दांतो को स्वस्थ रखने के लिए दांतो की देखभाल बहुत ही जरुरी होती है नहीं तो हमारे दांत कई प्रकार के रोगो से ग्रसित हो जाते है। किसी कारण से यदि आपका दांत निकाल दिया गया है और उसकी जगह सॉकेट लगवाया है तो उसमें भी समस्या हो सकती है।

जब कभी भी सॉकेट के नीचे खून के धब्बे बनने लगते हैं तब सॉकेट में समस्या उत्पन्न होने लगती है। साथ ही इस समस्या के कारण हड्डी और वाहिकाओं में भी समस्या हो जाती है।

ड्राई सॉकेट को एल्वेलर ऑस्टीटिस नाम से भी जानते है। कभी कभी इसके कारण संक्रमण भी हो सकता हैI यदि दांत निकालने के उपरांत भी 3-4 दिन तक दर्द हो तो यह ड्राई सॉकेट की समस्या हो सकती है।

इसके लक्षणों को देखे तो इसमें आँख, कान और गर्दन में दर्द होने लगता है और खाने की भी समस्या हो सकती है। मुंह में सूजन, हल्का बुखार, सांसों में बदबू, मुंह स्वादहीन होना आदि लक्षण भी दिखाई दे सकते है| आइये इसकी समस्या से बचने के लिए Home Remedies for Dry Socket.

Home Remedies for Dry Socket: जानिए इसके घरेलू उपचार

Home Remedies for Dry Socket

नींबू और नमक (Lemon and Salt)

  • ड्राई सॉकेट के लिए नींबू और नमक दोनों एंटीसेप्टिक की तरह कार्य करते हैं।
  • इसका उपयोग करने से दर्द और संक्रमण दोनों ही दूर हो जाते है।
  • नींबू के रस में थोड़ा नमक डालकर इसे सीधे दांतों पर लगायें, इससे जल्द आराम मिलेगा।
  • क्यूंकि नींबू विटामिन सी का अच्छा स्रोत है जो दांतो को लाभ पहुंचाता है।

हल्दी (Turmeric)

  • ड्राई सॉकेट होने पर हल्दी का पाउडर उपयोग करें।
  • और यदि ज्यादा दर्द हो रहा हो तो पानी को हल्का गरम करके उसमें हल्दी पाउडर डालें।
  • फिर इस पानी से कुल्ला करें।
  • इससे दर्द दूर हो जायेगा और संक्रमण भी नहीं होगा।
  • आपको बता दे की हल्दी बहुत ही गुणकारी औषधि है।

बर्फ का उपयोग (Ice)

  • ड्राई सॉकेट होने से यदि मुंह और जबड़ों में ज्यादा सूजन हो गई है तो बर्फ से सिंकाई करनी चाहिए।
  • क्यूंकि ऐसा करने से सूजन कम होती है साथ ही दर्द से राहत भी मिलती है।

दही (Yogurt)

  • दही पौष्टिक होने के साथ साथ ड्राई सॉकेट की समस्या का को भी दूर करता है।
  • यह एक प्रकार का नैचुरल एंटीबायोटिक है, इसलिए ही इसके सेवन से ड्राई सॉकेट की समस्या में आराम मिलता है।

नमक का पानी (Salt Water)

  • नमक का पानी किसी भी प्रकार के दर्द या सूजन को कम करने में मदद करता है।
  • यह मुंह की समस्याओ के लिए बहुत लाभदायक होता है।
  • ड्राई सॉकेट में भी नमक के पानी का उपयोग बहुत अच्छा होता है।
  • इसके लिए पानी को हल्का गरम करके उसमें नमक डाल लीजिए।
  • इसके बाद इस पानी से गरारा कीजिए, जल्द ही आराम मिलेगा।

लौंग के तेल का उपयोग (Clove Oil)

  • लौंग दांतों के लिए बहुत ही लाभकारी होती है।
  • इसी कारण ड्राई सॉकेट की समस्या में यदि लौंग के तेल का उपयोग किया जाए तो इससे फायदा होता है।
  • इसके उपयोग के लिए सबसे पहले आप साफ पानी में रूई को डुबोयें फिर पानी निचोड़कर इसे लौंग के तेल में भिगोकर दांतों में लगायें।
  • आसपास वाले दांतों पर भी लगायें। ऐसा दिन में दो या तीन बार करे|