हर्पीज़ एक तरह का चर्म रोग है, जो की एक खतरनाक बीमारी होती है। इस बीमारी में त्वचा पर पानी से भरे हुए छोटे छोटे दाने हो जाते है। यह शरीर के एक ही हिस्से में एक जगह पर बहुत सारे होते है।  इसमें असहनीय दर्द होता है और  रोगी को बुखार भी आ जाता है।

रिसर्च के मुताबिक बताया गया है की यह बीमारी 40 की उम्र के बाद  देखी जाती है। यह बीमारी अधिकतर मुँह या जननांग पर पायी जाती है। हर्पीज़ दो तरह से हो सकता है।

एक तो चेहरा यानि मुंह, आँख, चेहरे और होंठ को प्रभावित करता है और दूसरा  जननांग  वाले हिस्से को हानि पहुंचाता है।

चिंताजनक बात यह है इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है। बस आप सावधानी रख कर Herpes Disease इससे बच सकते है। आपको यह भी बता दे की यह यौन सम्बन्धो द्वारा फैलने वाला रोग होता है।

Herpes Disease: यह क्या होता है और इसके लक्षण क्या है

Herpes Disease

What is Herpes: हर्पीज़ क्या होता है

  • यह एक संक्रमण है जो दो तरह का होता है। एक तो ओरल जिसे HSV 1 भी कहते है और दूसरा जेनाइटल जो HSV 2 के नाम से भी जाना जाता है।
  • इस बीमारी से जो छाले होते है वह महिलाओं की बच्चेदानी पर बुरा असर करती है।
  • और ये छाले पुरुषो के मूत्र मार्ग को भी छति पहुंचाते है।

ओरल हर्पिस या HSV 1

इसके लक्षण आपको मुँह या होठो पर देखने को मिलते है।  जहाँ पर पानी से भरे लाल रंग के दाने निकल जाते है।  कई  बार तो लोग  इन दानो को  कोल्ड सोर समझ लेते है जिससे वो इन पर ध्यान नहीं देते।

इस तरह फैलता है HSV 1

संक्रमित व्यक्ति के साथ ओरल सेक्स या मुँह के संपर्क से यह वायरस फैलता है।  इसमें जो छाले होते है बाह ज्यादा दिनों तक दिखाई नहीं देते।  अगर आप रोगी का लिप बाम भी उपयोग कर रहे है तो न करे क्यूंकि ये इससे  भी यह फेल  जाता है।

क्या होता है HSV 2 या जेनाइटल हर्पीस

इस तरह के वायरस  में गुदा मार्ग या योन अंगों के आसपास या ऊपर छाले दिखने लगते है।  जिसने आपको जलन और खुजलाहट होने लगती है।  ये छाले एक बार ठीक होने के बाद कुछ समय के बाद फिर से दिखाई देने लगते है।  और पुनः धीरे धीरे कम  हो जाते है।

इस तरह फैलता है HSV 2 या जेनाइटल हर्पीस

सेक्स करने से यह संक्रमण होता है।  जिसके लक्षण आप सेक्स के 2 सप्ताह बाद देख सकते है।  इस वायरस  का कारण होता है एक से ज्यादा लोगो के साथ योन सम्बन्ध रखना।

इस तरह रह सकते है सुरक्षित

जब भी आप सम्बन्ध बनाते है तो कंडोम का उपयोग करे। जो सबसे ज्यादा सुरक्षित  रहता है। और यह भी कर सकते है की जब तक हर्पीस से ग्रसित व्यक्ति ठीक नहीं हो जाता उनसे थोड़ी दूरी बनाये।

ऊपर आपने Herpes Disease के बारे में जाना| जैसे ही हर्पीस के लक्षण दीखते है डॉक्टर को तत्काल दिखाना चाहिए|