आपने देखा होगा की प्यार में पड़े युवा अक्सर एक दूसरे का हाथ थामकर घूमते है। हाथो में हाथ पकड़ना टेंशन को छूमंतर करने और अपने प्यार का एहसास दिलाने का सबसे आसान है|

भीड़ में खोने के अहसास से भी अक्सर लोग अपने साथी का हाथ पकड़ लेते हैं। आपने खुद ही देखा होगा किसी भी भीड़भाड़ वाले जगह पर यदि कोई कार्यक्रम होता है तो लोग अक्सर लोग अपने पार्टनर का हाथ पकड़ लेते है|

इसके अलावा शादी या पार्टी में जाते वक्त भी कुछ लोगो को अपने पार्टनर का हाथ पकड़ना अच्छा लगता है|

वैसे यह जरुरी नहीं है की पार्टनर ही एक दूसरे का हाथ पकड़ते है| रोड क्रॉस करते वक्त बच्चे अपने पेरेंट्स का हाथ पकड़ लेते है| भीड-भाड़ के बीच से निकलने के कई दोस्त एक-दूसरे का हाथ थाम लेते हैं, यहाँ तक की अजनबी लोग भी इस तरह की सिचुएशन में किसी व्यकित का हाथ पकड़ लेते है|आइये इसके पीछे की वजह जानने की कोशिश करते है|

Holding Hands रिश्ते को मजबूत बनाने में बेहद कारगर

Holding hands with partner

वैज्ञानिक इसका पता लगा रहे है

  • सालों से वैज्ञानिक इसका पता लगाने के लिए रिसर्च कर रहे है की आखिर चलते-फिरते या फिर किसी से मिलने के वक्त हाथ पकड़ने के पीछे का साइंस क्या है?
  • वे यह भी जानने की कोशिश कर रहे है की दो लोगो के हाथ पकड़ने से उनके दिल और दिमाग पर किस तरह का असर पढता है|
  • जानकारों की माने तो हाथ पकड़ने का मतलब सामान्यतः प्यार दर्शाना, सामने वाले को सुरक्षा या कम्फर्ट का अहसास दिलाना आदि होता है|

रिसर्च में क्या आया सामने?

यूनीवसर्टिी ऑफ कोलोराडो से पावेल गोल्डस्टीन ने बताया, “आपका पार्टनर जितना हमदर्द होगा आपकी पीड़ा में यह उतना ही प्रभावी होगा और जब दोनों एक दूसरे के स्पर्श को महसूस करेंगे तो उनके बीच इस तार के मिलने की गति भी उतनी ही तेज होगी।”

हाथ पकड़ने से पार्टनर की तकलीफ होती है कम

एक नए अध्ययन से यह बात सामने आई है की यदि आपका पार्टनर तकलीफ में हो और उस वक्त यदि आप उनका हाथ पकड़ते हैं तो उनकी तकलीफ कम हो जाती है, क्योंकि इस वक्त आपके दिल और सांसों के तार उनसे मिल जाते हैं|

  • जब दो प्यार करने वाले एक दूसरे का हाथ थामते है तो उनके दिल और दिमाग की गति लगभग समान हो जाती है|
  • प्रसव पीड़ा के दौरान यदि पति, पत्नी का हाथ थामते है तो इससे पत्नी को पीड़ा कम होती है| प्रसव पीड़ा से सम्बंधित जानकारी, आप यहाँ प्राप्त कर सकते है|