कालसर्प दोष, पितृदोष और वास्तु दोष से मुक्ति दिलाते है कपूर के यह उपाय

Spread the love

हिन्दू धर्म में कपूर को पवित्र वस्तु माना गया है। इसका उपयोग पूजा के कार्यो और हवन सामग्री में किया जाता है| इसके बिना सभी धार्मिक कार्य अधूरे माने जाते है।

जब भी हम अपने घरो में पूजा या हवन करते समय कपूर जलाते है। तो कपूर की महक से हमारे आसपास की सभी नेगेटिव एनर्जी खत्म हो जाती है| यही एक वजह है कि घर में कपूर को जलाने की डॉक्टर भी सलाह देते है।

धार्मिक के साथ साथ स्वास्थ की दृष्टि से भी कपूर बहुत ही फायदेमंद होता है। कपूर को अक्सर आरती के समय या फिर उसके बाद जलाया जाता है। कपूर को जलाने से सारे वातावरण में एक अलग सी महक फ़ैल जाती है।

इसकी महक हमारे मन और मस्तिष्क में एक प्रकार की शांति का अनुकूल देती है। हिन्दू धर्म के वास्तु और ज्योतिष शास्त्र में कपूर के महत्व और इसके उपयोग के बारे में बताया गया है। आज के लेख में आप Kapur Ke Totke जान पाएंगे|

Kapur Ke Totke – कपूर के चमत्कारी टोटके

kapur ke totke

कपूर को संस्कृत में कर्पूर, फारसी में काफूर और अंग्रेजी में कैंफर कहा जाता है। कपूर के दवाई के रूप में भी कई फायदे है। इसके अतिरिक्त यह आपके घर और लाइफ की बाधा को भी दूर करता है| आइये जानते है क्या है कपूर के टोटके:-

अचानक धन प्राप्ति का उपाय

  • यदि आप अचानक से धन प्राप्त करना चाहते है तो गुलाब के फूल में कपूर का एक टुकड़ा रखे और उस फूल वाले कपूर को जला दे और माँ दुर्गा को चढ़ा दे।
  • इस प्रक्रिया को करने से आपको अचानक से धन मिल सकता है।
  • इस उपाय को आप कभी भी कर सकते है मगर कम से कम इस उपाय को 43 दिन तक करना होगा|
  • इस कार्य को नवरात्री के दिनों में करने से आप को इसका ज्यादा फायदा मिलेगा।

पुण्य प्राप्ति हेतु

  • हमारे हिन्दू धर्म में किसी भी पूजा में या फिर त्योहारों में प्राचीन काल से कपूर जलाने की परंपरा चली आ रही है।
  • शास्त्रों में कहा गया है कि भगवान के सामने कपूर को पूजा के समय या बाद में जलाने से अक्षय पुण्य मिलता है।
  • जब भी आप भगवान की आरती करते है तो कपूर को जरूर जलाए।

विवाह में बाधा

  • यदि आप के विवाह में किसी प्रकार की बाधा आ रही है तो उसके लिए आपको यह उपाय करना बहुत ही सही साबित होगा।
  • 36 लौंग और 6 कपूर के टुकड़े इन दोनों में हल्दी और चावल मिलाकर माँ दुर्गा को इन सब चीज़ की आहुति दे।

पितृदोष और कालसर्पदोष से मुक्ति

  • यदि आपको पितृदोष, या राहु और केतु का प्रभाव होता है तो कपूर जलाकर आप इनका शमन कर सकते है|
  • आपको प्रतिदिन सुबह, शाम और रात्रि में कपूर को घी में भिगो कर जलाना चाहिए।
  • या फिर घर में बने हुए शौचालय और बाथरूप में कपूर की दो दो टिकियां को रख दे। इस उपाए से भी आप लोगों को फ़ायद होगा।

आकस्मिक घटना या दुर्घटना से बचाव

  • जिस भी व्यक्ति के साथ आकस्मिक घटना या दुर्घटना होती है, वह सिर्फ राहु, केतु और शनि के कारण होती है।
  • आकस्मिक दुर्घटना से बचने लिए शाम की पूजा के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ करे और उसके बाद कपूर से आरती करे।
  • जिस घर में नित नियम से सुबह और शाम को कपूर जलता है उस घर में कभी भी किसी प्रकार की आकस्मिक घटना और दुर्घटना नहीं होती है।

