Benefits of Neem in Hindi: नीम है आपके लिए फ़ायदेमंद, जाने इसके गुणकारी लाभ

नीम एक बहुत ही अच्छी प्राकृतिक औषधि है जो की बहुत पुराने समय से कई प्रकार की बीमारियों के इलाजो में काम आती है। नीम सिर्फ बीमारियों में ही नहीं बल्कि सौंदर्य बढ़ाने में और साथ ही त्वचा की समस्याओं में भी काम आती है।

नीम सिर्फ आयुर्वेद में नहीं बल्कि प्राकृतिक चिकित्सा, होम्योपैथिक और यूनानी इलाज पद्धति में भी इस्तेमाल की जाती है। साथ ही इसे एक जड़ी बूटी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

नीम में कई प्रकार के तत्व होते है। इसका इस्तेमाल एंटी बैक्टीरियल के रूप में भी किया जाता है । इसके अलावा नीम में एंटी वायरल, एनाल्जेसिक, ज्वरनाशक (antipyretic), एंटी सेप्टिक, एंटी डायबिटिक, एंटी फंगल, आदि तत्व होते है। नीम के पेड़ के लिए यह भी कहा जाता है की यह “वन ट्री फार्मेसी” है।

नीम एक ऐसा पेड़ है जिसका हर हिस्सा किसी न किसी प्रकार से कई बीमारियों के इलाज में काम आता है। इस लेख में हम आपको बता रहे है Benefits of Neem in Hindi जो की आपके लिए काफी ज्यादा मददगार होंगे।

Benefits of Neem in Hindi: जाने नीम के गुणकारी फायदो के बारे में

Benefits of Neem in Hindi

बालों से डैंड्रफ दूर करता है

  • नीम में एंटी फंगल तथा एंटी बैक्टीरियल तत्व मौजूद होते है जो बालों से डैंड्रफ हटाने में काफी मददगार होते हैं ।
  • नीम न सिर्फ आपके बालों से डैंड्रफ हटाता है बल्कि यह आपके सिर की त्वचा को भी स्वस्थ रखता है।
  • नीम का बालों में उपयोग बालों को नमी भी प्रदान करता है और साथ ही बालों के सूखेपन को भी कम करता है।
  • नीम का अपने सिर में उपयोग डैंड्रफ से होने वाली खुजली से भी राहत दिलाता है।
  • बालो में नीम को इस्तेमाल करने के लिए पहले नीम के कुछ पत्तो को ले और फिर उसे 4 कप पानी में उबाल लें।
  • तब तक पानी को उबालें जब तक पानी का रंग हरा न हो जाये और पत्तों का रंग कम न हो जाये।
  • अब अपने बालों में शैम्पू करे और उसके बाद इसे नीम के पानी से धो लें, इससे आपके बाल स्वस्थ रहेंगे।
  • अगर आप चाहे तो नीम का पाउडर ले कर उसमे थोड़ा पानी मिला के पेस्ट बना ले।
  • अब इस पेस्ट को अपने स्कैल्प पर लगा लें और 30 मिनट तक के लिए लगे रहने दें ।
  • यह बालों के लिए बेस्ट मस्क होता है जो बालों को एकदम ही स्वस्थ बना देता है।

त्वचा को भी कई प्रकार के लाभ होते

  • आपकी त्वचा को कई प्रकार की समस्या से दूर रखने में नीम है काफी फ़ायदेमंद।
  • यह आपकी त्वचा को स्वस्थ रखता है और साथ ही मुहाँसे, चकत्ते, सोरायसिस और एक्जिमा जैसी समस्या से भी दूर रखता है।
  • नीम में एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टीक मौजूद होते हैं जिससे की यह त्वचा से रिलेटेड कई बीमारियों से लड़ता है।
  • नीम एंटी बैक्टीरियल होता है इसलिए यह किसी भी प्रकार के घाव को भर सकता है और बढ़ने से भी रोकता है।
  • नीम में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स एंटी एजिंग का काम करते है और साथ ही त्वचा को नुक्सान से बचाते है।
  • त्वचा और चेहरे पर किसी भी प्रकार की समस्या से राहत पाने के लिए आप नीम के ताजा पत्ते ले और उसका पेस्ट बना ले।
  • आप उस पेस्ट को अपनी त्वचा पर लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दे।
  • इसके बाद ठंडे पानी से त्वचा को धो ले। अच्छे परिणाम पाने के लिए एक दिन में एक बार ऐसा ज़रुर करे।
  • त्वचा के सेल्स को एक्टिव करने के लिए और त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए आप मसाज भी कर सकते है।

