Facebook Side Effects: फेसबुक पर ज्यादा समय गुजारना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक

फेसबुक इन दिनों लोगो से कनेक्ट होने का सुपरफास्ट माध्यम बन गया है| दिन पर दिन इस सोशल नेटवर्किंग प्लेटफार्म का इस्तेमाल बढ़ता ही जा रहा है|

आपको लगता है की फेसबुक के इस्तेमाल से आप अपने स्पेयर टाइम को अच्छे से बिता पाते है, अपने दोस्तों से  कनेक्ट हो पाते है| फेसबुक पर अकाउंट खोलने के आपको पैसे भी नहीं लगते है| इसलिए आप इसे अपने फायदे की चीज़ समझते है|

लेकिन क्या आप इस बात से परिचित है की फेसबुक का अधिक इस्तेमाल आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है| दरहसल येल यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया में 2013 से 2015 के बीच 5,208 लोगो पर फेसबुक के इस्तेमाल से मानसिक और शारीरक तौर पर होने वाले प्रभावों का आंकलन देखने के लिए शोध किया गया था|

इस शोध में पाया गया की फेसबुक का बढ़ता इस्तेमाल शारीरिक और मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य में भारी कमी लाता है| इस शोध के मुताबित जो लोग आम लोगो की तुलना में अपनी प्रोफाइल और स्टेटस में अधिकतर बदलाव करते रहते है उनमे दूसरे लोगो की अपेक्षा ज्यादा उदासीनता और तनाव देखने को मिलता है| आइये विस्तार से जानते है Facebook Side Effects on Health.

Facebook Side Effects: फेसबुक का इस्तेमाल पड़ सकता है स्वास्थ्य पर भारी

Facebook Side Effects: फेसबुक के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव

मानसिक दबाव के कारण शारीरिक स्वास्थ्य पर असर

  • आपने खुद ही महसूस किया होगा जब आपने फेसबुक पर कोई फोटो अपलोड की है तो आपके दिमाग में बस यही चलता रहता है की कितने लोगों ने इसे लाइक या कमेंट किया।
  • जो लोग फेसबुक पर पुरे वक्त लिखे पाने की सोच में लगे रहते है इससे उन पर मानसिक दबाव बनता है|
  • और ऐसे में यदि उनके किसी फ्रेंड ने उनकी पोस्ट लाइक ना की हो तो वो और दुखी हो जाते है|
  • इसके अलावा कुछ लोग इस चीज़ में इतना डूब जाते है की पूरा समय इसी पर लगा देते हैं जिसके चलते उनका शारीरिक स्वास्थ्य भी खराब रहता हैं।
  • The Facebook Effect आपकी दिमाग पर मानसिक तौर पर दबाव बनाता है।

फेसबुक से आप डिप्रेशन में भी जा सकते है

  • फेसबुक एक माध्यम है जहा हर रोज लोग कुछ न कुछ अच्छा शेयर करते है, जैसे यदि किसी का प्रमोशन हुआ हो, या किसी ने गाडी खरीदी हो, या फिर कोई अच्छी जगह घूमने गया हो|
  • यह सब चीज़े रोज रोज देखने के बाद आपको ऐसा लगता है की हर कोई आपसे काफी अधिक खुश और सबकी परिस्तिथि आपसे अच्छी है|
  • जब आपको हर कोई खुश नजर आता है तो आपको उनकी तुलना खुद से करने लगते है और दुखी होते है| ऐसा माहौल कई लोगो को डिप्रेशन का शिकार बनाता है।
  • यह एक गंभीर Ill Effects of Social Networking Sites है

