आपने आज तक चाय पत्ती का उपयोग केवल चाय बनाने में किया होगा, जिससे आपकी सुबह की नींद उड़ सके। लेकिन क्या आप जानते है की चाय पत्ती आपके शरीर को और भी कई फायदे देती है। बहुत से लोगो को इस बारे में जानकारी नही होती है, लेकिन चाय पत्ती से चाय बनाने के अलावा आप और भी कई लाभ प्राप्त कर सकते है।

चाय पत्ती को अलग अलग तरह से इस्तेमाल करके आप कई तरह के हेल्थ बेनेफिट्स उठा सकते है। अमेरिकी आहार जनित एसोसिएशन के अनुसार यह आपको कैंसर तथा हृदय से जुड़ी बीमारियो से निजात दिलाने में भी सहायक है। आइए जानते है और भी कई Tea Leaves Benefits in Hindi.

Tea Leaves Benefits in Hindi: फायदों से भरपूर है चाय पत्ती

Tea Leaves Benefits in Hindi: Chai Patti Ke Sehatmand Fayde

रूखे बालो के लिए बेहतरीन कंडीशनर

यदि आपके बाल बहुत रूखे है तो आपको इसकी कंडीशनिंग करने की ज़रूरत होती है। यदि आप बाहर के कंडीशनर का इस्तेमाल नही करना चाहते है तो हम आपको बता दे की आप चाय पत्ती की मदद से भी आप अपने बालो को कंडीशन कर सकते है।

इसके लिए आपको 2 ग्लास गरम पानी में कम से कम 4-5 टी बेग्स डालने है और इसे ठंडा होने तक छोड़ देना है। अब आप शैम्पू करले और इस पानी को सिर पर लगाए। आपके बाल मुलायम तो होंगे ही साथ ही इसमे चमक भी आ जाएगी।

दिल की सेहत के लिए

ग्रीन टी में पाए जाने वाली लीफ, बुरे कोलेस्टरॉल को ख़तम करती है, जिससे दिल से जुड़ी बीमारियो को समस्या ख़तम होती है। युरोपियन द्वारा किए गये कुछ अद्धयनो में पाया गया की जो लोग नियमित हरी चाय पीते है उनमे दिल से जुड़ी बीमारिया होने की संभावना कम होती है।

दिल की बीमारी होने के पीछे का एक कारण सूजन (इन्फ्लेमेशन) भी है। लेकिन हरी चाय में मौजूद पॉल्यफोनोल्स इन्फ्लेमेशन को कम करते है साथ ही खून के थक्के बनने से भी रोकते है।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

ग्रीन टी लीव्स को आप किसी भी तरह से ले, जैसे कैप्सूल की तरह, उबाल कर, इसके हर रूप से आपको भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मिलेगा। हरी चाय में कटेचिंस भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो की एक तरह का एंटीऑक्सीडेंट है।

कुछ किए गये शोध के अनुसार कटेचिंस में डैमेज सेल्स को रिपेयर करने की क्षमता होती है जो की विटामिन सी और विटामिन ए से कई गुना ज़्यादा होती है। यदि आप ग्रीन टी लेते है तो रोगो के विकास का जोखिम कम हो जाता है। आप ग्रीन टी के और भी कई फायदे इस लिंक की मदद से देख सकते है।

बालो को अच्छा रंग दे

यदि आप अपने बालो को रंगने के लिए उसमे हरी मेहँदी लगाते है तो अब से उसमे चाय की पत्ती डालना शुरू कर दे। 3 कप चाय की पत्ती को 2 ग्लास पानी में डालकर उबलाए। आधा होने तक रहने दे। जैसे ही पानी आधा हो जाए पानी को छान कर चाय पत्ती अलग कर ले।

अब इस पानी में मेहँदी गलाकर रात भर रहने दे। अगले दिन इसे लगा ले, आपके बालो में बहुत अच्छा कलर आएगा।

अन्य फायदे इन्हे भी जानिए:-

  1. हरी चाय में यदि आप दालचीनी और नींबू का रस मिलाकर पीते है तो इससे आपको कब्ज की समस्या से राहत मिलती है।
  2. चाय पत्ती और पुदीना में पानी डालकर चाय बना ले, इस पानी को माउथ वाश की तरह इस्तेमाल करे। मूह की दुर्गंध दूर करने में यह फायदेमंद है।
  3. यदि आप दिन भर कंप्यूटर पर काम करते है तो रात को आँखे दर्द करने लगती है| ऐसे में गुनगुने पानी में 2 टी बेग्स भिगोये फिर इसे आँखो पर रखे। कुछ देर रखने के बाद हटा दे इससे आपकी आँखो को आराम मिलेगा।
  4. टी लीव्स फॉर स्किन भी है। इसे आप चीनी में मिलकर स्क्रब की तरह भी इस्तेमाल कर सकते है।
  5. 1 कप में ठंडा पानी ले और उसमे 1 टी बेग भिगोकर रख दे। फिर इस पानी को दाँत दर्द वाली जगह पर लगाए। दांतो में होने वाले दर्द से आपको छुटकारा मिल जाएगा।

 

एक नज़र में फायदे देखिए:-

 

कब्ज से राहत गैस से निजात
पेट दर्द से निजात पेट में जलन
कीड़े के काटने पर काले घेरे से निजात
मुहांसों के लिए बेहतरीन स्किन टोनर
वजन घटाए स्वस्थ बाल

उपर आपने जाना Tea Leaves Benefits in Hindi. आप भी चाय पत्ती के इस्तेमाल से उपरोक्त लाभ प्राप्त कर सकते है। लेकिन यदि आप गर्भवती है या आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है तो चाय पत्ती का ज़्यादा इस्तेमाल आपके लिए अच्छा नही है।

साथ ही किड्नी या लिवर में कोई समस्या होने पर भी इसका ज़्यादा सेवन नही करना चाहिए। क्योंकि कॅफीन का बहुत ज़्यादा इस्तेमाल आपके शरीर को नुकसान पहुचता है। इसलिए यदि आप इसे लेते है तो एक बात का ख़याल रखे की इसका अमौंड 300 मिलीग्राम से ज़्यादा ना जाए। नही तो आपको अनिद्रा, सिरदर्द जैसी समस्या हो सकती है।