Home Remedies for Hernia – हर्निया से बचाव के जरुरी प्रभावी घरेलू उपचार

जब पेट की मांसपेशियाँ कमजोर हो जाती है तो आँत बाहर की और निकलने लगती है। आंतो के बाहर निकलने की अवस्था को हर्निया कहा जाता है।

आँत का एक हिस्सा बाहर की उतर जाता है जिसके चलते पेट की त्वचा के नीचे एक असामान्य उभार आ जाता है, जो ठीक नाभि के नीचे होता है।

हर्निया एक बहुत ही पीड़ादायक स्थिति है। यदि यह बहुत बढ़ जाए तो इसे केवल सर्जरी द्वारा ठीक किया जा सकता है। लेकिन यदि शुरुवात में ही आप इसके लक्षणों का पता करलें, तो इसे घरेलू उपचारो द्वारा भी ठीक किया जा सकता है।

इसकी समस्या की बात करे तो लंबे समय से खांसते रहने या लगातार भारी सामान उठाने से भी पेट की मसल्‍स कमजोर हो जाती है जिससे हर्निया की संभावना बढ़ जाती है। इसके अलावा इसके अन्य कारण भी है। आइये जानते है Home Remedies for Hernia.

Home Remedies for Hernia – हर्निया से ग्रस्त मरीजों के लिए नुस्खे

Home Remedies for Hernia

एनाल्जेसिक गुणों से भरपूर मुलेठी

  • कफ और खांसी में तो मुलैठी एक प्रभावी दवा की तरह कार्य करती है। उसी तरह हर्निया के इलाज में भी यह बेहद ही कारगर है।
  • हर्निया आपकी पेट की परत और अणुओं को नुकसान पहुँचाता है किन्तु मुलेठी की जड़ शरीर के इन हिस्सों का उपचार करती है।
  • खास तौर पर जब पेट में हर्निया निकलने के बाद रेखाएं पड़ जाती है तब इस उपचार को जरूर अपनाना चाहिए।
  • मुलैठी में एनाल्‍जेसिक गुण मौजूद होते है जो दर्द और सूजन को दूर करते है।

इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर कैमोमाइल चाय

  • कैमोमाइल चाय एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है। इसलिए हर्निया के लिए भी यह अच्छा उपाय है।
  • दरहसल हर्निया की समस्‍या में एसिडिटी और गैस बनने लगती है और कैमोमाइल चाय एसिड बनने की प्रक्रिया को कम करता है।
  • प्रयोग के लिए एक कप गर्म पानी में सूखे कैमोमाइल को डालकर 5 मिनट के लिए ढककर रख दें।
  • फिर इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में 2 से 3 बार इसका सेवन करे।

अदरक की जड़ का इस्तेमाल करें

  • अदरक की जड़ पेट में गैस्ट्रिक एसिड से हुए नुकसान में सुरक्षा प्रदान करता है।
  • जिससे यह हर्निया में होने वाले दर्द को कम करता है।
  • अदरक में मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी गुण आपको इससे होने वाली कई दूसरी परेशानियों में भी राहत दिलाते है।
  • आप अदरक की जड़ का सेवन कई प्रकार से कर सकते है। चाहे तो इसका तरल पदार्थ भी ले सकते है।
  • इसके अलावा आप कच्ची अदरक का भी सेवन कर सकते है। Hernia Treatment में यह उपचार काफी कारगार साबित होगा।

एप्पल साइडर सिरका

  • एप्पल साइडर सिरका का इस्तेमाल आपको हर्निया में होने वाली दूसरी परेशानियों से राहत दिलाने में काफी हद तक सक्षम होता है।
  • यह हर्निया में होने वाले दर्द, हार्ट बर्न और एसिडिटी से राहत दिलाता है।
  • जब कभी भी आपको एसिडिटी या फिर हार्ट बर्न की समस्या हो तो आपको 1 से 2 चम्मच एप्पल साइडर सिरका को गर्म पानी में मिलकर पीना चाहिए।

मार्शमैलौ

  • यह जंगली औषधि होती है जो स्वाद में काफी ज्यादा मीठी होती है।
  • इसकी जड़ में काफी औषधीय गुण भी होते है। यह पाचन क्रिया को ठीक करने में मददगार होता है।
  • इसके सेवन से पेट-आंत में एसिड बनने की प्रक्रिया कम होती है।
  • हर्निया के दर्द में भी यह काफी फायदा पहुँचाता है। इसलिए आपको Hernia Pain Relief के तौर पर इसका इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

हावथोर्निया (Hawthornia)

  • यह एक हर्बल सप्लीमेंट माना जाता है जो पेट की मांसपेशियों को कमज़ोर होने से रोकता है और मजबूत बनाता है।
  • इसके सेवन से बॉडी के अंदर के पार्ट्स को सुरक्षा मिलती है।
  • यह हर्निया को निकलने से रोकने में सहायक होता है।

अन्य घरेलू उपचार

  • एक कप दूध में अरंडी का तेल डालकर पीने से हर्निया ठीक हो जाता है। इस प्रयोग को एक महीने तक करे।
  • टमाटर के रस में थोड़ा सा नमक और काली मिर्च मिलाकर रोज सुबह पियें। इससे हर्निया ठीक होने में भी सहायता मिलती है।
  • कच्‍ची अदरक या अदरक से बनी चाय भी हर्निया से हुए दर्द में राहत दिलाती है।
  • बबूने के फूल के सेवन से भी हर्निया में आराम मिलता है। यह पाचन तंत्र को ठीक करता है और एसिड बनने की प्रक्रिया को कम करता है।
  • Hernia Stomach संबंधित समस्या को बड़ा देता है। इसके रोगी के लिए बहुत जरुरी है कि वह कब्ज की समस्या ना होने दे वरना मल त्यागते समय उसे जोर लगाने की आवश्यकता पड़ती है।
  • हर्निया से परेशान लोगो को इसके दर्द से राहत पाने के लिए बर्फ का इस्तेमाल करना चाहिए। आपको दर्द वाली जगह पर बर्फ लगानी चाहिए।
  • त्रिफला भी हर्निया की समस्या में फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको रात को सोते समय एक चम्मच त्रिफला चूर्ण को एक गिलास गुनगुने पानी के साथ लेना चाहिए।
  • अरण्डी के तेल का इस्तेमाल भी हर्निया की समस्या में फायदेमंद होता है। इसके लिए एक कप दूध में 2 चम्मच अरण्ड का तेल डालें। इसका सेवन 1 महीने तक करें इससे हर्निया की समस्या दूर हो जाएगी।
  • कॉफ़ी का भी ज्यादा मात्रा में सेवन करने से हर्निया की समस्या में फायदा होता है। इसलिए हर्निया के मरीजों को जितना हो सके उतनी ज्यादा कॉफ़ी पीना चाहिए।

इस बातो का रखें ध्यान

  • हर्निया के घरेलू इलाज आजमाने से पहले डॉक्टर से ज़रूर संपर्क कर लें।
  • हर्निया में प्रभावित जगह को कभी भी गर्म कपड़े या फिर गर्म चीज़ सेके ना।
  • हर्निया के मरीजों को कसरत नहीं करना चाहिए। इससे उनका दर्द ओर ज्यादा बढ़ जाता है।
  • हर्निया के मरीजों को ज्यादा टाइट कपड़े नहीं पहना चाहिए।
  • आपको एक बार से ज्यादा हैवी भोजन नहीं करना चाहिए, थोड़ी थोड़ी देर में कुछ कुछ खाना चाहिए।
  • खाना खाने के तुरंत बाद आपको कोई भी झुकने का काम नहीं करना चाहिए।
  • अगर कोई हर्निया के मरीज को शराब नहीं पीना चाहिए, अगर रोगी पहले से इसका सेवन करता है तो इसका सेवन तुरंत बंद कर देना चाहिए।

हर्निया के मरीजों को अपनी इस समस्या के उपचार हेतु क्या करना चाहिए और किन बातों का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए। इस बारे में हमने ऊपर विस्तार से जानकारी दी है।

Spread the love

You may also like...