वजन घटाने के लिए केवल स्वस्थ भोजन मदद नहीं कर सकता है| इसके लिए आपको अपने हार्मोन के बारे में भी पता होना चाहिए| आपको बतादे की यदि आपके हार्मोन संतुलित नहीं हैं तो जिद्दी वसा को कम करना बहुत मुश्किल हो सकता है|

और तभी तो कहा जाता है वजन घटाना आसान नहीं है| हार्मोन आपके शरीर में महत्वपूर्ण प्रतिक्रियाओं को जैसे की चयापचय, सूजन, रजोनिवृत्ति, ग्लूकोज तेज गति आदि को नियंत्रित करते हैं। लेकिन तनाव, उम्र का बढ़ना, खराब जीवन शैली हार्मोन को असंतुलित कर देती है|

और जैसा की हमने ऊपर बताया की हार्मोनल असंतुलन मेटाबोलिज्म बिगाड़ना, इनडाइजेशन, हंगर बढाती है जिससे वजन बढ़ता है| असंतुलित हार्मोन के चलते महिलाओ को मोटापे से संबंधित कई बीमारियों का सामना करना पढता है|

आप भी वजन घटाने की कोशिशों में लगे है लेकिन वजन घटने का नाम ही नहीं ले रहा है तो आप पहले पता करिये की कही कोई हार्मोन तो इसके पीछे जिम्मेदार नहीं हैं| आइये Hormones and Weight Gain के बारे में विस्तार से जानते है|

Hormones Responsible for Weight Gain in Women: महिलाओं में वजन का बढ़ना

Hormones Responsible for Weight Gain in Women

एस्ट्रोजन

एस्ट्रोजन का हाई और लो लेवल दोनों वजन बढ़ने के पीछे जिम्मेदार है| एस्ट्रोजन हॉर्मोन दो कारणों से बढ़ सकता है जब ओवेरियन सेल्स इस हॉर्मोन का उत्पादन ज्यादा करने लगता है या फिर जब आप एस्ट्रोजन से भरपूर डाइट लेने लगते है|

एस्ट्रोजेन लेवल को सही कैसे बनाए रखे

  • अल्कोहल का सेवन कम करे|
  • रोज व्यायाम करे और स्ट्रेस फ्री रहने के लिए योग करे|
  • साबुत अनाज, सब्जिया और फलो को अपनी डाइट में शामिल करे|
  • प्रोसेस्ड मीट ना खाये, यदि मीट खाते है तो इसे लोकल मार्किट से ख़रीदे|

थाइराइड

थाइराइड ग्रंथि, जो आपकी गले में मौजूद होती है, तीन हार्मोन-टी 3, टी 4, और कैल्सीटोनिन पैदा करता है। ये हार्मोन मेटाबोलिज्म, नींद, हृदय गति और मस्तिष्क के विकास आदि को विनियमित करते हैं।

कभी-कभी थायरॉयड ग्रंथि थायराइड हार्मोन उत्पन्न करती है जिससे हाइपोथायरायडिज्म होता है| हाइपोथायरायडिज्म होने पर  अवसाद, कब्ज, थकान, उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल और वजन बढ़ने जैसी चीज़े देखने को मिलती है|

थायराइड असंतुलन का इलाज कैसे करे

  • थायराइड उत्तेजक हार्मोन (टीएसएच) टी 3 और टी 4 की जाँच करे। अपनी रिपोर्ट्स चिकित्सक को दिखाए|
  • कच्ची सब्जिया खाने से बचे, अच्छी तरह से पकाया गया खाना खाएं|
  • आयरन युक्त नमक का इस्तेमाल भोजन में करें|
  • मछली के तेल और विटामिन डी की खुराक लें
  • थायराइड की दवाएं लें यदि आपका डॉक्टर आपको कहता है|

कोर्टिसोल

कोर्टिसोल एक स्टेरॉयड हार्मोन है जो अधिवृक्क ग्रंथियों द्वारा बनता है| जब आप तनावग्रस्त, उदास, चिंतित, नाराज होते है या फिर आपको चोट लग जाती है तो यह बढ़ता है| कोर्टिसोल के दो मुख्य कार्य ऊर्जा विनियमन और ऊर्जा जुटाना है। इसके बढ़ने पर यह वसा कोशिकाओं को और बढ़ाता है|

कोर्टिसोल के स्तर को कम कैसे करें

  • रोज गहरी साँस लेने का अभ्यास, योग और ध्यान करे ताकि आपके अंदर तनाव कम हो|
  • हर रात 7 से 8 घंटे की नींद लें|

इसके अलावा टेस्टोस्टेरोन, घ्रेलिन, लेप्टिन, इंसुलिन आदि हॉर्मोन वजन बढ़ने के पीछे जिम्मेदार होते है|