Herpes Disease: एक प्रकार का योन संक्रमण, सावधानी है जरूरी

हर्पीज़ एक तरह का चर्म रोग है, जो की एक खतरनाक बीमारी होती है। इस बीमारी में त्वचा पर पानी से भरे हुए छोटे छोटे दाने हो जाते है। यह शरीर के एक ही हिस्से में एक जगह पर बहुत सारे होते है।  इसमें असहनीय दर्द होता है और रोगी को बुखार भी आ जाता है।

रिसर्च के मुताबिक बताया गया है की यह बीमारी 40 की उम्र के बाद  देखी जाती है। यह बीमारी अधिकतर मुँह या जननांग पर पायी जाती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ पूरी दुनिया में 50 साल की उम्र के आयुवर्ग के व्यक्तियों में करीब दो तिहाई फीसदी भाग वाले व्यक्ति हर्पीज़ की परेशानी से ग्रस्‍त होते हैं। ध्यान रखने वाली बात यह होती है इसमें कि इस संक्रमण का कोई भी लक्षण पता नहीं चल पाता है ।

हर्पीज़ दो तरह से हो सकता है। एक तो चेहरा यानि मुंह, आँख, चेहरे और होंठ को प्रभावित करता है और दूसरा जननांग वाले हिस्से को हानि पहुंचाता है। इसे HSV 1 और HSV 2 वायरस के नाम से भी जानते हैं जिन्हें Herpesvirus कहा जाता है कम्बाइन रूप में

चिंताजनक बात यह है इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है। बस आप सावधानी रख कर Herpes Disease इससे बच सकते है। आपको यह भी बता दे की यह यौन सम्बन्धो द्वारा फैलने वाला रोग होता है।

Herpes Disease: हर्पीज़ रोग यह क्या होता है और इसके लक्षण क्या है

Herpes Disease

What is Herpes: हर्पीज़ क्या होता है?

  • यह एक संक्रमण है जो दो तरह का होता है। एक तो ओरल जिसे HSV 1 भी कहते है और दूसरा जेनाइटल जो HSV 2 के नाम से भी जाना जाता है।
  • इस बीमारी से जो छाले होते है वह महिलाओं की बच्चेदानी पर बुरा असर करती है।
  • और ये छाले पुरुषो के मूत्र मार्ग को भी छति पहुंचाते है।

ओरल हर्पीज़ या HSV 1

  • ओरल हर्पीज होने पर इसका संक्रमण पीड़ित के मुंह या होंठो पर  होता है और इसके लक्षण भी आपको मुँह या होठो पर हीं देखने को मिलते है।
  • इस संक्रमण से जहाँ आपके मुह या होंठ पर पानी से भरे लाल रंग के दाने जैसे निकल आते है।  ये दाने दाद की तरह होते हैं ।
  • कई  बार तो लोग  इन दानो को कोल्ड सोर समझ लेते है जिससे वो इन पर ध्यान नहीं देते।
  • पर ऐसा करना खतरनाक होता है और इसकी पूरी जांचा कर के संतुष्ट हो जाना हीं सबसे बेहतर होता है ।

इस तरह फैलता है HSV 1

  • HSV 1 संक्रमित व्यक्ति के साथ ओरल सेक्स या मुँह के संपर्क से यह वायरस फैलता है।
  • इसमें जो छाले होते है वह ज्यादा दिनों तक दिखाई नहीं देते।
  • ऐसे में अगर आप रोगी का लिप बाम भी उपयोग कर रहे है तो न करे क्यूंकि ये इससे  भी यह फ़ैल जाता है।
  • इसका कोई सटीक इलाज फिलहाल उपलब्ध नहीं इसलिए HSV Infection से बचने के लिए इससे बचाव हीं ज्यादा बेहतर होता है ।

क्या होता है HSV 2 या जेनाइटल हर्पीज

  • इस तरह के वायरस में गुदा मार्ग या फिर यौन अंगों के आसपास या ऊपर छाले जैसे दिखने लग जाते है।
  • इन छालों की वज़ह से आपको जलन और खुजलाहट होने लग जाती है।
  • ये छाले एक बार ठीक हो जाने के बाद कुछ समय के बाद फिर से दिखाई देने लग जाते है।  और पुनः धीरे धीरे कम होते चले जाते है।

