साबूदाना खिचड़ी आखिरकार किसको पसंद नही होती है। साबूदाना सफेद मोतियो की तरह दिखने वाला छोटे आकर का होता है। इसका प्रयोग व्रत-उपवास में प्रमुख रूप से किया जाता है। वैसे तो इसका प्रयोग लोग फलाहर के रूप में करते है लेकिन क्या आप जानते है की यह हमारे स्वस्थ के लिए भी फायदेमंद होता है ?

साबूदाने में प्रचुर मात्रा में कारबोहाइड्रेट, कैलोरी और प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी साबित होते है। इसका सेवन करने से शरीर को भरपूर उर्जा मिलती है, इस वजह से इसे उपवास में खासतौर से प्रयोग किया जाता है।

साबूदाना को स्टार्च के रूप में सैगो पाम नामक पेड़ के तने के गूदे से बनाया जाता है। इसे टैपिओका पेर्लस के नाम से भी जाना जाता है। साबूदाने को लोग कई प्रकार से बनाते है जैसे साबूदाना खिचड़ी, साबूदाना खीर, उपमा, वादा आदि. भारत में ही नही बल्कि कई देशो में इसके सूप और उपमा को बहुत पसंद किया जाता है। इसके अलावा यदि आप किसी भी भोजन की ग्रेवी को गाड़ा बनाना चाहते है तो साबूदाने के रस को प्रयोग कर सकते है। इसमे उपस्थित स्टार्च ग्रेवी को गाड़ा बनाने में मदद करता है।

साबूदाने हमारे स्वस्थ के लिए किस तरह से फायदेमंद है? यह जानने के लिए यहा पढ़े Health Benefits of Sago in Hindi.

 

Health Benefits of Sago in Hindi: शारीरिक वृद्धि व् अन्य कई लाभ

Health Benefits of Sago in Hindi

पोषक तत्वो से भरपूर

साबूदाना आकार में बहुत छोटा होता है, इसका व्यास 2 mm होता है। इसके बावजूद इसमे भरपूर मात्रा में कारबोहाइड्रेट और कैलोरी होती है। शायद आप नही जानते होंगे कि 1 ग्राम साबूदाने me 355 कैलोरी और 93 ग्राम कारबोहाइड्रेट होता है।

साबूदाने में 87 ग्राम कारबोहाइड्रेट, 351 कैलोरी, 0.2 ग्राम फैट और 0.2 ग्राम प्रोटीन की मात्रा होती है।

 

शरीर को उर्जा देता है

कारबोहाइड्रेट से भरपूर होने के कारण यह शरीर को भरपूर मात्रा में  उर्जा देता है। इसमे फैट की बहुत कम मात्रा पाई जाती है। व्रत में अक्सर लोग लंबे समय तक कुछ भी सेवन नहीं करते है। ऐसे में शरीर को कैलोरी की ज़रूरत पड़ती है। इसलिए साबूदाने को अक्सर व्रत में खाया जाता है।

 

दस्त लगने से रोके

यदि आपका किसी कारणवश पेट खराब हो जाए या फिर आपको दस्त या अतिसार की समस्या होने लगे तो आप साबूदाने की खीर का सेवन करें, यह बहुत ही फयदेमंद होती है और दस्त में तुरंत आराम पहुंचाती है।

 

उच्च रक्तचाप

साबूदाने में पोटैशियम की मात्रा भी पाई जाती है इस वजह से यह शरीर की रक्त संचार को सही करता है। साथ ही कार्डियोवैस्कुलर   सिस्टम के तनाव को कम कर हृदय को स्वस्थ रखता है। जिससे उच्च रक्तचाप को काफी हद तक कंट्रोल किया जा सकता है। इसके अलावा यह हमारे शरीर की मांसपेशियों के लिए भी लाभदायक होता है।

 

पेट की समस्याओ में लाभकारी

अधिकतर लोगो का मानना है कि साबूदाने बहुत गैस्ट्रिक होता है, लेकिन ऐसा नही है हम आपको बताना चाहते है कि यह पेट की समस्याओ को दूर करने में भी मदद करता है। यह पेट की पाचन क्रिया को ठीक कर पेट में बनने वाली गैस और अपच आदि में लाभप्रद होता है।

 

गर्भावस्था के समय

साबूदाने में फॉलिक एसिड और विटामिन बी (विटमिन-B) काम्प्लेक्स की भी अधिक मात्रा होती है जो कि गर्भावस्था के समय गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में सहायक होता है। साथ ही यह न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट से सुरक्षा प्रदान करता है।

 

हड्डियो को मजबूत बनाए

साबूदाने में कैल्शियम, आइरन, विटामिन K की भरपूर मात्रा पाई जाती है, इस वजह से यह हमारे शरीर की हड्डियो को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसके अलावा यह शरीर को लचीला बनाने में भी सहायक होता है।

 

वजन बढ़ाए साबूदाना

साबूदाना में कैलोरी की अधिक मात्रा होती है इस वजह से यह शरीर को वजन को बढ़ाने में मदद करता है। जिन लोगो को ईटिंग डिसॉर्डर की समस्या होती है और जिनका वजन आसानी से नही बढ़ पाता है उनके लिए साबूदाना एक अच्छा विकल्प होता है।

 

त्वचा के लिए

साबूदाने का प्रयोग त्वचा की देखभाल के लिए भी किया जाता है। साबूदाने का फेस पैक बनाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे में कसाव आता है साथ ही झुर्रिया भी कम होती है।

 

जानें इसके अन्य लाभ

  1. साबूदाने का प्रयोग शरीर की थकान को दूर करने में किया जाता है।
  2. इसके अलावा साबूदाना का प्रयोग शरीर में कोलेस्टरॉल की मात्रा को नियंत्रित करने में किया जाता है।
  3. यह शरीर में प्रोटीन की मात्रा को पूरा करने के साथ-साथ सभी मसल्स की ग्रोथ को बढ़ने में भी किया जाता है।
  4. इसका प्रयोग शरीर की गर्मी को दूर करने में भी किया जाता है।साबूदाने को चावल के साथ मिलाकर बनाए और सेवन करे। इससे शरीर को ठंडक पहुचती है। इसके अलावा कई देशो में इसे शरीर की प्रक्रिया को सुधारने में भी प्रयोग किया जाता है।

यहाँ आपने जाना Health Benefits of Sago in Hindi. अगर आप भी साबूदाना से बने पदार्थ खाने के शौकीन है तो टेंशन फ्री होकर आगे भी इसे खाते रहे और शरीर को स्वस्थ बनाये रहे।