Bajre Ke Fayde: मधुमेह और रक्तचाप जैसी बीमारी में फायदेमंद बाजरा

सर्दियों के दीनो में लोग बाजरा की रोटी और सरसों का साग बड़ी शौक से खाना पसंद करते थे| पहले के जमाने में लोग गेंहू के अलावा बाजरा, जौ और चना की रोटी भी खाते थे| और आज के समय में लोग सिर्फ़ गेंहू की रोटी खाना पसंद करने लगे है| लेकिन क्या आप जानते है की बाजरा की रोटी या फिर इससे बने पकवान खाने से हमारा शरीर कई प्रकार की बीमारियो से दूर रह सकता है?

बाजरे को अँग्रेज़ी में मिलेट कहा जाता है|  बाजरे में प्रोटीन और आयरन बहुत अधिक मात्रा में होता है जिससे यह शरीर में टॉक्सिन्स बनने नही देता है| साथ ही इसकी प्रकृति गरम होती है,  इसलिए गठिया और दमा के रोगी को इसका सेवन करना फायदेमंद होता है|

बाजरे के सेवन से हमारे शरीर की हड्डिया मजबूत बनती है| इसमे जो भी उर्जा होती है उससे शरीर अधिक शक्तिशाली और स्फूर्तिवान बनता है| इसमे उपस्थित मैग्नीशियम, कैल्शियम, फास्फोरस, फाइबर, विटामिन बी और एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर के अच्छे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरुरी है|

बाजरा शरीर को उच्च रक्तचाप, हृदय की कमज़ोरी, अस्थमा, डिप्रेशन आदि रोगो से बचाने में मदद करते है| यह इतना ज्यादा फायदेमंद है तो चलिए विस्तार से जानते है Bajre Ke Fayde.
 

Bajre Ke Fayde: निम्न बीमारियो में फायदेमंद है बाजरा (मिलेट)

 
Bajra Benefits in Hindi
 
बाजरे को लोग अपने आहार में कई तरह से प्रयोग करते है जैसे Bajre Ki Roti, इडली, छिला, उपमा, सूप आदि बनाकर| इसकी किसी भी मात्रा को ले यह शरीर के लिए बहुत फायदेमंद  होता है| बाजरे को अधिक पोषण वाला आनाज माना जाता है| इसमे वसा की बहुत कम मात्रा होती है जिससे यह पचने में आसान होता है जो की वजन और मोटापे को कम करने में सहायक होता है|
 

मधुमेह के लिए फायदेमंद

शरीर के रक्त में शर्करा की मात्रा अधिक होने से लोग मधुमेह रोग से पीढित हो जाते है| ऐसे  में बाजरे का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है| इसके सेवन से रक्त से ग्लूकोस की मात्रा कम होती है जिससे मधुमेह रोगियो को आराम मिलता है| इसके लिए बाजरे की रोटी या फिर इसे रात में भिगोकर रख दे और सुबह खाली पेट खाए|
 

कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करे

बाजरे में लेसीथिन और मेथिओनीन नामक अमीनो एसिड की मात्रा पाई जाती है| यह एसिड यकृत से अतिरिक्त वसा को कम करने में सहायक होता है जिससे शरीर से ब्लड कोलेस्टरॉल की मात्रा कम हो जाती है| साथ ही शरीर में एच डी एल की मात्रा बढ़ने में मदद मिलती है|
 

शरीर को स्वस्थ बनाने के लिए

शरीर को स्वस्थ और शक्तिशाली बनाने के लिए अमीनो एसिड की बहुत अधिक आवश्यकता होती है| ऐसे में बाजरे का सेवन करना शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है| बाजरे में अमीनो एसिड की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है इसके अलावा यह शरीर में नाइट्रोजन के संतुलन में भी सहायक होता है|
 

 उच्च रक्तचाप को कम करे

बाजरे में उपस्थित मैग्नीशियम और विटामिन बी हमारे शरीर के उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में सहायक होता है| साथ ही इसमे उपस्थित मैग्नीशियम दिल और हड्डियो से संबंधित बीमारियो से भी दूर रखता है| इसके अलावा दूध पिलाने वाली माताओ में दूध की कमी के लिए यह टॉनिक का कम करता है|
 

 शांति प्रदान करे

अत्यधिक थकान और कामकाज की वजह से शरीर में थकान और कमज़ोरी महसूस होने लगती है| इसके अलावा जिन लोगो का मन कभी भी शांत नही रहता है उनके लिए बाजरा बहुत ही लाभकारी होता है| बाजरे का सेवन करने से मन को प्राकृतिक रूप से शांति का एहसास होता है| इसके अलावा उत्सुकता, अवसाद और नींद ना आने की परेशानियो में भी बाजरा फायदेमंद होता है|
 

एनीमिया रोग को दूर करे

शरीर में अधिक खून की कमी होने से व्यक्ति एनीमिया का शिकार हो जाते है| ऐसे में बाजरे का सेवन शरीर में खून की कमी को पूरा करने में मदद करता है| बाजरे में आयरन की बहुत अधिक मात्रा होती है जिससे यह शरीर में खून की मात्रा को बढ़ने में सहायक होता है|
 

 हृदय के लिए फायदेमंद

हृदय और दिल की बीमारी से पीड़ित व्यक्तियो के लिए बाजरे का सेवन लाभकारी होता है| इसके सेवन से शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है साथ ही यह ब्लड के थक्के जमने से रोकता है| भले ही देश में इसकी उपज कम होती है लेकिन इसकी गुणवत्ता बहुत अधिक होती है|
 

