One Sided Love in Hindi: क्या करें जब हो जाए एकतरफा प्यार

प्यार एक बहुत हीं खूबसूरत इमोशन होती है। अगर प्यार दो लोगों के मध्य हो दोनों साइड बराबर हो तो इससे दुनिया की हर ख़ुशी हमें मिल सकती है। लेकिन अगर प्यार दोनों साइड से होने के बजाय एकतरफा हो जाए तो यह सिर्फ गम हीं देता है।

किशोरावस्था तथा युवावस्था की उम्र में प्रेम और आकर्षण होने की संभावना ज्यादा होती है। जिस प्रेम कहानी में प्रेमी-प्रेयसी के बीच बहुत ज्यादा प्रेम हो उस प्रेम कहानी में दोनों हीं की जिंदगी में हमेशा खुशियों के पलों की भरमार रहती हैं। दूसरी तरफ एकतरफा प्यार में प्रेमी और प्रेयसी दोनों हीं का जीवन में दर्द में होता है।

एकतरफा प्यार में नाकामियां बहुत ज्यादा हाथ लगती है और इसमें नाकाम हुए प्रेमी जब अपनी लव इंट्रेस्ट से प्रेम निवेदन में नकार दिए जाते हैं तो वो अपने आप को आसानी से संभाल भी नहीं पाते हैं और टूट कर रह जाते हैं।

एकतरफा प्रेम को समझने से पहले हमें इसके हर बिंदुओं को विस्तार से समझना चाहिए। आज इस लेख में हम इसी पर विस्तार में चर्चा करेंगे। पढ़ें One Sided Love in Hindi.

One Sided Love in Hindi: एकतरफा प्यार को बढ़ावा दे कर अपनी जिंदगी बर्बाद ना करें

One Sided Love in Hindi

प्यार की ख्वाहिश

  • दुनिया की इस भीड़ में हर इंसान खुद में कहीं ना कहीं अकेला होता है। हर इंसान की ऐसी ख्वाहिश रहती है कि उसे जिंदगी में कोई ऐसा मिले जिसे वो प्यार करे और कोई उसे भी बिलकुल उसके जैसा हीं प्यार करे।
  • जब दुनिया की इस भीड़ में हमें जब कोई ऐसा चेहरा नजर आता है जिसके लिए प्रेम की भावना जागृत हो तो उसे देखने के साथ हीं हमारे दिल की धड़कनें बड़ी तेज हो जाती है।
  • उसे देखने के बाद हमारा दिल बस यही चाहता है कि हम हमेशा के लिए उसके हो जाएँ और वो हमेशा के लिए हमारे हो जाएँ।

प्यार का इज़हार

  • प्यार हो जाने के बाद प्यार का सबसे बड़ा इम्तिहान आता है और वो होता है प्यार का इज़हार करने का।
  • बहुत लोग तो इज़हार हीं नहीं करते हैं इस डर से की कहीं सामने वाला आपको इंकार ना कर दे। ऐसा बिलकुल नहीं करना चाहिए प्यार करने के बाद इज़हार ज़रूरी होता है। प्यार करना कोई बुरी बात नहीं होती तो अगर आप किसी से आप उनसे प्यार करते हैं तो ये कतई गलत नहीं कहलायेगा।
  • जबतक हम जिससे प्यार करते हैं उससे अपने प्रेम का इज़हार नहीं करेंगे, तब तक उन्हें हमारे प्रेम के बारे में कैसे पता चलेगा? और हमें भी ये कैसे पता चलेगा कि सामने वाले के दिल में हमारे लिए क्या है, उसके दिल में हमारे लिए कोई इमोशन है भी की नहीं।

इकरार और इंकार दोनों के लिए रहे तैयार

  • प्यार के इज़हार के बाद बातें आपके बस में नहीं रहती हैं, क्योंकि तब सामने वाले को निर्णय लेना होता है। ऐसे में अगर सामने वाला आपके इजहार पर हामी भर देता है तो आपकी प्रेम कहानी चल निकलती है पर अगर वो ना कह दे तो सबकुछ टूट जाता है।
  • दरअसल यही प्यार का दोराहा कहलाता है जहाँ प्यार अगर दोतरफा हो तब तो सब ठीक रहता है परन्तु अगर सामने वाला व्यक्ति ना कह दे, तो आपका प्यार एकतरफा रह जाता है।
  • प्यार करना कोई गुनाह नहीं होता है पर अपना प्यार किसी पर ज़बरदस्ती थोप देना गुनाह की श्रेणी में आ जाता है।

एकतरफा प्यार होने पर क्या करें ?