ट्रिगर ईटिंग डिसऑर्डर

  • जो किशोरी अधिक से अधिक समय फेसबुक जैसे सोशल नेटवर्किंग साइट पर बिताते है उन्हें आहार विकार जैसे एनोरेक्सिया, बुलीमिआ होने की सम्भावना अधिक होती है|
  • हाल ही में इजरायल के शोधकर्ताओं ने देखा की जो लड़किया पूरा वक्त टीवी शो देखने के साथ पूरा वक्त ऑनलाइन बिताती है उनमे खाने के विकारो का जोखिम ज्यादा था|
  • शोधकर्ता का यह नहीं कहना है की सोशल नेटवर्किंग साइट से यह विकार होते है| लेकिन फेसबुक चलाते वक्त होने वाले अवसाद से इस विकार की संभावना बढ़ती है|
  • Social Networking Effects काफी खतरनाक होता है जो ईटिंग डिसऑर्डर को बढ़ावा देता है।

मन में हीन भावना का आना

  • न चाहते हुए भी कई बार मन में किसी के लिए ऐसी भावना आ ही जाती है की उसकी लाइफ इतनी अच्छी है और हमारी नहीं।
  • आज कल जिसे देखो वो कुछ भी करे उसे फेसबुक पर पोस्ट जरूर करते है इससे कुछ लोगो के मन में दूसरे लोगो की इतनी अच्छी लाइफ देख कर हीन भावना आती है।
  • और फिर ना चाहते हुए भी दूसरे की ज़िन्दगी से अपनी तुलना करने लगते है। आपको लगने लगता है की आपकी लाइफ इतनी अच्छी और कूल नहीं है।
  • एक्सपर्ट्स का कहना है की जो क्रोनिक यूज़र्स होते है वो दुसरे यूज़र्स की तुलना में ज्यादा खुश रहते है

रिश्तो मे दूरियों का कारण

  • देखा गया है की लोग फेसबुक पर कई फ्रेंड्स बनाते है और कई तरह के लोगो से जुड़े रहते है।
  • साथ ही सैकड़ों लोगो से बाते करते है, लेकिन इस वजह से लोग अपने घर वालो से बात करने का समय ही नहीं निकाल पाते है।
  • इसके चलते लोग अपने घर वालो को समय नहीं दे पाते है जिस वजह से रिश्तों में दरार आना शुरू हो जाती है।
  • इसके अलावा लोग फेसबुक पर अपने एक्स से भी कांटेक्ट में रहते है जिस वजह से रिश्ते कमजोर होने लगते है।
  • वैसे लोग सोचते है की डिजिटल प्लेटफार्म पर कनेक्ट रहने में कोई बुराई नहीं होती है लेकिन ऐसा नहीं यह इमोशनली आपके पार्टनर को यह हर्ट कर सकता है।
  • यह आज की जेनरेशन के लिए काफी सामान्य Negative Impact of Social Media है।

समय की बर्बादी होती है

  • एक समय तक फेसबुक का इस्तेमाल करना अच्छा होता है लेकिन इसके बाद यह लत में बदल जाता है।
  • लोग फेसबुक इस्तेमाल कर के इतने ज्यादा एडिक्टेड हो जाते है की हर थोड़ी थोड़ी देर में अपना फेसबुक अकाउंट चेक करने लगते है।
  • इसी के साथ उनकी आदत बन जाती है की वो फेसबुक चलाने के लिए अपने महत्वपूर्ण काम को भी टाल देते है।
  • और लोग अपने कीमती समय को फेसबुक चलाने में बर्बाद कर देते है।
  • इसका सबसे बुरा असर स्टूडेंट्स की लाइफ पर पड़ता है। क्योंकि उनकी ऐज में अक्सर उन्हें लत काभी जल्दी लगती है और उन्हें इस बात का पता भी नहीं चलता है।
  • इससे वे अपनी पढ़ाई पर व्यतीत करने वाला समय फेसबुक को चेक करने में गवा देते है।

ऊपर आपने जाना Facebook Side Effects on Health. हम यह नहीं कह रहे है की आप फेसबुक का इस्तेमाल बंद कर दे, लेकिन इसे कम जरूर करे। इसके अधिक इस्तेमाल से शारीरिक एक्टिविटीज कम हो जाती है जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है।


You may also like...