Home Remedies for Dementia: डिमेंशिया (मनोभ्रंश) से निजात के लिए अपनाएँ घरेलू उपचार

जैसे जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती जाती है वैसे वैसे उसके शरीर पर भी बढ़ती उम्र का प्रभाव पड़ने लग जाता है और यह प्रभाव केवल शरीर पर ही नहीं बल्कि इंसान के दिमाग पर भी पड़ने लगता है।

आपने खुद ही देखा होगा आपके आसपास जो भी बुजुर्ग इंसान होते है उन्हें कई बातें याद नहीं रहती। वे एक ही बात कई बार पूछते है। कुछ बूढ़े लोगो को तो उन्होंने खाना खाया या नहीं यह भी नहीं याद रहता है, और इसके पीछे की वजह होती है डिमेंशिया।

Dementia एक मानसिक रोग है जिसमें व्यक्ति की याददाशत कमजोर होने लगती है। उसे कुछ भी याद करने के लिए अपने दिमाग पर बहुत ज्यादा जोर डालना पड़ता है। यहाँ तक की व्यक्ति को लोगो की बात समझने और अपनी बात किसी और को समझाने में भी दिक्कत होने लगती है।

जब यह मानसिक रोग बहुत गंभीर रूप ले लेता है, तब उस रोगी की याददाश्त बिल्कुल ही खत्म हो जाती है। इसके बाद रोगी की सुध बुध ख़त्म हो जाती है और उसका व्यवहार असामान्य हो जाता है। इसलिए बेहतर है इसका समय पर उपचार करना, इसलिए आज के लेख में हम आपको बताने जा रहे है Home Remedies for Dementia.

Home Remedies for Dementia: दिमागी स्वास्थ्य को बनाए रखने में फायदेमंद नुस्खे

Home Remedies for Dementia

डिमेंशिया के लक्षण: Dementia Symptoms

डिमेंशिया के कुछ लक्षण को पहचाना जा सकता है।

  • असामान्य व्यवहार का होना
  • स्मृति में कमी आना
  • व्यक्तित्व में परिवर्तन का आना
  • संवाद में कठिनाई का आना
  • स्वभाव में परिवर्तन होना
  • उद्वेग और विभ्रम की स्थिति
  • जाने-पहचाने कार्यों को करने में परेशानी होना

Dementia Disease के कारण

  • किसी कारण सिर में चोट लगने से
  • चयापचयी समस्याएँ होने से
  • संक्रमण और प्रतिरक्षक तंत्र में विकार होने से
  • पोषण सम्बन्धी कमी
  • शराब का अत्यधिक प्रयोग
  • थाइरोइड ग्रंथि की समस्याएँ भी इसका कारण हो सकती है।

डिमेंशिया की बीमारी किसी के लिए भी चिंता का कारण हो सकती है। क्या आपको डिमेंशिया के लक्षण अपने या अपने परिवार में किसी के अंदर नजर आ रहे है। डिमेंशिया से दूरी बनाने और अपने दिमाग को स्वस्थ रखने में यह घरेलू उपचार मदद कर सकते है। आइये जानते हैं कैसे घरेलू उपचारों से कर सकते हैं Dementia Treatment.

सलमन मछली: Salmon Fish

  • यदि आपको लग रहा है की कम उम्र में ही आपकी स्मृति कम होते जा रही है तो बिना सोचे सलमन मछली को अपने आहार में शामिल करे।
  • यह आपके दिमाग को तेज बनाती हैं। हफ्ते में एक दिन इसका सेवन किया जा सकता है।
  • इसके अलावा हर दिन दो अंडे खाने से भी फायदा मिलता है।

अदरक: Ginger

  • क्या आपको चाय पीना पसंद है? तो आज से अदरक वाली चाय पीना शुरू कर दें।
  • अदरक भी डिमेंशिया की समस्या से आपको दूर रखने में मदद करता है।
  • चाय के अलावा खाने में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा आप दिन में इसके छोटे छोटे टुकड़े भी खा सकते है।

