Parwal Benefits: प्राकृतिक रूप से स्वस्थ्य सम्बन्धी समस्याएं दूर करे परवल की सब्जी

आम सब्जियों की तरह परवल भी एक प्रकार की सब्जी है जो की कई रसोई घर में बनाई जाती है। इसे अंग्रेजी में Pointed Gourd के नाम से भी जाना जाता है। यह पकने में आसान, खाने में स्वादिष्ट और दाम में सस्ती होती है। यहाँ तक की भारत के कुछ स्थानों पर तो परवल की कई प्रकार की मिठाई भी बनाई जाती है।

पॉइंटेड गॉर्ड दरअसल गॉर्ड फॅमिली की एक सब्जी होती है। इसके अलावा गॉर्ड परिवार में करेला, चछेड़ा, तुरई भी आती है। सर्दियों के मौसम में Parwal Ki Sabji खाना लोग बहुत पसंद करते है। यह हमारे पेट के लिए बहुत अच्छीशरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवेल होती है।

Parwal Vegetable में कई प्रकार के विटमिन्स जैसे विटामिन ऐ, बी 1, बी 2 और विटामिन सी के साथ-साथ कैल्शियम आदि योगिक तत्व भी पाए जाते है। यह पोषक तत्व हमे कई प्रकार की बीमारियों से बचाने में मदद करते है। इसके अलावा परवल में कैलोरी की बहुत कम मात्रा पाई जाती है जिससे इसके सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवेल बढ़ नही पाता।

कुछ लोगो का मानना है की परवल के जूस में थोड़ी मात्रा में सौंफ और पीसा हुआ हींग का चूर्ण मिलाकर सेवन करने से मोटापे से निजात पाया जा सकता है। साथ ही यह जूस ताक़त और उर्जा भी देता है। जब परवल में इतने गुण होते है तो आइए आज के लेख में Parwal Benefits के बारे में पढ़े।

Parwal Benefits: शरीर को कई बीमारियों से दूर रखने मे है सहायक परबल

Parwal Benefits

शायद ही आप जानते होंगे की 100 ग्राम परवल के छिलके में 24 कैलोरी उर्जा, भरपूर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन सी, मैग्नीशियम,पोटैशियम और भी बहुत से पोषक तत्व मिलते है। इसमे ऐसे बहुत से औषधीय गुण होते है जो की हमारे शरीर को कई प्रकार के त्वचा रोग, बुखार और कब्ज आदि परेशानियों से राहत पहुँचाने में मदद करते है।

मधुमेह के लिए फ़ायदेमंद

  • मधुमेह से ग्रसित मरीज के रक्त में ग्लूकोज की अधिक मात्रा पाई जाती है। ऐसे में Parwal का सेवन करने से रक्त से शर्करा की मात्रा को कम करने में मदद मिलती है।
  • परवल के बीज में लेकटोन्स नामक योगिक होता है जो की शर्करा की मात्रा को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही यह हमारे रक्त में वसा की मात्रा को भी नियंत्रित करने में मदद करता है।

पीलिया में आराम दे

  • जो लोग पीलिया रोग के शिकार होते है उनमे भूख ना लगना, कमज़ोरी आना जैसे लक्षण देखने को मिलते है।
  • ऐसे में परवल का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। परवल का सेवन करने से पेट के कीड़े और बैक्टीरिया मर जाते है जिससे पीलिया रोग के उपचार में बहुत अधिक मदद मिलती है।

कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करे

  • परवल का सेवन करने से शरीर की बैड कोलेस्टरॉल के स्तर को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही यह शरीर में एच डी एल के स्तर को बढ़ाने में भी मदद करता है।
  • कोलेस्टरॉल का स्तर नियंत्रित रहने से शरीर को उच्च रक्तचाप और हृदय से संबंधित कई प्रकार की परेशानियों से लड़ने की शक्ति भी मिलती है।

खून साफ रखे

  • Parwal ki Sabzi खाने से शरीर का खून भी साफ होता है। इससे पेट और त्वचा से संबंधित परेशानियों और कफ आदि से निजात पाने में मदद मिलती है।
  • खून को साफ कर परवल चेहरे को कांतिमय बनाने में मदद करता है।

बढ़ती उम्र को रोके

  • बढ़ती उम्र के साथ-साथ महिलाओ की त्वचा में झाइया और त्वचा से संबंधित कई प्रकार की परेशानियाँ देखने को मिलती है।
  • इन्हे रोकने के लिए Parval ki Sabji का सेवन करना फ़ायदेमंद होता है।
  • परवल कई प्रकार के विटामिन्स और एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जिससे यह एंटी एजिंग की परेशानी को दूर करने में सहायक होता है।

फ्लू से लड़ने में सहायक

  • परवल में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है जिससे यह शरीर को होने वाली कई प्रकार की परेशानियों और रोगों से लड़ने की शक्ति देता है।
  • परवल गले की परेशानी, बुखार, खाँसी आदि को दूर करने में एक दवा की तरह काम करता है।