हड्डियो को मजबूत बनाए

बाजरे में कैल्शियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिससे यह हमारी हड्डियो को मजबूत बनाने में सहायक होता है| इसके अलावा यदि आप गठिया और ऑस्टियोपोरोसिस जैसे रोगो से दूर रहना चाहते है तो बाजरे से बने आहारो का सेवन करना चाहिए|

बाजरे में कैल्शियम, पोटैशियम और हड्डियो के ज़रूरी सभी ज़रूरी मिनरल्स पाए जाते है जो की हड्डियो को मजबूती प्रदान करते है और उनके विकास में भी सहायक होते है| इसके अलावा बढ़ते बच्चो और बूढ़े हो रहे लोगो की हड्डियो के लिए भी बाजरा एक प्राकृतिक स्त्रोत का कम करता है|
 

मोटापा और वजन को कम करे

अनियमित और बाहर के अधिक फास्ट फुड के सेवन से हमारे शरीर में वसा की मात्रा बहुत अधिक हो जाती है| जिससे लोगो का वजन बहुत अधिक बढ़ जाता है और मोटापे का शिकार भी हो जाते है| ऐसे में बाजरा एक बेहतरीन डाइट का काम करता है| बाजरे में अमीनो एसिड ट्रिप्टोफेन की अधिकता होती है जिससे बाजरे का सेवन करने से लोगो को अधिक भूख नही लगती है|

बाजरे के सेवन से व्यक्ति ओवरीटिंग से बच जाता है जो की वजन को कम करने में सहायक होता है| इसके अलावा बाजरा शरीर में धीमी गति से पचता है जिससे यह शरीर में कैलोरी की मात्रा को बढ़ने नही देता है|

बाजरे में रेशे होते है जिसकी वजह से भी पेट भरे होने का एहसास होता रहता है| इस तरह से यह शरीर के वजन और मोटापे को कम करने में सहायक होता है|
 

एमिनो एसिड से भरपूर है बाजरा

बाजरे में एमिनो एसिड की अधिक मात्रा पाई जाती है जो की शरीर को कामकाज के अनुकूल बनाने में मदद करती है| यह शरीर के सभी उत्तको की सही तरह से मरम्मत करी है| बाजरे में ट्रिप्टोफेन, वालिने, वॅलिन, आइसोल्यूसिन और मेथियोनीन अमीनो एसिड की अधिक मात्रा होती है|

  1. आइसोल्यूसिन शरीर में मांसपेशियों की सही देखभाल, खून के बनने, हड्डियो के गठन और त्वचा के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है|
  2. वालिने एक बहुत अच्छा अमीनो एसिड होता है जो की चयपचय की प्रक्रिया को मजबूत बनाने, मांसपेशियों के समन्वय और उत्तको की सही तरह से देखभाल में मदद करता है| साथ ही यह हमारे शरीर में नाइट्रोजन के संतुलन को भी बनाए रखता है|
  3. इसके अलावा मेथियोनीन अमीनो एसिड्स शरीर की बहुत सी क्रियाओ को करने में मदद करता है, शरीर से वसा की मात्रा को कम करता है साथ ही शरीर में सलफर की मात्रा को बनाए रखने में मदद करता है| शरीर को कई प्रकार की परेशानियो से बचाने के लिए सलफर, शरीर में ग्लूटॅतियोन नमक एंटी ऑक्सीडेंट के उत्पादन में मदद करता है|

 

 त्वचा के लिए फायदेमंद

शरीर को कई प्रकार की बीमारियो से रोकने के अलावा बाजरा हमारी त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है| बाजरे का सेवन करने से हम एंटी एजिंग की समस्या से बच सकते है| बाजरे में अमीनो एसिड्स लेसीथिन और मेथिओनीन पाया जाता है जो की त्वचा के उत्तको के रखरखाव में मदद करता है| इस वजह से यह त्वचा में होने वाली कई प्रकार की समस्याओ जैसे ड्राईनेस, झाइया और ब्लैकहेड्स को भी दूर करने में सहायक होता है|
 

पाचन तंत्र को मजबूत करे

बाजरे में डाइयिटरी फाइबर की बहुत अधिक मात्रा होती है जिससे यह  हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करता है साथ ही पेट को कब्ज से राहत दिलाता है| इस तरह रोजाना बाजरे का सेवन करने से व्यक्ति पेट से संबंधित कई प्रकार की परेशानियो से दूर रह सकता है|
 

अन्य फायदे इन्हें भी जानिए:-

  1. बाजरे की रोटी खाने से महिलाओ में कैल्शियम की कमी नही हो पाती है| इसके अलावा इसका सेवन, महिलाओ में प्रसव के समय होने वाले दर्द को रोकने में मदद करता है|
  2. इसके अलावा बाजरे का सेवन करने से माइग्रेन की वजेह से होने वेल सरदर्द को दूर करने में मदद मिलती है|
  3. बाजरे का सेवन हमारे शरीर और मस्तिष्क को स्वस्थ रखता है|
  4. बाजरे में उपस्थति फॉस्फरस की मात्रा वसा के पाचन और उत्तको की सही तरह से मरम्मत करने में सहायक होता है|
  5. बाजरे का सेवन करने से लीवर से संबंधित परेशानियो से निजाद मिलती है| इसलिए लीवर को सुरक्षित रखने के लिए भी बाजरा खाना लाभकारी होता है|
  6. बाजरे में उपस्थित फाइबर की मात्रा कैंसर (स्तन कैंसर) से लड़ने में मदद करती है|

 
उपर आपने जाने Bajre Ke Fayde. यदि आप अपने शरीर को उपर दी गयी बीमारियो से बचाना चाहते है तो आज से ही अपने आहार में बाजरे का इस्तेमाल करना शुरू करे और रहे स्वस्थ|

People also viewed: