ज्यादातर लोग मानसून को पसंद करते है। मानसून जहाँ पर लोगो को गर्मी से राहत देता है वही पर गर्भवती महिलाओं के लिए यह चुनौती पूर्ण होता है। वह इसलिए क्यूंकि यह अपने साथ कई प्रकार के रोगो को भी लाता है।

मानसून के मौसम में नमी बनी रहती है जिस कारण कीटाणु ज्यादा एक्टिव हो जाते है। इसलिए इन दिनों डेंगू और मलेरिया जैसी संक्रामक बीमारिया ज्यादा उत्पन्न होती है।

इस दौरान घर में आना वाला पानी भी अधिकतर दूषित होता है| और दूषित पानी के वजह से भी कई प्रकार की बिमारियों का जन्म होता है| ऐसे पानी का सेवन गर्भवती महिला और उसके शिशु के लिए घातक हो सकता है।

इसलिए महिलाओं को मानसून के मौसम में सावधानी रखनी चाहिए ताकि वह खुद को और अपने बच्चे को इस मौसम में भी रोगो से दूर रख सके। इस दौरान अपने खानपान और रहन सहन का विशेष ख्याल रखे। यदि आपको ज्यादा जानकारी नहीं भी है तो कोई बात नहीं क्योंकि आज हम आपको Pregnancy Care during Monsoon बता रहे है|

Pregnancy Care during Monsoon: मानसून में ख्याल रखने के लिए टिप्स

Pregnancy Care During Monsoon

ढीले कपडे पहने

  • गर्भावस्था के दौरान वैसे तो हमेशा ढीले कपडे पहनने चाहिए।
  • लेकिन मानसून के मौसम में खासकर ढीले और कॉटन के कपडे ही पहने।
  • क्यूंकि सिंथेटिक कपड़ो में आपको पसीना ज्यादा आएगा और गर्मी ज्यादा लगती है|

नीम के पानी का उपयोग

  • नहाने के लिए नीम के पानी का उपयोग करे|
  • क्यूंकि इस सीजन के दौरान गर्भवती महिलाओं के लिए नीम के पानी में स्नान करना फायदेमंद माना जाता है।
  • यह पानी आपको हवा में सामान्य चिपचिपाहट से निपटने में मदद करता है और आपकी त्वचा चिकनी होती है|
  • इसके अलावा आप त्वचा से सम्बंधित रोगो से भी दूर रहते है|
  • स्नान के लिए 15-20 मिनट तक कुछ मुट्ठी भर नीम के पत्तो को उबाल ले और फिर इस पानी को नहाने के पानी में मिला ले और उस मिश्रित पानी से स्नान करे।

साफ़ पानी ही पिए

  • मानसून के मौसम में पानी पीना कम हो जाता है। पानी की कमी से आप डिहाइड्रेट हो सकती हैं।
  • इसलिए आपको जरुरी है इस मौसम में भी ज्यादा पानी पिए, साथ ही ध्यान रहे की पानी साफ़ हो।
  • चाहे तो पानी को उबाल ले या फ़िल्टर वाला ही पानी पिए।

स्वस्थ खाना

  • मानसून वह समय होता है जब आपको अपने आहार और भोजन के सेवन के बारे में बहुत सतर्क रहना चाहिए।
  • यदि आप कही बाहर है तो मसालेदार भोजन ना ले उसकी जगह पर ताजे फल का चुनाव करे।
  • कटे हुई ताजी सब्जिया भी ना ले उसके जगह सूप ले सकते है।

इसके अलावा इस बातों का भी ख्याल रखे:-

  1. कहीं बाहर जाते समय अपना छाता या रेनकोट जरूर ले जाये, नहीं तो आप बीमार रहेंगे, जबकि इस दौरान आपको अपना अच्छे से ख्याल रखना होता है|
  2. बाहर नंगे पैर ना जाए अपने कम्फ़र्टेबल के हिसाब से ही अपनी चप्पल का चयन करे। हो सके तो रबर के जूते या चप्पल से बचें वे गीली सतह पर चिपक सकते है।
  3. बारिश के दौरान संक्रमण से बचने के लिए कई बार अपने हाथों और पैरों को धोये और साफ रखे।