अधिकांश लोगो को, खिचड़ी का नाम सुनते ही चेहरे के एक्सप्रेशन में परिवर्तन आ जाता है। वह खिचड़ी को देखकर नाक मुँह बनाने लगते है। बहुत से लोग तो खिचड़ी को बीमारों वाला खाना कहकर भी बुलाते है|

इस कारण ही खिचड़ी बहुत कम लोगो को ही भाति है। पर क्या आपने ये सोचा है की खिचड़ी क्यों खायी जाती है। यदि आप देखेंगे तो खिचड़ी आपको केवल फायदे ही फायदे दिखाई देंगे।

खिचड़ी शुद्ध शाकाहारी भोजन है। जो शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक होती है। साथ ही इसे बनाना भी बहुत आसान होता है। वहीं इसमें वो सारे पोषक तत्व मिल जाते हैं जिनकी शरीर को जरुरत होती हैI खिचड़ी को आपका पेट आसानी से पचा लेता है।

चावल और कुछ दालों के मिश्रण से बनने वाली खिचड़ी एक सुपाच्य भोजन है| वैसे तो खिचड़ी में न के बराबर मसालों का उपयोग किया जाता है परन्तु आप चाहें तो स्वाद के लिए चुटकीभर मसाले का इस्तेमाल कर सकते है| अगर दही को खिचड़ी में मिलाकर खाते है तो इसका स्वाद दोगुना हो जाता है| तो चलिए आज हम आपको Health Benefits of Khichdi के बारे में ही बता देते है|

Health Benefits of Khichdi: शरीर के लिए फायदेमंद भोजन

Health Benefits of Khichdi

खिचड़ी शरीर को बीमारियों से बचाती है

यह पचने में बहुत ही आसान होती है

  • तेज मसालों का उपयोग खिचड़ी में नहीं किया जाता है और न ही इसमें बहुत ज्यादा तेल, घी का प्रयोग होता है
  • इसलिए ये आसानी से पच जाती है और यही कारण है कि बीमारी में लोग खिचड़ी खाने की राय देते हैं|
  • यदि आपका पाचन तंत्र कमजोर है तो खिचड़ी आपके लिए सबसे फायदेमंद है|

पोषक तत्वों से भरपूर

  • आपने अपने घर में अपने बड़े लोगो से सुना की होगा की खिचड़ी बहुत लाभदायक होती है|
  • खिचड़ी विटामिन,कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फाइबर्स, फॉस्फोरस और पोटैशियम के गुणों से युक्त होती है|
  • इसमें विभिन्न प्रकार की सब्जियां मिलाकर इसके पोषक गुणों को और बढ़ाया जा सकता है।

खिचड़ी बनाने की विधि

चावल और  दाल की खिचड़ी की सामग्री

  1. 400 ग्राम मूँगदाल
  2. 500 ग्राम चावल और हरे मटर
  3. 1 छोटा चम्मच हींग
  4. 2 चम्मच हल्दी पाउडर
  5. 1 चम्मच नमक
  6. 3 चम्मच शुद्ध घी
  7. 1 छोटा चम्मच जीरा
  8. 500 मिली पानी

कैसे बनाये

  • एक बड़े कटोरे में हरे मटर और चावल को में मिलाये| हरे मटर और चावल के मिश्रण को पानी में धो ले।
  • प्रेशर कुकर में घी डाले| उसमे थोडा जीरा डाले| और कम आंच पर उसे गर्म होने दे|
  • जीरे पर हींग को अच्छी तरह से छिड़के| फिर मिश्रण को अच्छी तरह से मिला ले| फिर हल्दी पाउडर मिला ले|
  • धुले हुए चावल और हरे मटर को प्रेशर कुकर में डाले|
  • चम्मच से मिश्रण को अच्छी तरह से मिला ले| मिश्रण को जब तक मिलाये जब तक घी पूरे चावल में नही समा जाता|
  • मिश्रण में पानी मिला दे साथ ही पानी का स्तर हरे मटर और चावल से थोडा ऊपर तक होना चाहिये|
  • मिश्रण में नमक को अच्छी तरह से चावल में मिला ले|
  • दो सिटी होने के बाद इसे 2-3 मिनट कम गैस पर होने दे|