दाल हमारी सेहत के लिए बहुत ही लाभकारी होती है। दालों में मूंग दाल को हम सभी जानते है। यह अपने विशेष गुणों के कारण स्वास्थ्य के लिए अच्छी मानी जाती है। मूंग दाल काले, हरे, पीले और सफेद रंग की होती है। जिनमे से हरी मूंग को ज़्यादातर लोग अपने दैनिक जीवन में इस्तेमाल करते है।

मूंग दाल पोष्टिक गुणों और विटमिन से भरपूर होती है इसलिए रोगियो के लिए यह दाल सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है। इसके अलावा पोष्टिक गुणों के कारण यह बच्चो के शारीरिक और दिमागी विकास के लिए उपयुक्त है। मूंग की दाल को हम कई तरीक़ो से प्रयोग कर सकते है।

कुछ लोग इसके फीके स्वाद के कारण इसे खाना पसंद नही करते है। लेकिन हम आपको बता दे कि इसे सभी दालों की तरह अलग तरीके से बनाकर स्वादिष्ट बनाया जा सकता है। इसके अलावा मूंग की दाल के चीले, मूंग दाल का हलवा, पराठे, पापड़, बढ़ी और लड्डू भी बनाए जा सकते है।

मूंग की दाल में कैलोरी की बहुत कम मात्रा होती है, शायद आपको पता होगा कि पकी हुई मूंग दाल में 100 से भी कम कैलोरी होती है। यह दाल ना केवल आपके स्वास्थ के लिए अच्छी होती है। बल्कि त्वचा और बालो की देखभाल में भी मदद करती है। आइये अब हम जानते है Mung Bean Benefits in Hindi.

 

Mung Bean Benefits in Hindi: दाल से मिलते है अनेक लाभ

Mung Bean Benefits in Hindi

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करे

उच्च रक्तचाप से पीड़ित व्यक्तियो के लिए हरी मूंग की दाल बहुत ही फायदेमंद होती है। यह शरीर के कोलेस्टरॉल के लेवल को भी नियंत्रित करने में मदद करती है। इसका सेवन करने से शरीर से सोडियम का प्रभाव कम हो जाता है। जिससे ब्लड प्रेशर बहुत अधिक नही बढ़ पाता है। ऐसे में आपको एक हेल्थी और एक्टिव जिंदगी जिने में आसानी होती है।

इसके साथ ही यह हमारे ब्लड से कोलेस्टरॉल और शर्करा की मात्रा को भी नियंत्रित करने में मदद करती है।

 

आइरन का अच्छा स्त्रोत मूंग दाल

मूंग दाल में कई प्रकार के योगिक होते है जिनमे से एक है आइरन। आइरन हमारे शरीर में खून की कमी को पूरा करता है। इस वजह से मूंग दाल को अपने आहार में ज़रूर शामिल करना चाहिए। आमतौर पर शाकाहारी भोजन करने वाले लोग कम आइरन युक्त भोजन का सेवन करते है। इसका सेवन शरीर में आइरन की कमी को पूरा करने में मदद करता है जिससे हम एनीमिया के ख़तरे से बच सकते है।

 

वजन कम करने में मदद करे

आजकल लोग अपने बढ़ते वजन से बहुत परेशान है और वजन को कम करने के लिए कई प्रकार के उपाय भी अपनाते है। ऐसे में मूंग दाल का सेवन वजन को कम करने में कारगर है। मूंग दाल का सेवन शरीर से न केवल कैलोरी की मात्रा कम होती है बल्कि लंबे समय तक भूक लगना भी बंद हो जाती है।

रात के समय में चपाती के साथ यदि आप एक कटोरी मूंग दाल खाएँगे तो आपको भरपूर पोषण मिलेगा। यह जल्दी पच जाती है इसलिए इसे रात में भी खाया जा सकता है। अंकुरित मूंग डाल को आप यदि रोजाना सुबह खाए तो यह आपको ओवर-ईटिंग से बचाएगा जिससे आपको वजन को कम करने में मदद मिलेगी।

 

स्किन कैंसर के ख़तरे को कम करे

शायद आप जानते होंगे कि मूंग दाल का सेवन करने से हम स्किन कैंसर से बच सकते है। जब भी हमारी त्वचा सूर्य की किरणों या फिर पर्यावरण प्रदूषण के संपर्क में आती है तो कई प्रकार के हानिकारक फ्री-रेडिकल्स त्वचा में प्रवेश कर जाते है। जिससे हमारी त्वचा को बहुत नुकसान पहुचता है, लेकिन यदि आप अपने आहार में मूंग दाल को शामिल करते है तो इसमे उपस्थित एंटी-ऑक्सीडेंट गुण की वजह से त्वचा को इन बाहरी फ्री-रेडिकल्स से छुटकारा मिलता है। इस तरह से त्वचा को प्रदूषण के प्रवाह से होने वाले स्किन कैंसर से बचाया जा सकता है।

 

मूंग दाल के इन फायदों को भी जाने

  1. चावल और मूंग दाल की खिचड़ी कब्ज और दस्त से राहत दिलाने में मदद करती है।
  2. टाइफाइड से पीड़ित व्यक्ति को बिना मसालेदार मूंग की दाल का सेवन करना चाहिए जिससे इस बीमारी से बचा जा सके।
  3. मूंग के छिलके वाली दाल को पीसकर त्वचा पर लगाने से दाद, खाज-खुजली में आराम मिलता है।
  4. जिन लोगो को बहुत अधिक पसीना आता है उनके लिए मूंग की दाल को पीसकर बने लपे से शरीर की मालिश करने से जल्दी लाभ मिलता है।
  5. तेज बुखार रहने पर व्यक्ति को मूंग की दाल का सेवन करना चाहिए जिससे बुखार ठीक होने में मदद मिलती है और शरीर को ताक़त भी मिलती है।
  6. बचपन, गर्भावस्था और स्तनपान करते समय इसका लगातार किया जाने वाला सेवन पोषण प्रदान करने के साथ-साथ स्वस्थ रखने में भी मदद करता है।

आज अपने जाना Mung Bean Benefits in Hindi. अब आप भी इस दाल को अपनी दिनचर्या में अपनाये और स्वस्थ रहे।