इस तरह फैलता है HSV 2 या जेनाइटल हर्पीज

  • सबसे ज्यादा सेक्स सबंध बनाते समय HSV 2 के संक्रमण का खतरा होता है।
  • HSV 2 Symptoms आपको आपके द्वारा संक्रमित व्यक्ति के साथ सेक्स सम्बन्ध बनाने के 2 सप्ताह के बाद देखने को मिल सकते है।
  • इस वायरस  का मुख्य कारण होता है एक से ज्यादा लोगो के साथ सेक्स सम्बन्ध रखना या बनाना भी हो सकता है ।
  • ऐसा करने से ये संक्रमण आपके यौन अंगों पर अपना असर छोड़ने लग जाता है और समस्याएं धीरे धीरे बढ़ने लग जाती है ।

इस तरह रह सकते है सुरक्षित

  • सेक्स सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का ध्यान जरूर रखें, यह ना सिर्फ इस समस्या से बचने में लाभ पहुंचता है बल्कि कई और बीमारियों से भी आपकी रक्षा करता है ।
  • इसीलिए जब भी आप सबंध सम्बन्ध बनाते है तब कंडोम का उपयोग करे। कंडोम का इस्तेमाल करना सबसे ज्यादा सुरक्षित माना जाता है।
  • इसके अलावा यह भी कर सकते है की जब तक हर्पीज से ग्रसित व्यक्ति ठीक नहीं हो जाता आप संक्रमण से बचने के लिए उनसे थोड़ी दूरी बना कर रखें ।

कुछ और महत्वपूर्ण जानकारियाँ हर्पीज़ से जुड़ी

  • जब आपको HSV Symptoms बिलकुल भी ना दिखे तब इसे पहचान पाना थोड़ा ज्यादा मुश्‍किल हो जाता है।
  • अगर इस बीमारी के आपके पार्टनर के ऊपर कुछ लक्षण दिखाई दे रहे हों तो CDC नाम के एक टेस्‍ट को करवाने को बोला जा सकता है।

ब्लड टेस्ट

  • अमेरिकी सेक्स हेल्थ एसोसिएशन के मुताबिक़ रक्त जांच दृारा इस संक्रमण पता लगाया जा सकता है।
  • इसमें टेस्ट में देखा जाता है कि बीमारी से लड़ने के लिये आपके शरीर का इम्‍मयून सिस्टम किस तरह से काम कर रहा है।
  • इसके बाद सेक्स रिलेशन स्थापित करने के 10 से 12 सप्ताह तक का इंतजार करें और उसके बाद अगर आपको ऐसा लगे कि आप में इस वायरस के लक्षण आए हैं, तो आप STD जांच के लिये जाएं और चिकित्सक से हर्पीज जांच करने को बोलें।

डीएनए टेस्ट

  • यह टेस्‍ट एक स्पष्ट विधि से आपको सब कुछ बता देगा ।
  • इसके लिए अपने चिकित्सक से इस टेस्‍ट के बारे में सबसे पहले बात करें और बीमारी का पता लगाएं और बीमारी को फैलने से कैसे रोकें इसके बारे में जानकारी लें ।

बीमारी को फैलने से कैसे रोकें?

  • इस बीमारी से बचने का सबसे बेहतर रास्ता है संभोग करते समय कंडोम का इस्तेमाल किया जाय साथ हीं आप जिस व्‍यक्‍ति में यह वायरस मौजूद है उससे कुछ समय तक दूरी बना कर रखें
  • ये दूरी आपको तब तक बना कर रखनी है जब तक कि उसके हर्पीज के लक्षण पूरी तरह से खतम ना हो जाएं।

ऊपर आपने Herpes Disease के बारे में जाना । जैसे ही हर्पीज के लक्षण दीखते है डॉक्टर को तत्काल दिखाना चाहिए और अपना ख्याल रखना चाहिए ।


You may also like...