने वाला हो और उसके आने से पहले ही हमें उसके बारे में पता चल जाए। ये बातें आपको काल्पनिक लगती है, लेकिन हमारे प्रकृति में कुछ ऐसी चीजे भी होती है तो हमें संकट आने से पहले उसके लिए आगाह कर देती है। उनमे से एक है अधिकतर घरों में मिलने वाला Tulsi Ka Paudha.

Tulsi Ka Paudha: घर को बुरे प्रभाव से बचाएं

Tulsi Ka Paudha

 

आपने कभी ध्यान दिया है कि आपके घर में लगा तुलसी का पौधा किसी मुसीबत आने पर प्रभावित होता है। तुलसी का पौधा आपको पहले ही बता देगा कि आपके घर पर मुसीबत आने वाली है, क्योंकि वह पौधा सूखने लगता है भले ही हम उसकी कितनी ही सेवा क्यों न करे लें।

शास्त्रों में मान्यता है कि जहाँ पर द्वेष और दलिद्रता होती है वहां से सबसे पहले तुलसी यानी लक्ष्मी उस घर से चली जाती है। ज्योतिष की माने तो बुध के कारण ऐसा होता है। बुध का प्रभाव हरे रंग पर होता हैं। बुध को पेड़ पौधो का कारक माना गया है।

  1. बुध एक ऐसा गृह है जो कि दूसरे ग्रहों के अच्छे और बुरे प्रभाव जातक तक पहुंचाता है। यदि कोई गृह अशुभ फल देता है तो उसका प्रभाव बुध की कारक वस्तुओं पर भी पड़ता है और अगर कोई गृह फल देता है तो उसके शुभ प्रभाव से तुलसी का पौधा बढ़ोतरी करता है। बुध के प्रभाव से पेड़ पोधो में फल फूल लगने लगते है।
  2. अगर आपके घर में वास्तु दोष है तो इसे दूर करने के लिए तुलसी के पौधे को अग्निकोण अर्थात दक्षिण पूर्व से लेकर वायव्य उत्तर पश्चिम तक के खाली स्थान में लगा सकते है और अगर खाली जगह न मिले तो तुलसी को गमले में भी लगा सकते है।
  3. यदि नौकरी में किसी अधिकारी की वजह से कोई समस्या आती है तो उसके लिए ऑफिस में खाली जगह या कोई गमला जहाँ पर मिटटी हो वहां पर तुलसी के सोलह बीज एक सफ़ेद कपडे में बांधकर सोमवार को उस जगह पर गाड़ देना चाहिए।
  4. यदि किसी घर की महिला प्रतिदिन पंचामृत बनाकर शालिग्राम जी का अभिषेक करती है तो उस घर में कभी भी वास्तुदोष नहीं होता है।
  5. अगर आपका कारोबार ठीक तरीके से नहीं चल रहा है तो तुलसी के गमले को दक्षिण पश्चिम दिशा में रखे और फिर प्रत्येक शुक्रवार को सुबह कच्चा दूध अर्पण करे तथा मिठाई का भोग रखे तथा किसी सुहागन स्त्री को कोई मीठी वस्तु देने से कारोबार में वृद्धि होती है।
  6. यदि तुलसी का गमला रसोई घर के पास रखा है तो इससे पारिवारिक कलह दूर हो जाती है। पुत्र यदि जिद्दी है तो तुलसी को पूर्व दिशा की खिड़की के पास रख दे। इससे उसका हठ चला जायेगा। इसी दिशा में रखे तुलसी के तीन पत्ते उसे खिलाये जो संतान आपके नियंत्रण से बाहर हो गयी हो या अपनी मर्यादा भूल गयी हो। इससे संतान आज्ञानुसार वर्ताव करने लगती है।
  7. यदि किसी कन्या के विवाह में देरी हो रही हो तो उस कन्या को अग्निकोण में तुलसी के पौधे को प्रतिदिन जल अर्पण करना होगा। इससे उसका विवाह जल्दी होगा और सारी बाधाएं खत्म हो जाएगी।
  8. तुलसी में अनेक प्रकार के गुण होते है। जिससे यह जन्म लेने से मृत्यु तक काम आती है। यह वास्तु के दोष को भी दूर करती है। यह समस्याओं को दूर कर जीवन को सुखमय बनाती है। तुलसी निरोग करने वाली होती है।

Spread the love

You may also like...