Linseed benefits in hindi: अलसी का सेवन आपकी सेहत के लिए है अमृत समान

अलसी एक बेहद प्राचीन खाघ पदार्थ है जिसके सेवन मात्र से ही मनुष्य काफी तंदुरुस्त रह सकता है। आजकल अलसी को पूरी दुनिया में किसी न किसी रूप में ज़रूर इस्तेमाल किया जाता है जैसे खाना बनाने के लिए या फिर कुछ स्वस्थ संबंधित चीज़े बनाने के लिए। इसका स्वाद और सुगंध अखरोट जैसा होता है इसलिए कई लोग इसे पसंद करते है।

अलसी के बीजो में तीन सबसे अच्छे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते है जो की शरीर के लिए काफी ज्यादा फ़ायदेमंद होते है वो तीन तत्व है – ओमेगा 3, लिगनन, म्यूसिलेज। अलसी के लिए यह कहा जाता है की ये ओमेगा 3 फैटी एसिड का सबसे अच्छा स्रोत है। इसके अलावा भी अलसी में कई सारे गुण होते हैं जैसे इसमें विटामिन बी 1, प्रोटीन, मैंगनीज, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, आयरन, जिंक और सेलेनियम भी भरपूर मात्रा में होता है।

शाकाहारी लोगो के लिए अलसी ओमेगा 3 फैटी एसिड प्राप्त करने का सबसे अच्छा जरिया है जो की लगभग 50% अल्फ़ा लिनोलिक एसिड के रूप में मौजूद होता है। साथ ही इसका अगर आप सही मात्रा में रोज़ सेवन करते है तो यह आपकी सेहत पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

अगर आपको गेंहू के आटे से एलर्जी है तो अलसी आपके लिए एक सबसे अच्छा और मूल्यवान विकल्प है जिससे की आप सेहतमंद रह सकते है। इस लेख में पढ़े अलसी के फायदों के बारे में।

Linseed benefits in hindi: अलसी के सेवन से होने वाले फायदे

Linseed benefits in hindi

हार्ट के लिए फ़ायदेमंद

  • अलसी में मौजूद तत्वों के कारण ही यह हार्ट के लिए भी काफी फ़ायदेमंद होती है।
  • इसके तत्व काफी ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक होते है जिससे दिल की सभी प्रकार की बीमारियों को दूर रखने में मदद मिलती है।
  • अलसी में मोनोअनसेचुरेटेड (monounsaturated) और पॉलीअनसेचुरेटेड (polyunsaturated) वसा के साथ ओमेगा 3 फैटी एसिड भी मौजूद होता है जो हार्ट के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है।
  • अलसी धमनियों (arteries) में पट्टिका (palque) के निर्माण को कम कर देता है।
  • इसके के कारण ही यह हृदय रोग और स्ट्रोक को कम करने में भी काफी हद तक फ़ायदेमंद होता है।
  • इसके साथ ही यह धमनियों में आयी सूजन को भी कम करती है और फिर से धमनियों को स्वस्थ बनाती है।  
  • अपने हार्ट को स्वस्थ रखने के लिए रोज़ पीसी हुयी अलसी का सेवन करे इससे दिल की बीमारी दूर रहेगी।

मेनोपॉज में भी मददगार

  • 2013 के एक शोध में पाया गया है की रोज़ाना अलसी का सेवन मेनोपॉज से जूझ रही महिलाओं के लिए काफी फ़ायदेमंद है।
  • अलसी मेनोपॉज के लक्षणों से लड़ने में भी काफी मददगार साबित होती है।
  • अलसी में मौजूद लिगनन यौगिक में ऐस्ट्रोजेनिक गुण होते है जो हॉट फ्लैशेस में मदद करता है और साथ ही मूड के उतार-चढ़ाव और योनि के सूखेपन को दूर करता है।
  • मेरीलैंड मेडिकल सेंटर के विश्वविद्यालय का सुझाव है की अगर रोज़ एक चम्मच अलसी के पाउडर का सेवन दिन में 2 से 3 बार किया जाए तो महिलाओं में मेनोपॉज के लक्षणों को काफी हद तक कम किया जा सकता है।
  • अलसी का सेवन महिलाओं के मासिक धर्म के चक्र को नियमित बनाने के लिए फ़ायदेमंद होता है।
  • अलसी का सेवन प्रजनन की क्षमता बढ़ाने के लिए भी किया जाता है।

