Lung Exercises: फेफड़ों को मजबूत बनाने के लिए उपयोगी व्यायाम

ये तो हम सभी जानते है व्यायाम या योग हमारे शरीर के लिए कितना फ़ायदेमंद होता है। योग या व्यायाम करने से हमारा शरीर कई तरह के रोगों से दूर रहता है। योग तरह तरह के होते है। जैसे की आप जानते की लिवर, हार्ट, पेट की समस्या के लिए योग करते है। ठीक उसी तरह व्यायाम की मदद से भी फेफडों को मजबूत बनाया जा सकता है, ताकि यह जिंदगी भर सही से कार्य करे। इससे श्वसन तंत्र और हृदय से संबंधित समस्याओं की संभावना भी बहुत कम हो जाती है।

आपको पता होगा की शरीर की कोशिकाओं को कार्य करने और विकसित होने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत होती है। हमारा शरीर सांस के द्वारा हवा अंदर लेता है और फिर हमारे फेफड़े हवा से ऑक्सीजन लेकर रक्त में उसे मिला देते हैं। फेफड़े हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। यदि यह स्वस्थ नहीं रहेंगे तो हम स्वस्थ जीवन नहीं जी पाएंगे।

इसलिए Lung Capacity का बेहतर होना और फेफड़ों का सही तरह से कार्य करना हमारे पूरे शरीर के स्वास्थ्य के लिये जरुरत है। यदि आपके शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलती है, तो कई तरह की स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं आपको हो सकती हैं। कई बार फेफड़ों में होने वाली समस्या की वज़ह से हमें सांस लेने के दौरान खांसी या दम घुटने की समस्या रहने लगती है, जिसकी वज़ह से हमें चिंता रहने लगती है की हमे कोई बीमारी तो नहीं हो गई।

धूम्रपान करने से फेफड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है इसलिए फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए आपको धूम्रपान से दूर रहना चाहिए। लेकिन इसके अलावा अपने फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए आप योग भी कर सकते है। योगासन आपकी छाती की मांसपेशियों को मज़बूत करता है और फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाता है जिससे आप बेहतर तरीके से ऑक्सीजन ले सकते हैं। आज के लेख में आपको इसे स्वस्थ रखने के लिए Lung Exercises बता रहे है।

Lung Exercises: व्यायाम से बढ़ाये अपने फेफड़ों के कार्य करने की क्षमता

Lung Exercises

रोज खुलकर हंसे

  • अब जब आपने अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखने का सोच ही लिया है तो क्यों ना आपको पहले कुछ आसान व्यायाम बताये जाए।
  • अपने पेट की मांसपेशियों और फेफड़ों की क्षमता बढ़ाने के लिए रोज खुलकर हसना शुरू कर दे।
  • इससे आपके फेफड़े साफ़ होते है। साथ ही यह तनाव को दूर कर आपकी सेहत को भी सुधारता है।

ताड़ासन (Tadasana) करे

  • योग तो कई तरह से हमारे शरीर को फायदा पहुँचाता है। फेफड़ों को मजबूत करने के लिए भी यह फ़ायदेमंद है।
  • ताड़ासन को करने से हाथों में खिचाव आता है और इस दौरान आप सांसो पर भी फोकस करते है। इसलिए यह योग फेफडों के लिए फ़ायदेमंद है।
  • इस आसन को करने से फेफड़े तो मजबूत होंगे ही साथ ही पीठ और कंधो के दर्द से भी निजात मिलेगी।

ब्रीदिंग एक्सरसाइज: Breathing Exercise

  • फेफड़ों को मजबूत बनाये रखने के लिए ब्रीदिंग एक्सरसाइज सबसे ज्यादा ज़रुरी और लाभकारी होती है।
  • सांस से संबंधित व्यायाम आपके फेफड़ों को पूरी तरह से ऑक्सीजन लेने में मदद करते है।
  • इसके लिए आप एक लम्बी सांस ले जब तक फेफड़े भर नहीं जाये फिर धीरे धीरे सांस को छोड़ें।
  • ब्रीदिंग एक्सरसाइज करने से आपका हृदय सदैव स्वास्थ्य बना रहता है।

सीटी बजाये

  • क्या आपको सीटी बजाना आता है?
  • आपके बड़े भले ही इसे बुरी आदत बोलकर सीटी बजाने को लेकर डांटते होंगे।
  • लेकिन सीटी बजाना फेफड़ों के लिए एक बेहतरीन एक्सरसाइज होती है।
  • इसलिए जब आपके आसपास कोई ना हो आप अकेले में तो इसे बजा ही सकते है।