जुओं से राहत मिलती है

  • परजीवी विज्ञान अनुसंधान में पब्लिश एक न्यूज़ पपेर में यह बात सामने आयी है की नीम में कीटाणुनाशक तत्व होते है जिससे की यह एक बार में हीं जुओं की समस्या से राहत दिला देतें हैं ।
  • इसके अलावा भी नीम को सिर पर लगाने से कई प्रकार के फायदे होते है।
  • हफ्ते में कभी भी एक दो बार अपने बालों पर नीम के पत्तों का पेस्ट लगाए और कुछ देर के लिए बालों पर इस पेस्ट को लगे रहने दे और सूखने दे।
  • फिर इसे अच्छी तरह से गर्म पानी से धो लें और फिर कंघी से बालों को सवारें। लाभ ज़रुर होगा।

मुँह की समस्यायों में लाभदायक

  • नीम मुँह के मसूड़ों को स्वस्थ रखता है और साथ ही यह इसे बीमारियों से भी दूर रखता है।
  • नीम में मौजूद एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक तत्व मुँह से जुड़ी कई तरह की बीमारियों को दूर करने में फ़ायदेमंद होता है।
  • नीम के पत्तों का रस निकाल ले और फिर इसे अपने दांतो और मसूड़ों पर लगा ले और कुछ देर तक के लिए लगे रहने दे।
  • इसके बाद गुनगुने पानी या फिर गर्म पानी से कुल्ला कर ले, फायदा होगा।

ब्लड को साफ़ करने में मददगार

  • नीम में रक्त शोधक मौजूद होता है जो शरीर से विषहरण का काम करता है। जिससे हम स्वस्थ रह सकते है।
  • नीम बॉडी में विषाक्त पदार्थों से राहत दिलाता है और साथ ही बॉडी के अन्य हिस्सों में ऑक्सीजन के साथ साथ पोषक तत्वों को भी पहुंचाता है।
  • अगर आप स्वास्थ्य संबंधित किसी समस्या का निवारण ढूंढ रहे है तो आपको नीम का चाय पीना चाहिए।
  • अगर आप चाहे तो नीम के 2 या 3 नरम पत्तों को शहद लगाकर भी खा सकते है इससे भी फायदा होगा।
  • लेकिन ध्यान रखे की यह सिर्फ खाली पेट हीं खाना चाहिए ।

डायबिटीज के मरीज़ों के लिए फ़ायदेमंद

  • साल 2000 में फिजिओलॉजी औषधी इंडियन जर्नल में पब्लिश एक शोध में पाया गया है की नीम का सेवन डायबिटीज की शुरुआत को रोकता है और साथ ही डायबिटीज के मरीजों की शुगर को नियंत्रित रखता है।
  • नीम की गोलिया शुगर लेवल को कम करने में मदद करती हैं ।
  • डॉक्टर्स का भी कहना यही है की डायबिटीज के मरीजों को रोज़ाना नीम की गोलियों का सेवन करना चाहिए जिससे की उनका डायबिटीज कंट्रोल में रहे।
  • जिनका शुगर लेवल बढ़ा होता है उन्हें रोज़ सुबह खाली पेट 4 से 5 नीम की पत्तियों का सेवन करना चाहिए।

इस लेख में अापने पढ़ा नीम से होने वाले के फ़ायदों के बारे में जो आपके लिए फायदेमंद होंगे और आपको नीम का इस्तेमाल करने के बाद अच्छे परिणाम मिलेंगे।

Spread the love

You may also like...