सकारात्मक उर्जा और शां‍ति के लिए

  • यदि आप घर में पॉजिटिव एनर्जी और शांति बनाए रखना चाहते है तो अपने घरो में प्रतिदिन सुबह और शाम को घी में डुबाकर कपूर को जलाए और इसकी खुशबू पूरे घर में फैलाएं।
  • ऐसा करने से घर में मौजूद नेगेटिव एनर्जी खत्म हो जाती है इसके साथ ही घर में अमन शांति बनी रहती है|
  • वैज्ञानिक शोध से पता चला है कि कपूर की सुगंध से जीवाणु, विषाणु आदि बीमारी फ़ैलाने वाले जीव ख़त्म हो जाते है।और सारा वातावरण शुद्ध होता है।

घर से वास्तु दोष हटाये

  • कही आप लोगों के घर में वास्तु दोष हो रहा हो तो आप लोग अपने घर में कपूर की 2 टिकियां को रख दे।
  • जब यह टिकिया खत्म हो जाए तो फिर से दूसरी टिकिया घर के कोने में रख दे।
  • इस तरह करने से आप लोगों के घर में वास्तु दोष निर्मित नहीं होगा।

भाग्य चमकाने के लिए

  • यदि आप लोग अपना भाग्य चमकाना चाहते है तो नहाते समय पानी में कपूर के तेल की कुछ बूंद को डालकर नहाए।
  • इस उपाय को करने से आप फ्रेश रहेंगे और आपका भाग्य भी चमकेगा।
  • इस प्रक्रिया में आप लोग चमेली के तेल भी डाल लेते है तो इससे राहु, केतु और शनि के दोष भी नहीं होंगे।
  • बस इस प्रक्रिया को आपको सिर्फ शनिवार के दिन ही करना है।

पति-पत्नी के बीच तनाव को दूर करने हेतु

  • यदि किसी पति पत्नी के बीच कुछ तनाव है तो उस तनाव को दूर करने के लिए रात में सोते समय पत्नी अपने पति के तकिये में सिंदूर की एक पुड़िया और पति अपनी पत्नी के तकिये में कपूर की 2 टिकिया को रख दे।
  • इस क्रिया को सुबह होते ही सिंदूर की उस पुड़िया को घर से कही बाहर उचित जगह पर फेक दे और उस कपूर को अपने शयन कक्ष में जला दे।
  • या फिर आप लोग दूसरा उपाय यह कर सकते है कि नियमित शयन कक्ष में कपूर जलाए या फिर शयन कक्ष में कपूर की 2 टिकिया को किसी कोने पर रख दे।
  • जब यह टिकिया गलकर समाप्त हो जाए तो उस टिकिया की जगह दूसरी कपूर की टिकिया रख दे।

कपूर के अन्य उपाय

  1. यदि आप लोग नीम के तेल में कपूर की 2 से 3 टिकिया को डालकर उसको जलाते है। तो घर में मच्छर नहीं आते है और घर का वातावरण भी स्वच्छ होता है।
  2. यदि आपको बुद्धि या धन प्राप्त करना है तो यह बुधवार के दिन ही किया जाना चाहिए। इस उपाय से कुंडली में मौजूद बुध दोष दूर हो जाते है| बुधवार के दिन सुबह नहाने के बाद हरे रंग का कपड़ा पहने। हरे रंग के वस्त्र या अन्य वस्तुओं का दान करें। इन चीज़ों में घी, कांसा, कपूर और मिश्री शामिल करने से आप लोगों को इसका लाभ प्राप्त होगा।
  3. यदि आप चाहते है की घर में माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहे। तो अपने घर में “श्री यंत्र” को रखे। इस यंत्र को घर में लाने से पहले आपको एक छोटा सा उपाय करना होगा। उसके लिए आपको विपुष्य, गुरुपुष्य नक्षत्र या अन्य शुभ मुहूर्त में रजत, ताम्र, स्वर्ण या भोजपत्र पर इस यंत्र को कपूर का दीपक दिखाकर घर में स्थापित करें। माँ लक्ष्मी के इस यंत्र की पूजा अर्चना करने से आपके घर से दुख और दरिद्रता दूर हो जाएगी और माँ लक्ष्मी का वास होगा।
  4. यदि आपके कमाये गए धन का कही फिजूल खर्चा हो रहा हो तो आप लोगों को कपूर का उपाय करना चाहिए। इसके लिए आप सूर्यास्त होने के समय कपूर का दीपक जलाए और सारे घर में घुमाएं। अंत में माँ तुलसी पर आरती करते हुए घर के मंदिर में स्थापित कर दें। इस प्रक्रिया को करने से माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद आपको प्राप्त होगा।

Spread the love

You may also like...