कार्डियो: Cardio

  • कार्डियो एक्सरसाइज जैसे रनिंग और साइकिलिंग आदि हमारे फेफड़ों की मज़बूती के लिए बहुत फ़ायदेमंद होते हैं।
  • इसके लिए आपको ज्यादा ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है, जिसके लिए फेफड़ों को ज्यादा काम करना पड़ता है। इस तरह फेफड़े की कर्यक्षमता बढ़ती है।
  • इसलिए कार्डियो एक्सरसाइज करते रहना चाहिए।

मत्स्यासन: Matsyasana

  • इस योग को करने से पूरे शरीर में खिचाव आता है। जिसके कारण हमारे शरीर में रक्त संचार अच्छा होता है। जिससे सभी अंगों तक रक्त पहुंच पाता है।
  • यह गहरी सांस लेने के लिए प्रेरित करता है जिसकी वजह से फेफड़े स्वस्थ रहते हैं।
  • मत्स्यासन करने के लिए सबसे पहले एक जमीन पर दोनों पैरों को मोड़ कर बैठ जाएं.
  • इसके बाद पीछे की ओर झुक कर लेट जाएं।
  • इतना करने के बाद अपने पैरों के दोनों अंगूठों को अपने हाथों से पकड़े और पीठ को ऊपर की ओर उठाएं।

अर्ध मत्स्येन्द्रासन: Ardha Matsyendrasana

  • यह योग फेफड़ों की कार्य क्षमता को बढ़ता है और सांस रोकने की क्षमता को बढ़ाता है और इससे ऑक्सीजन सही मात्रा में पहुंचाने का काम करता है।
  • इसके साथ यह पीठ और रीढ़ की हड्डी को भी मजबूत बनाता है।

वीरभद्रासन: Virabhadrasana

  • शरीर में ऊर्जा और शरीर में ऑक्सीजन की शुद्धि एवं फेफड़ों की कार्य क्षमता को बढ़ाने के लिए वीरभद्रासन एक अच्छा योग है।
  • यह फेफड़ों में होने वाले रक्त संचार को भी बेहतर बनाता है। इसकी मदद से फेफड़े काफी हद तक स्वस्थ किए जा सकते हैं।
  • सांस फूलना दमा और अस्थमा की बीमारी को वीरभद्रासन की मदद से दूर किया जा सकता है।

स्विमिंग

  • पानी के अंदर सांस रोककर रखने से आपके फेफड़ों की क्षमता बढ़ती है।
  • इसके साथ ही पानी श्वसन मांसपेशियों पर दबाव डालकर उन्हें मजबूत बनाता है।
  • स्वीमिंग फेफड़ों के लिए लाभकारी एक्सरसाइज होती है।

इसके अलावा भी कई सारे व्यायाम है जो फेफड़ों का मजबूत बनाते है। योग और व्यायाम के अलावा भी फेफड़ों को सुरक्षित रखने के लिए कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है जो Good for Lungs होती हैं।

फेफड़ो को स्वस्थ कैसे रखें?

  • धूम्रपान हमारे फेफड़ों के लिए बहुत ही हानिकारक है। सिगरेट से जो गंदा धुआँ निकलता है वो फेफड़ों की कार्यक्षमता को कम कर देता है।
  • शराब की अधिक मात्रा भी हमारे फेफड़ों को नुक्सान पहुँचाती है। इससे कारण आपको कैंसर भी हो सकता है।
  • यदि आप फेफड़ों को मजबूत और तंदरुस्त बनाना चाहते है तो पानी का ज्यादा सेवन करें।
  • फिजिकल वर्कआउट, योग या व्यायाम करते रहे जिससे फेफड़ों की कार्यक्षमता बढे और ऑक्सीजन का अदान प्रदान भी सही रहे।
  • योग फेफड़ों की सफाई का प्रभावशाली माध्यम है।

आज इस लेख में अपने जाना की आप कौन कौन से एक्सरसाइज और योग कर के आप अपने फेफड़ों को मजबूत और स्वस्थ बना सकते है। यदि आप चाहते है की आपके फेफड़े स्वस्थ रहे तो आप धूम्रपान छोड़े और ऊपर बताए गए Exercise for Lungs का अभ्यास करें।


You may also like...