टाइफाइड एक तरह का संक्रामक रोग है जो कि किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है| किन्तु बच्चो का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है इसलिए यह बच्चो को अधिक होता है|

इस बुखार को मियादी बुखार के नाम से भी जाना जाता है| यह दूषित पानी एवं भोजन से फैलने वाला रोग है। इसके होने का कारण ‘साल्मोनेला टाइफी‘ नामक बैक्टीरिया का संक्रमण होता है।

एक बार जैसे ही बैक्टीरिया शरीर में प्रविष्ट होते है, वे तुरंत वृद्धि करते हैं और रक्तप्रवाह में फ़ैल जाते हैं| इससे भिन्न-भिन्न प्रकार के लक्षण दिखाई देते है| इस बीमारी के मुख्य लक्षण की बात करे तो इसमें तेज बुखार आता है, जो काफी दिनों तक बना रहता है।

यह बुखार कम-ज्यादा होता रहता है, किन्तु सामान्य नहीं हो पाता| बच्चों में टाइफाइड के कारण और लक्षण के बारे में जाने, पढ़िए Typhoid Fever in Kids.

Typhoid Fever in Kids- जानिए लक्षण, कारण और बचाव के तरीके

Typhoid Fever in Kids

टाइफाइड के लक्षण

  • तेज बुखार
  • सूखी खाँसी
  • सिरदर्द व बैचेनी
  • अतिसार या कब्ज
  • पेट का फूलना
  • जीभ पर परत जमना
  • कमजोरी और थकावट
  • कपकंपी के साथ ठंड लगना
  • भूख ना लग्न और पेटदर्द
  • छाती व पेट पर हलके गुलाबी रंग के दाने

टाइफाइड के कारण

  • टाइफाइड कई बार गंदे पानी को पीने से तथा खुले खाद्य पदार्थों के सेवन से होता है|
  • टाइफाइड से पीड़ित व्यक्ति के मल, मूत्र तथा रक्त के यह बैक्टेरिया होते है| पीड़ित व्यक्ति के मल मूत्र से दूषित पानी के कारण भी यह रोग फैलता है|
  • टाइफाइड से पीड़ित व्यक्ति का झूठा खाना खाने से भी यह रक्त में फ़ैल सकता है|
  • बच्चे जब आपस में खांसते हुए, एक दुसरे के हाथों को छुते रहते हैं तो इससे भी टाइफाइड की संभावना बढ़ जाती है|

बच्चो का इस तरह करे टाइफाइड से बचाव

टाइफाइड बुखार के रहने का समय 1 महीना है| यह आपके शरीर को पूरी तरह से कमजोर बना देता है| इसलिए बेहद जरूरी है की आप अपने बच्चों पर खास ध्यान दे|

  • अपने बच्चे को हमेशा साफ सुथरा पानी इस्तेमाल के लिए दे| स्कूल जाने पर घर से ही बोतल भर के दे|
  • हमेशा पानी को छानकर भरे, और संक्रमित मौसम में पानी को उबालकर और फिर ठंडा करके दे|
  • बच्चों को समझाएं कि खुले में मिलने वाली चीज़े ना खाये जैसे की गोलगप्पे, चाट आदि|
  • भोजन को हमेशा मक्‍खी-मच्‍छर से दूर रखें। और बच्चे को घर से बना हुआ स्नैक्स ही दें।
  • बच्चे को सिखाये की खाना खाने से पहले और बाथरूम का प्रयोग करने के बाद डिसिन्फेक्टेंट साबुन से हाथ अच्छे से साफ़ करना चाहिए|
  • आप भी हमेशा खाना बनाने से पूर्व अपने हाथ साबुन से धोएं साथ ही रसोईघर के बर्तन साफ़ रखे|