कब्ज से राहत दे

  • परवल का सेवन करने से पेट से संबंधित कई प्रकार की परेशानियों से निजात मिल जाता है।
  • इसमे फाइबर की मात्रा होती है जिससे की भोजन के पाचन में मदद मिलती है।
  • साथ ही परवल के बीज का सेवन करने से मल और शरीर की सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है, जिससे कब्ज जैसी समस्या दूर होती है।

सिरदर्द दूर करे

  • सिरदर्द होने पर भी परवल बहुत फ़ायदेमंद होता है। सिरदर्द को दूर करने के लिए परवल के रस से सर की मालिश करे।
  • परवल की पत्तियों का रस माथे पर लगाने से सिरदर्द में आराम पहुँचता है। इसके अलावा परवल को अच्छे से पीसकर उसके निकले रस से माथे पर लेप करने से भी सिरदर्द दूर हो जाता है।

पेट की समस्या और पाचन में सहायक

  • अनियमित और दूषित खानपान की वजह से पेट का मल सही से साफ़ नही हो पाता है जिससे पेट में सूजन की समस्या हो जाती है।
  • इसके अलावा पेट में पानी भर जाने की समस्या भी लोगो को हो जाती है। ऐसे में परवल एक दवा का काम करता है।
  • पेट की परेशानियों को दूर करने के लिए नियमित Parwal Sabzi का सेवन करना शुरू कर दें, आपको जल्द ही आराम मिल जाएगा।
  • परवल में फाइबर की अधिकता होने से यह भोजन के पाचन में मदद करता है। फाइबर की मदद से यह जिगर, लीवर और पेट के स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने में मदद करता है।

मोटापा कम करने में सहायक

  • परवल में कैलोरी की बहुत कम मात्रा पाई जाती है जो की वजन को कम करने में सहायक होता है।
  • साथ ही इसमे फाइबर की अधिकता होती है जो की भोजन का सही से पाचन करने में मदद करता है और फैट को भी बर्न करने में सहायक होता है। इस तरह परवल मोटापे को कम करता है।

फोड़े-फुंसी को दूर करे

  • त्वचा में होने वाले फोड़े और फुंसी से छुटकारा पाने के लिए परवल बहुत ही लाभदायक होता है।
  • यह फोड़े फुंसी को जड़ से ख़तम करने में मदद करता है। इसके उपयोग के लिए परवल के पत्तों को पीसकर फोड़े-फुंसियो और घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाते है और फोड़े-फुंसी से भी आराम मिलता है।

पेट के कीड़े ख़तम करे

  • पेट के कीड़ों को ख़त्म करने के लिए 20 ग्राम परवल के साथ 20 ग्राम हरी धनिया को पीस ले। अब 250 मिली पानी में इसे भिगोकर रख दे।
  • सुबह इस पानी को छानकर इसके तीन हिस्से कर ले। अब इस मिश्रण में थोड़ा शहद डालकर दिन में तीन बार ले। ऐसा करने से पेट के कीड़े मर जाते है।

परवल के अन्य फ़ायदों को भी जानिए

  • परवल में कई प्रकार के एंटी ऑक्सीडेंट गुण होते है जिसकी मदद से परवल त्वचा में कसाव लाता है और त्वचा से जुड़ी सभी परेशानियों जैसे झाइया, और झुर्रियो को दूर करने में सहायक होता है।
  • चेहरे और शरीर के फोड़े-फुंसियो को दूर करने के लिए रोजाना 15 दिनों तक Parval Sabji का सेवन करने से लाभ मिलता है।
  • परवल का सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे इन बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है।
  • परवल के सेवन से शरीर को सर्दी, खाँसी, किसी भी प्रकार के त्वचा संक्रमण से बचने में भी मदद मिलती है।
  • परवल के बीजों में ऐसे गुण मौजूद होते है जिससे पेशाब और किड्नी से संबंधित परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है।
  • परवल से बनी सब्जी और इसके जूस का सेवन करने से त्वचा में आने वाली बारीक रेखाएं कम हो जाती है।
  • परवल में विटामिन ए, विटामिन बी 1, विटामिन बी 2 और विटामिन सी के अलावा कई प्रकार के पोषक तत्व होते है जो की त्वचा को फ्री रेडिकल्स से लड़ने की शक्ति देते है।
  • लीवर से जुड़ी कई प्रकार की परेशानियों को दूर करने में परवल का बहुत बड़ा योगदान रहता है।

उपर आपने जाना परवल की सब्जी और और उसके फायदे के बारे में। यदि आप भी अपने शरीर को उपर दी गयी परेशानियों से दूर रखना चाहते है तो आज से ही अपने आहार में परवल का उपयोग करना शुरू करे और रहे स्वस्थ।


You may also like...