बादाम: Almond

  • बचपन में मम्मीबच्चों की मुट्ठी बादाम से भर देती है ताकि बच्चों का दिमाग अच्छा चले।
  • अब आप बड़े हो गए इसका मतलब यह नहीं है की आप बादाम खाना छोड़ दे।
  • बादाम आपके दिमाग के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है। इससे आपके दिमाग को पोषक तत्व मिल जाते हैं।
  • सिर्फ दिमाग के लिए ही नहीं सपूर्ण स्वास्थ्य के लिए भी बादाम का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

ग्रीन टी: Green Tea

  • वजन को कम करने के लिए ग्रीन टी का प्रचलन बहुत बढ़ गया है।
  • यदि आप वजन नहीं भी कम करना चाहते है तो अच्छे स्वास्थ्य व दिमागी विकास के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते है।
  • दरअसल ग्रीन टी पीने से शरीर में ऑक्सीजन का संचार अच्छे से होता है इससे याद्दाश्त बढ़ती है और भूलने की समस्या दूर हो जाती है।

हल्दी: Turmeric

  • हल्दी कई औषधीय गुणों से भरपूर होती है। इसका उपयोग करने से कई लाभ प्राप्त होते है। हल्दी का सेवन करने से घाव भी जल्दी भरने लगते है।
  • हल्दी में करक्यूमिन तत्व उपस्थित रहता है। यह तत्व डिमेंशिया से निजात दिलाने में मदद करता है।
  • साथ ही दिमाग के विकास के लिए इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी मदद करते है। इसलिए हल्दी का नियमित रूप से उपयोग करना चाहिए।

कोकोनट आयल: Coconut oil

  • कोकोनट आयल यानि नारियल का तेल भी डिमेंशिया के इलाज के लिए अच्छा होता है।
  • इसका उपयोग खाना बनाने में करना चाहिए। आपको बता दे की नारियल के तेल में वसा बहुत कम मात्रा में होता है।
  • इसलिए इसका सेवन करने से दिमाग भी तेज होता है और याददाश्त भी अच्छी रहती है।

अन्य उपाय

इसके अतिरिक्त भी आप कुछ और घरेलु उपचार कर सकते है जैसे

  • अंडे का सेवन कर सकते है।
  • आप जिन बातों को याद रखना चाहते हैं उन्हें किसी कैलेंडर पर अंकित कर ले या फिर मोबाइल में उस समय का अलार्म भी लगा सकते है।
  • दिमाग वाले खेल खेलने चाहिए। यह भी याददाश्त को बढ़ाने में मदद करते है।
  • प्रतिदिन योग या व्यायाम करना चाहिए। यह भी शरीर को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वाथ्य रखने में मदद करता है।
  • आप अपनी पसंद का संगीत भी सुन सकते है। इससे भी तनाव दूर होता है और दिमाग स्वस्थ बना रहता है।

किन चीजों का सेवन करे

  • दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए आप कई अन्य आहारों की भी मदद ले सकते है।
  • इसके लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए। जैसे की पत्तागोभी,पालक, मेथी। साथ ही ब्रोकोली, टमाटर, फूलगोभी, संतरे और निम्बू का भी सेवन करना चाहिए।
  • मेवे खाना भी फ़ायदेमंद होता है।
  • हरी मटर और फलियाँ आदि का सेवन करें।
  • साबुत अनाज, जीरा, जैतून का तेल, सरसों के बीज आदि का भी सेवन किया जा सकता है।

इनसे परहेज करे

  • शराब का सेवन करने से बचे। इसका सेवन करने से अन्य बीमारियाँ भी हो जाती है।
  • संतृप्त वसा वाले पदार्थ भी नहीं खाने चाहिए।
  • कैफीन और शक्कर का भी सेवन नहीं करना चाहिए। शक्कर की मात्रा जितनी हो सके कम ही उपयोग करे यह भी दिमाग के विकास में बाधा लाती है।
  • रोज 6 ग्राम से ज्यादा नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।

इस तरह आप कुछ घरेलू उपायों की मदद से डिमेंशिया जैसे मानसिक रोग से निजात पा सकते है साथ ही यदि इन उपायों से भी मदद नहीं मिल पा रही है तो अपने डॉक्टर से ज़रूर संपर्क करे। ताकि बीमारी की सही स्थिति का पता चल सके और समय पर उपचार भी किया जा सके।


You may also like...