बहुत से लोग मोटापे से परेशान रहते है, लेकिन यदि मोटे लोग जिम चले जाये और अपने डाइट पर ध्यान रखे तो इससे यह लोग सही शेप में आ जाते है|

लेकिन कुछ लोगो के लिए तो जिम भी सोल्युशन नहीं होता| दरहसल कुछ लोगो की अपर बॉडी तो सही रहती है लेकिन लोअर बॉडी पर बहुत फैट जमा होता है|

ऐसे में यदि यह लोग जिमिंग या फिर अन्य व्यायाम जैसे वाकिंग या रनिंग करते है तो इससे इनके पुरे शरीर का फैट कम होता है| याने की निचले हिस्से की चर्बी घटती है तो ऊपरी शरीर की भी| जिससे पहले की तरह ही शरीर का ऊपरी और निचला हिस्सा सामान नहीं दीखता|

ऐसे लोगो को Pigeon Pose का अभ्यास करना चाहिए| यह शरीर के निचले हिस्से को पतला और आकर्षक बनाता है| यह आपके हिप्स और बाहरी तथा अंदरूनी जांघों को सही आकर देता है, जिससे आपके शरीर का शेप हो जाता है परफेक्ट|

Pigeon Pose: इसकी विधि और फायदे क्या है

Pigeon Pose- Kapotasana

पिजन पोज़ किसके लिए फायदेमंद है?

  • जो लोग कंप्‍यूटर के सामने बैठकर काम करते है उनके लिए यह बहुत फायदेमंद है|
  • क्योंकि रोज रोज घंटों तक एक जगह बैठे रहने से शरीर की थोड़ी भी कसरत नहीं हो पाती है और चर्बी जमा होने लगती है।
  • इसलिए जरुरी है कि आप रोज सुबह जल्दी उठकर पिजन पोज़ का अभ्यास करे| इसे रोज करने से आपके शरीर पर अतिरिक्त चर्बी नहीं जमेगी|

पिजन पोज़ कैसे करे

पिजन पोज़ को हिंदी में Kapotasana कहते है| इसे करने के लिए सर्वप्रथम आसन बिछाकर वज्रासन की मुद्रा में बैठे| इसके बाद दोनों हाथों को कमर के नीचे ज़मीन पर रखे, हथेलियां ज़मीन को छूती हुई होना चाहिए|

अब अपनी हथेलियों का सहारा लेते हुए अपने सीधे पैर को पीछे सीधा करले, जैसा की चित्र में दिखाया गया है| कुछ देर इस मुद्रा में बने रहे और गहरी साँसे लें।

अब अपनी शुरुआती अवस्था में आ जाये और दूर पैरो के साथ भी ऐसा करे| हमने यहाँ पिजन पोज़ करने का एक तरीका बताया है, इसके अलावा इसे और भी कई तरीको से किया जा सकता है|

Pigeon Pose Benefits: कपोतासन के फायदे

  • इसे करने से कमर, जांघों और पैरों का फैट कम होता है।
  • यह पेट की चर्बी को भी कम करने में सहायक है|
  • जो लोग रोज इसका अभ्यास करते है उन्हें पीठ दर्द से निजात मिलती है।
  • फेफड़े को मजबूत बनाने के लिए कपोतासन एक बेहतरीन आसन है|
  • यह आसन निम्न रक्तचाप और उच्च रक्तचाप दोनों को ठीक करता है|
  • इसे करने से रक्त संचार बढ़ता है और पाचन क्रिया दुरुस्त होती है|