कोलेस्ट्रॉल कम करने में फ़ायदेमंद

  • अलसी का नियमित रूप से सेवन ख़राब कोलेस्ट्रॉल को भी सुधारने में कारगर होता है।
  • पोषण अनुसंधान में पब्लिश 2010 के एक शोध में यह साबित हुआ है की रोज़ 100 मिलीग्राम अलसी के बीज का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम रखता है।
  • अलसी के बीज में पाए जाने वाले फ्लवोनोइड्स (flavonoids) कम डेंसिटी वाले लेपोप्रोटीन (LDL) हार्ट की बीमारियों को दूर करता है।
  • अलसी के बीज में घुलनशील फाइबर होता है जिससे की वो शरीर में कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को रोकने में मदद करता है।
  • कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए  रोज़ 2 से 4 चम्मच पिसे हुए अलसी के बीज का सेवन करना चाहिए।

वजन कम करने में मददगार

  • अलसी में मौजूद तीन मुख्य तत्व – ओमेगा 3 फैटी एसिड, फाइबर और लिगनन वजन कम करने में काफी ज्यादा फ़ायदेमंद होते है।
  • अलसी के सेवन से मिलने वाला फाइबर आपकी भूख को कम करने का काम करता है।
  • अलसी के सेवन से आपका पेट काफी ज्यादा समय के लिए भरा हुआ रहता है।
  • इसके साथ अलसी विटामिन बी, पोटेशियम, मैग्नीशियम जैसे तत्वों से भरपूर होता है जो आपको वजन कम करने में सहायक होते है।
  • वजन कम करने के लिए अलसी के बीजो के सेवन की जगह साबुत अलसी का सेवन करे जल्दी अच्छे परिणाम मिलेंगे।
  • अलसी का सेवन आप कई प्रकार से कर सकते है जैसे सलाद में डाल कर, सब्जी, मिक्स जूस या फिर दही में डालकर खा सकते है।

कैंसर में भी फ़ायदेमंद

  • अमेरिकी कैंसर अनुसंधान संस्थान के एक अध्ययन के अनुसार कैंसर के जोखिम को कम करने में अलसी असरदार है।
  • अध्ययनों में यह भी साबित हुआ है की अलसी में प्रोस्टेट, डिंबग्रंथि, स्तन कैंसर और पेट के कैंसर से लड़ने वाले तत्व होते है।
  • अलसी के बीज का पाउडर और अलसी का तेल दोनों ही अल्फ़ा लिनोलेनिक एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड से युक्त होता है जो कैंसर के खिलाफ लड़ने में काफी ज्यादा मददगार होता है।

डायबिटीज के लिए मददगार

  • अलसी का रोज़ सेवन टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों के शुगर लेवल को सुधारता है।
  • विज्ञान पब्लिक लाइब्रेरी में पब्लिश 2007 के एक अध्ययन में यह पाया गया है की जो लोग 12 हफ्तों के लिए अलसी के बीज के सप्लीमेंट्स का सेवन करते है उनका ब्लड शुगर बेहतर स्थिति में रहता है।  
  • अलसी में अल्फ़ा-लिनोलेनिक एसिड के आलावा प्रोटीन और फाइबर भी मौजूद है जो शुगर लेवल को शरीर में नियंत्रित रखता है।
  • अगर आप दवाई ले रहे है तो अलसी के सेवन के पहले एक बार अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछ ले।
  • रोज़ाना अलसी का सेवन आपको हाइपोग्लाइसीमिया (hypoglycemia) से भी बचाता है।

अलसी हर प्रकार से शरीर के लिए काफी फ़ायदेमंद होती है इसलिए इसे सबसे अच्छा खाद्यपदार्थ माना जाता है जो बॉडी के सभी पार्ट्स के लिए लाभदायक और उन्हें स्वस्थ रखने में भी सक्षम होती है। ऊपर आपने पढ़ा अलसी के सेवन से होने वाले फ़ायदों के बारे में तो आप अलसी का सेवन नियमित रूप से शुरू कर दें और हमेशा के लिए सेहतमंद रहें ।

You may also like...