Sleeping Position during Pregnancy: जानिए गर्भावस्था के दौरान सोने का सही तरीका

गर्भावस्था के दौरान महिला को अपना और अपने होने वाले बच्चे का विशेष ख्याल रखना होता है। जिसमे खान पान का ध्यान रखना तो ज़रुरी है ही साथ ही यह भी ज़रुरी है की आप आराम करे।

आराम तभी अच्छे से मिल सकता है जब आप एक अच्छी नींद ले पाएंगी। नींद अच्छे से होने पर महिला और बच्चा दोनों स्वस्थ्य रहते है। परन्तु कुछ गर्भवती महिलाएं सोते समय ऐसी ग़लतियाँ कर देती तो महिला और बच्चे दोनों के लिए हानिकारक होता है।

गर्भवती होने पर अपने सोने के तरीके को बदलना बहुत ज़रुरी होता है। शुरुआत में इसमें थोड़ा कठिनाई आ सकती है पर यदि आप गर्भावस्था में सोने के सही तरीके को अपनाएंगी तो यह आप और आपके बच्चे दोनों के लिए अच्छा होगा।

गर्भावस्था में किस प्रकार से सोना अच्छा होता है इस लेख के जरिए आप जान सकते है। तो चलिए जानते है Sleeping Position during Pregnancy के बारे में।

Sleeping Position during Pregnancy in Hindi: इस तरह सोये गर्भवती महिला

Sleeping Position during Pregnancy in Hindi

बायीं ओर करवट लेकर सोना

  • गर्भावस्था के दौरान बाएं करवट लेकर सोना बहुत अच्छा होता है ऐसे सोने से किडनी, गर्भ और यूट्रस तक रक्त का प्रवाह अच्छे से हो पाता है।
  • बाएं करवट पर सोने से बच्चे को ऑक्सीजन और पोषण मिलता है। इससे ब्‍लड़प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है साथ ही हार्ट बीट भी सही रहती है।
  • आप बाई पोजीशन में सोते समय आप पैरों की मध्य तकिये को रख सकते है। इससे आपको कमर दर्द की समस्या नहीं होगी।

पीठ के बल सोने से बचे

  • शुरूआत के महीनों में महिलाओं को सीधा होकर सोना अच्छा होता है। इससे बच्चे का विकास अच्छे से होता है।
  • परन्तु गर्भावस्था के अंतिम महीनों में गर्भ का साइज़ बढ़ने से पीठ के बल लेटने पर कई सारी शारीरिक समस्याएं होती है।
  • पीठ के बल लेटने पर गर्भाशय का सारा भार सीधा आपकी पीठ पड़ता है। जिसके कारण से पीठ में दर्द भी होने लगता है।

पेट के बल भूल कर भी न सोये

  • पेट के बल सोने से माँ और बच्चे दोनों को हानि पहुँचती है।
  • इस तरह सोने से पेट में आपके बच्चे की पोजिशन बदल सकती है।
  • इससे आपको डिलीवरी के दौरान परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है।
  • पेट के बल सोने से सूजन और पेट दर्द जैसी समस्याए होती है।

तकिये का प्रयोग

  • गर्भावस्था में अच्छी नींद के लिए आप सॉफ्ट तकिये का उपयोग कर सकती है।
  • आप अपनी सुविधा के अनुसार तकिये का प्रयोग कर सकती है।

दाईं ओर सोने से बचे

  • दाईं ओर सोने से आपकी नींद पूरी तरह से नहीं हो पाती है और नींद बार बार खुलने लगती है।
  • हो सकता है की आपको पूरी रात जागना पड़े। इसलिए दाईं ओर सोने से बचे।
  • दाहिनी और सोने से जिगर पर दबाव पड़ सकता है।