कभी कभी बहुत ही छोटी सी चीज बड़ी बड़ी बीमारियों को धराशाही कर देती है। आप नहीं जानते होंगे की एक छोटी सी लकड़ी भी बड़ी बीमारियों से आपको मुक्ति दिला सकती है।

आर्थराइटिस अर्थात गठिया की समस्या को दूर करने में भी यह लकड़ी उपयोगी होती है। गठिया की समस्या में जोड़ों में दर्द होता है। साथ ही इस रोग के कारण जोड़ों में गांठें बन जाती हैं।

गठिया के कारण रोगी को बार-बार बुखार आना, भूख में कमी, मांसपेशियों में लगातार दर्द और अचानक वजन घटने लगता है। कई दवाईओ के द्वारा इसका उपचार किया जाता है पर इसका कोई परमानेंट उपचार संभव नहीं हो पाया है।

गठिया की समस्या को दूर करने के लिए ​विजयसार की लड़की बहुत ही लाभकारी होती है। तो चलिए जानते है Vijaysar Wood for Arthritis किस तरह फ़ायदेमंद है?

Vijaysar Wood for Arthritis: ​विजयसार क्या है और इसका प्रयोग कैसे करे?

Vijaysar Wood for Arthritis

विजयसार क्या है?

  • ​विजयसार नाम के पेड़ की लकड़ी धातुरोग, मधुमेह और गठिया जैसे रोगों को दूर करने में सहायक होती है। विजयसार भारत, नेपाल और श्रीलंका में पायी जाती है।
  • यह ज्यादातर भारत के पश्चिमी घाट तथा मध्य भारत के वनों में उत्पन्न होता है। विजयसार को बीजा, वीजा साल, मुर्गा, पैसार, लकड़ी आदि नामों से भी जाना जाता है।
  • ​विजयसार की लकड़ी हल्‍के या फिर गहरे लाल रंग की होती है। इसकी ऊंचाई 30 मीटर तक हो सकती है।
  • इस वृक्ष के छाल को काटने पर एक लाल रंग के तरल का स्राव होता है। यह स्राव रक्त के समान गाढ़ा होता है। इस लिए इसे बिल्डिंग ट्री भी कहते हैं।

गठिया के लिए कैसे करे इसका उपयोग

  • इसका उपयोग करने के लिए सबसे पहले विजयसार की सूखी लकड़ी लेकर उनके छोटे-छोटे टुकड़े कर लें।
  • इसके बाद एक मिट्टी के बर्तन में पानी डालकर इस लकड़ी के छोटे छोटे टुकड़े लगभग पच्चीस ग्राम रात के समय भीगा दें।
  • सुबह तक इसके पानी का रंग गहरा लाल हो जाएगा।
  • इस पानी को छान ले और इसे खाली पेट पीये।
  • उस लकड़ी को दोबारा उतने ही पानी में डाल दे और शाम को इस पानी को उबाल कर छान लें और पिए।

विजयसार के अन्य फायदे भी जान ले

  • जोड़ों में होने वाले दर्द से निजात दिलाने के लिए ​विजयसार की लड़की फ़ायदेमंद होती है।
  • हाथ-पैरों में होने वाले कंपन्‍न में भी यह बहुत लाभदायक है।
  • उच्च रक्त-चाप को नियंत्रित करने में भी ​विजयसार की लकड़ी मदद करती है।
  • अम्ल-पित्त की समस्या होने पर भी इसका उपयोग कर सकते है।
  • यह जमी हुयी चरबी को कम कर वजन और मोटापे को कम करने में सहायक है।
  • इससे त्वचा सम्बन्धी रोग जैसे खाज-खुजली, फोडे-फिंसी को भी कम किया जा सकता है।
  • डायबिटीज़ की समस्या को दूर करने में भी यह लकड़ी फ़ायदेमंद होती है।

विजयसार की लकड़ी किसी भी आयुर्वेदिक औषधि की दुकान पर मिल सकती है। आयुर्वेद विशेषज्ञों का मानना है की यदि विजयसार की लकड़ी से बने ग्‍लास में पानी पिया जाए तो कर्इ तरह के रोग दूर हो जाते हैं।