Mulethi Benefits in Hindi: अनेक रोगों की दवा मुलेठी के फायदे जाने और स्वस्थ रहें

मुलेठी जिसका उपयोग कई प्रकार से किया जाता है। मुलेठी को एक बहुत लोकप्रिय मसाला जाता है साथ ही इसको काफी पसंद भी किया जा रहा है।

भारत में इसे प्राचीन काल से ही इस्तेमाल किया जाता है। इंग्लिश में इसे Licorice के नाम से भी जाना जाता है। इसमें कई प्रकार के अौषधीय गुण भी पाए जाते है। यह कई प्रकार की बीमारियों में दवा का काम करती है।

मुलेठी में कई फाइटोकेमिकल्स जैसे फ्लैनोनोड्स, चाल्कोन्स, सैपोनिन और एक्सनोएस्ट्रोजेन्स मजूद होते है। मुलेठी एक प्रकार की जड़ी बूटी है। जिसमे कई प्रकार के तत्व जैसे विटामिन इ, बी, फास्फोरस, कैल्शियम, कोलिन, लोहा, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सेलेनियम, सिलिकॉन आदि मौजूद होते है।

इस लेख में आज हम आपको बता रहे कि मुलेठी कितनी गुणकारी है और उसके कितने फायदे होते है। यह किस प्रकार की समस्याओं से राहत दिलाने में सक्षम है। तो आइये जानते है Mulethi Benefits in Hindi.

Mulethi Benefits in Hindi: जाने मुलेठी के गुणकारी फायदों के बारे में

Mulethi Benefits in Hindi

याद्दाश्त बढ़ाए

  • जिन लोगों को भूलने की बीमारी रहती है उन्हें मुलेठी का सेवन करना चाहिए।
  • इसके अंदर पाए जाने वाले गुणकारी तत्व मस्तिष्क को उत्तेजित करने वाली नस को प्रभावित करते है।
  • इससे भूलने की समस्या में लाभ होता है।

दिल को स्वस्थ रखे

  • मुलेठी का सेवन शरीर में पित्त के परवाह को बढ़ाता है।
  • हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कंट्रोल में रखता है।
  • कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकने में भी मदद करता है।
  • इससे दिल को सही और पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलता है।
  • इस वजह से दिल पर दबाव भी कम बनता है और हार्ट अटैक आने के चांसेज़ भी कम होते है।
  • कई लोग दिल की बीमारी से पीड़ित है ऐसे में यह Mulethi Benefits काफी असरकारी है।  

पाचन क्रिया में सुधार

  • मुलेठी का सेवन करने से पेट की कई प्रकार की समस्या जल्द ही ख़त्म हो जाती है।
  • मुलेठी में ग्लाइसीराहिजिन होता है जो पाचन क्रिया में मददगार साबित होता है।
  • यह पाचन से जुडी समस्या जैसे कब्ज, एसिडिटी आदि से राहत दिलाने में काफी सक्षम होता है।
  • पाचन क्रिया को सुधारने के लिए एक कप पानी गर्म करें फिर उसमे 1 चम्मच Mulethi Powder मिला लें और 10 मिनट के लिए ढक दें।
  • ऐसा करके मिश्रण को हफ्ते में 2 से 4 बार पियें।

पेट की समस्या

  • मुलेठी में पाए जाने वाले एंटी इन्फ्लामेंट्री और एंटी बैक्टीरियल गुण पेट में आयी सूजन को कम करने का काम करते है।  
  • यह पेट में आंतो में आयी ऐठन में भी लाभकारी होती है।
  • 2013 में मेडिकल साइंसेज के जर्नल ऑफ रिसर्च में पब्लिश एक अध्ययन में पाया गया कि पेप्टिक अल्सर पर मुलेठी से उपचार करना काफी मददगार है।
  • Mulethi in hindi पेट की कई प्रकार की समस्या से राहत दिलाने में काफी सक्षम है।  

लिवर के लिए फायदेमंद

  • मुलेठी पीलिया और हेपेटाइटिस जैसी बीमारियों में भी फायदेमंद होता है।
  • मुलेठी में प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सीडेंट गुण लिवर में कण या फिर विषैली चीज़ो से होने वाले संक्रमण से बचाता है।
  • इसी के साथ मुलेठी में पाए जाने वाले एंटी इन्फ्लामेंट्री गुण हेपेटाइटिस में आने वाली लिवर की सूजन को कम करने में मददगार होता है।