  • इज़हार के वक़्त मानसिक तौर पर तैयार रहें कि अगर सामने वाला आपके प्यार को ना कह दे तो भी आप टूटेंगे नहीं और अपनी जिंदगी में आगे बढ़ जाएंगे। एक One Sided Relationship को बढ़ाने का कोई फायदा नहीं होता है।
  • प्यार में नाकामी का बुरा प्रभाव कभी भी अपनी पढ़ाई या कैरियर पर बिलकुल ना पड़ने दें, इससे आपकी जिंदगी में आर्थिक परेशानियां सहनी पड़ सकती हैं।
  • प्यार में इंकार सुनने पर जितनी जल्दी हो सके आप अपने प्रेमी/प्रेमिका को भूल जाने की कोशिश करें, क्योंकि वो आपके बगैर ज्यादा खुश है।
  • अगर आप उसका इंकार सुन कर भी उस पर अपना प्यार थोपना चाहेंगे तो इससे आप भी खुश नहीं रह पाएंगे और उसकी खुशियाँ भी छिन जायेगी।
  • आपको उसकी ख़ुशियों का ख्याल रखते हुए उसे छोड़ देना चाहिए और उससे दूरियां बढ़ा लेनी चाहिए। एक सच्चा प्रेमी कभी नहीं चाहेगा कि वो अपने प्रेमी/प्रेमिका की ख़ुशियों को छीन ले।
  • इस इंकार से दुखी होने के बजाय आप खुद को व्यस्त रखने की कोशिश करें। वक़्त हर जख्म को भर देता है। कुछ समय के बाद आप की भी जिंदगी में नई शुरुआत अपने आप हो जायेगी।
  • इस दौरान कई बार गलत कदम उठाने का मन करने लगता है। इस तरफ बिलकुल ना सोचें आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ ज्यादा वक़्त बिताने की कोशिश करें।
  • आपके परिवार आपके माता पिता की सारी ख़ुशियाँ आप पर हीं टिकी होती है, उनका ख्याल रखें।
  • इस दौरान मन में हिंसात्मक प्रवृत्तियाँ बढ़ जाती है, आप स्वनियंत्रण से इस पर काबू पाएं और हिंसा का कभी भी सहारा ना लें।
  • जिसने आपके प्रेम प्रस्ताव को ठुकराया है उनके लिए मन किसी प्रकार का विद्वेष ना रखें और ना हीं उनसे बदला लेने का भाव अपने मन में आने दें।
  • प्यार ख़ुशियाँ लाता है, घर बसाता है। प्यार में इंकार के कारण सामनेवाले को सताना और उनकी जिंदगी बर्बाद करना प्रेमी का नहीं बल्कि दुश्मनों का काम होता है।
  • अगर आप उनसे बदला लेते हैं या उन्हें नुकसान पहुँचाते हैं तो एक बात साफ़ हो जाती है की आप उससे प्यार नहीं करते बस आप उसे पाना चाहते हैं, ये शारीरिक चाहत भर है और इसे हवस का नाम भी दिया जा सकता है।
  • प्यार में नाकामी मिलने के तुरंत बाद किसी सम्बन्ध में पड़ने से बचना चाहिए। हो सकता है की आप भावुकता में पड़ कर कोई गलत निर्णय कर लें और इसके कारण आपको जिंदगी भर पछताना पड़े।
  • हमे कम उम्र में प्यार के चक्क्रों में नहीं पड़ना चाहिए। कम उम्र में प्यार के बजाय आकर्षण होता है, और आकर्षण की रिश्ते के लिए सही नहीं होता है।
  • आपको अपना प्यार न मिल सका इसका ये अर्थ नहीं है कि अगर कोई आप से प्यार करता हो तो आप उसके प्यार को भी इंकार कर दें। हो सकता है की जो आपसे प्यार करता हो उसके साथ आप ज्यादा खुश रहें।
  • वास्तविक जिंदगी में कभी भी किसी फिल्मी तरीके को अपनाने की कोशिश ना करें। फिल्म में होने वाले प्रेम की कहानी एक कल्पना होती है जिसका वास्तविक जिंदगी से कोई लेना देना नहीं होता है।
  • बहुत सारे लोग प्रेम में नाकामी के बाद नशे की लत में पड़ जाते हैं। Pain of One Sided Love की वजह से होने वाले गम को दूर करने के लिए कभी किसी नशे का सहारा ना लें।

आज इस लेख में आपने पढ़ा एकतरफा प्यार होने पर आप कैसे अपने आप को अपनी जिंदगी में आगे बढ़ा सकते हैं। अगर आप भी इसी तरह के वक़्त से गुज़र रहें हैं तो लेख में बताये गए बातों का ख्याल ज़रुर रखें।