मधुमेह को अंग्रेजी में डायबिटीज कहा जाता है| यह दो प्रकार के होते हैं, टाइप 1 और टाइप 2| टाइप 1 मधुमेह में इंसुलिन का बनना कम हो जाता है या फिर बनना बंद हो जाता है|

और इसे काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकता है| वही टाइप 2 मधुमेह में ब्लड शुगर लेवल बहुत ज्यादा बढ़ जाता है, जिसे नियंत्रण करना बहुत मुश्किल है।

टाइप 2 से पीड़ित मरीजों को बहुत ज्यादा थकान महसूस होती है, आँखों को नुकसान होने लगता है आदि| इसे और बढ़ने से रोकने के लिए आपको अपने वजन को नियंत्रित रखना

हालांकि, ऐसा करना थोड़ा मुश्किल होता है| क्योंकि आप जल्दी थक जाते है| लेकिन यह यह नामुमकिन नहीं है। इसमें आपकी मदद करने के लिए आज के लेख में हम आपको बता रहे है Weight Loss Tips for Diabetics Type 2.

Weight Loss Tips for Diabetics Type 2: वजन घटाने के लिए आजमाएं

Weight Loss Tips for Diabetics Type 2

फिज़िकल एक्टिविटी बढ़ाएं

  • प्रतिदिन कम से कम 30-45 मिनट का व्यायाम करे, क्योंकि फिज़िकल एक्टिविटी बहुत जरुरी है|
  • आप कई चीज़े कर सकते है जैसे टहलना, सीढ़ियां चढ़ना, साइकिल चलाना आदि|
  • यदि आप लगातार व्यायाम नहीं कर पा रहे है, तो इसे पूरे दिन में कई हिस्सों बाँट कर करे|
  • इससे रक्त में शर्करा का लेवल भी कम होगा, साथ ही वज़न कम करने में भी मदद मिलेगी।

शुगर बिल्कुल छोड़ दें

  • वैसे तो मधुमेह होने का कारण मीठा खाना नहीं होता, लेकिन एक बार यह हो जाये तो मीठे से परहेज जरुरी है|
  • यदि आपको टाइप 2 मधुमेह है तो अपनी डाइट से शुगर पूरी तरह से हटा दे|
  • जैसे की टॉफी, शुगर वाली कॉफी, जूस, नारियल पानी आदि|
  • जब आप डाइट से मीठा हटा देंगे तो ब्लड शुगर लेवल में काफी फर्क पड़ेगा और वेट लॉस में भी मदद मिलेगी।

नाश्ता स्किप ना करें

  • कई लोग यह सोचकर नाश्ता नहीं करते, उन्हें लगता है कि ब्रेकफास्ट ना करके वो कैलोरीज को कम कर लेंगे|
  • किन्तु हकीकत यह है की टाइप 2 डायबिटीज़ के मरीज़ों को ब्रेकफास्ट कभी भी स्किप नहीं करना चाहिए|
  • ब्रेकफास्ट करने से मेटाबॉलिज़म तो सुधरता ही है साथ ही साथ आप एनर्जेटिक फील करते है|
  • अपने ब्रेकफास्ट में कम कैलोरी वाले तथा प्रोटीन और फाइबर युक्त आहार शामिल करे|

तनाव से बनाले दुरी

  • तनाव मधुमेह के मरीज़ों के लिए अच्छा नहीं होता, क्योंकि इससे वजन भी बढ़ता है और बीमारी भी|
  • ज्यादा तनाव लेने से मधुमेह के मरीज़ का रक्त चाप भी बढ़ सकता हैं, और ब्लड ग्लूकोस लेवल भी।
  • इसलिए जितना हो सके आपको तनाव से दुरी बना लेनी चाहिए, इससे आपका वजन कम तो नहीं होगा लेकिन बढ़ेगा भी नहीं|