खांसी में राहत

  • मुलेठी का सेवन खराश, ठंड, खांसी और अस्थमा जैसी समस्या में फायदेमंद होता है।
  • इसमें पाए जाने वाले गुण एंटी इन्फ्लामेंट्री और एंटीऑक्सीडेंट साँस लेने वाले पाइप से सूजन कम करते है और साँस लेने मदद करते है।
  • इसका सेवन गले में बलगम को कम करता है और साथ ही उन सब संक्रमणों को कम करता है जो खांसी का कारण बनते है।
  • इसमें एंटी बायोटिक, एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण होते है जो साँस संबंधित समस्याओं को दूर करने में मददगार होते है।
  • Mulethi for cough के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है।

वजन कम करें

  • मुलेठी में मौजूद फ्लेवोनोइड बॉडी से अत्यधिक वसा को कम करने में काफी मदद करता है।
  • रिसर्च एंड क्लीनिकल प्रैक्टिस जर्नल के 2009 में पब्लिश मोटापे के एक अध्ययन में यह साबित हुआ है कि  मुलेठी फ्लेवोनॉइड ऑयल शरीर से जल्द ही वजन कम करने में काफी मददगार होती है।
  • वजन कम करने के लिए मुलेठी की कैंडी का सेवन सही नहीं होता है। क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में चीनी होती है।

मुंह की बदबू दूर करें

  • मुलेठी को खाने से सांसो की बदबू भी दूर होती है।
  • इसी के साथ दांतो और मसूड़ों को मजबूती मिलती है।
  • क्योंकि इसमें एंटी बायोटिक और एंटी बैक्टीरियल गुण होते है जो बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकता है।
  • अमेरिकन केमिकल सोसायटी के प्राकृतिक उत्पादों के जर्नल में पब्लिश 2012 के एक अध्ययन में यह साबित हुआ है कि पाउडर और मुलेठी मौखिक स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है।

इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करे

  • शरीर में इम्युनिटी कई प्रकार के वायरस, खराब बैक्टीरिया और संक्रमण से बचाए रखने के लिए जरुरी है।
  • मुलेठी का सेवन शरीर में प्राकृतिक रूप से इम्युनिटी को बढ़ाता है
  • इसमें मौजूद शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट इम्युनिटी को मजबूत बनाने का काम करते है।

गठिया में फायदेमंद

  • मुलेठी में एंटी इन्फ्लामेंट्री गुण होते है जो की पुराने से पुराने गठिया की समस्या को दूर करने में सक्षम होते है।
  • मुलेठी के गुण गठिया और सूजन को कम करने में काफी असरकार होते है।
  • ये उन फ्री रेडिकल्स को कम करता है जो दर्द का कारण बनते है।
  • बायोमेडिसिन और जैव प्रौद्योगिकी के जर्नल में 2010 में पब्लिश एक स्टडी में यह साबित हुआ है कि मुलेठी में पाए जाने वाले एंटी इन्फ्लामेट्री गुण गठिया के दर्द और रोग के इलाज में काफी मददगार होते है।
  • Licorice root benefits का यह एक सबसे अच्छा फायदा है।

डिप्रेशन में मददगार

  • मुलेठी में मैग्नीशियम, कैल्शियम और बीटा-कैरोटीन के साथ साथ फ्लेवोनोइड्स पाया जाता है जो की डिप्रेशन को कम करने में मदद करता है।
  • महिलाओं में रजोनिवृत्ति के पहले और बाद में होने वाली डिप्रेशन की भावना को कम करने लिए मुलेठी काफी कारगर साबित होगी।
  • डिप्रेशन के पीड़ित व्यक्ति को मुलेठी की चाय बनाकर पिलाना चाहिए।

Mulethi Plant की एक जड़ है, लेकिन अनेक गुणों से भरपूर है। यहाँ हमने आपको बताया कि इसका सेवन आपको किन-किन बीमारियों से बचने में मदद कर सकता है। मुलेठी का सेवन आपको हमेशा स्वस्थ रखता है। इसमें पाए जाने वाले कई अलग अलग प्रकार के तत्व शरीर को लाभ पहुंचाते है।

Spread the love

You may also like...