इन्फ्लुएंजा (फ्लू) एक श्वसन संबंधी बीमारी है| इस संक्रामक बीमारी को श्लैष्मिक ज्वर भी कहा जाता है| यह इन्फ्लुएंजा वायरस के कारण होती है।

आपको बता दे की इन्फ्लुएंजा वायरस चार प्रकार के होते है A, B, C और D; जिसमे से A और B मुख्य प्रकार है| हर के प्रकार के भिन्न-भिन्न प्रभाव है| रोगी जब इन वायरस के द्वारा होने वाली रुग्णताओं से प्रभावित हो जाता है तो उसे  समग्र रूप से “फ्लू कहा जाता है।

इन्फ्लुएंजा से रोगी में होने वाले प्रभाव साधारण से लेकर बहुत गंभीर हो सकते है| ये सब कई चीज़ो पर निर्भर करता है जैसे वायरल का प्रकार, रोगी की आयु, और रोगी का स्वास्थ्य शामिल है।

इस फ्लू से बचने के लोग वैक्सीन का सहारा लेते है| लेकिन कल के लेख में हमने देखा की कुछ लोगो को इसके भी साइड इफेक्ट्स होते है| इसलिए आज के लेख में हम आपको बता रहे है Home Remedies for Flu.

Home Remedies for Flu – फ्लू से निजात दिलाने में मददगार

Home Remedies for Flu

शहद

  • शहद प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है और सामान्य फ्लू के लक्षणों को कम करने में मदद करता है|
  • इसके अलावा इसमें जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो चिकित्सक प्रक्रिया को तेज कर देते है|
  • एक दिन में कई बार एक गिलास पानी के साथ शहद का एक बड़ा चमचा ले लो।
  • प्रयोग के लिए एक कप गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाएं और पी ले| दिन में तीन बार आपको यह प्रयोग करना है|

अदरक

  • अदरक कई स्वास्थ्य समस्याओं के उपचार में फायदेमंद प्राकृतिक उपचार रहा है|
  • इसमें मौजूद एंटी इन्फ्लैमटॉरी गुण इन्फ्लूएंजा से लड़ने में भी मदद करते है|
  • अदरक की प्रकृति गर्म होती है जिससे यह फ्लू के विभिन्न लक्षणों का इलाज करती है।
  • आप अदरक का काढ़ा भी पी सकते है और इसके टुकड़ो को भी चबा सकते है|

नींबू

  • नींबू में जीवाणुरोधी, एंटीवायरल, एंटिफंगल और एंटी इन्फ्लैमटॉरी गुण मौजूद होते हैं यह शरीर में फ्लू के वायरस को कम करके इसके लक्षणों से निजात दिलाता है|
  • एक गिलास गर्म पानी में नींबू निचोड़े और इसे हर रोज दिन में तीन से चार बार पिए जब तक इसके लक्षण कम नहीं हो जाते|
  • आप चाहे तो इसमें स्वाद के लिए थोड़ा शहद भी मिला सकते है|

इन बातो का भी रखे ख्याल:-

  1. पानी में अजवायन डालकर, पानी को आधा होने तक उबाल लें। इस पानी को दिन में कई बार पीते रहे|
  2. इस दौरान काम करने के बजाय घर में आराम करे, और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले आहार का सेवन करे|
  3. ठंडा और बासी खाने से दुरी बना ले, अपने आहार में अश्वगंधा और कालमेघ जैसी जड़ी बूटियां शामिल करे| यह शरीर का तापमान कम करने में मददगार हैं|