Subscribe Whatsapp

भूत झोलकिया: दुनिया की सबसे तीखी मिर्ची से जुड़ी रोचक बाते

आज के लेख में हम आपको भूत झोलकिया के बारे में बता रहे है। यह नाम सुनकर आपको थोडा अजीब लग रहा होगा। लेकिन हम आपको बता दे की यह दुनिया की सबसे तीखी मिर्ची है। यह मिर्च इतनी ज़्यादा तीखी है की कोई इसे ज़रा सा भी चख ले तो अजीबो ग़रीब हरकत करने लगता है।

यह मिर्च साधारण मिर्च की तुलना में 400 गुना ज़्यादा टिकी है। कई लोगो ने इसे खाने का चॅलेंज भी स्वीकार किया लेकिन इसके खाने के बाद उनकी हालत बेहद खराब हो गयी। नेट पर दिखाई गयी कुछ वीडियोस में इसे खाने वाले लोगो ने कहा की वो अब मर ही जाएँगे।

इसी बात से आप इसकी तीखेपण का अंदाज़ा लगा सकते है। जब यह मिर्च इतनी ज़्यादा तीखी है तो ताजुब सी बात है की इससे कई तरह के लाभ प्राप्त हो सकते है। यह भारत के उत्तरी पश्चिम क्षेत्र में पाई जाती है। आइए आज के लेख में हम भूत झोलकिया के बारे में विस्तार से जानते है।
 

भूत झोलकिया मिर्च – सुरक्षा और सेहत दोनो में फायदेमंद

 
Bhut Jolokia Mirch- Ghost Pepper
 
भूत झोलकिया के अन्य नाम क्या है?

  • घोस्ट पेपर
  • घोस्ट चिली
  • U-Morok
  • रेड नागा
  • नागा झोलकिया
  • घोस्ट झोलकिया

 
महिलाओ की सुरक्षा करेगी

यह तीखी मिर्च अब महिलाओ की सुरक्षा करने में भी मदद करेगी। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ने महिलाओ के लिए एक सुरक्षा हथियार बनाया है, और उस हथियार में इस तीखी मिर्च का प्रयोग भी किया है। यह हथियार मुसीबत में महिलाओ की रक्षा करेगा।
 
उपद्रवियो को कंट्रोल कर सकेंगे

  1. यह तीखी Bhut Jolokia Mirchi केवल महिलाओ की सुरक्षा तक ही सीमित नही है। इसका प्रयोग बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स ने चिली ग्रीनेड बनाने में भी किया है।
  2. इस तरह सिक्योरिटी फोर्स दंगा करने वाले को नियंत्रित कर सकती है। इस चिली ग्रीनेड से निकालने वाली मिर्च उपद्रवी के आसू निकालकर, शरीर में जलन पैदा कर देती है।
  3. जैसे ही इस मिर्च को उपद्रवियो पर दागा जाता है आँख में बहुत ज़्यादा जलन होने लगती है। और दम भी घुटने लगता है।
  4. यह मिर्च इतनी ज़्यादा तीखी है की इसका थोडा सा स्वाद भी जीभ पर लगने पर व्यक्ति अजीबो ग़रीब व्यवहार करने लगते है।
  5. दरह्सल इस मिर्ची में पाए जाना वाला ओलियोरेसिन तत्व इसका स्वाद तीखा करता है।

 
हेल्थ से जुड़े फायदे भी है

  • इस मिर्ची से मेडिसिनल फायदे भी मिलते है। दरहसल इस मिर्च में मौजूद एक प्रमुख घातक कैप्साइसिन, आपके स्वास्थ्य को कई फायदे देता है।
  • इस मिर्च से सबसे बड़ी आशा यह लगी हुई है की शायद इससे कैंसर का इलाज ढूंड पाए। कैप्साइसिन के चिकित्सीय शोध से यह बात सामने आई है की यह प्रोस्टेट कैंसर की कोशिकाओ और फेफड़ों के कैंसर की कोशिकाओ को मार सकती है।
  • साथ ही यह ल्यूकेमिया सेल्स के विकास को भी रोकती है। यहा तक की भारत में कुछ लोग इस मिर्च से बने पाउडर से पेट की कई बीमारियो का इलाज भी करते है।
  • इसके अलावा कैप्साइसिन गठिया में होने वाले दर्द, रक्तचाप, मांसपेशियों में दर्द और तनाव, मोच लगना, पाचन से संबंधित समस्याए आदि में फायदेमंद है।

 
उपर आपने Bhut Jolokia मिर्च के बारे में जाना। इस मिर्च को पश्चिमी दुनिया में 2000 में पेश किया गया था। वर्ष 2007 में इसका नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया। कहा गया की यह पूरे ग्रह की सबसे तीखी मिर्च है।
 

Related Post

[related_posts]