थाइराइड गले में होने वाली एक बीमारी है यह थाइराक्सिन नामक हार्मोन्स के बढ़ जाने से होती है। थाइराइड रोग महिलाओं में ज्यादा होता है। मानव शरीर मे होने वाले एंडोक्राइन ग्लैंड में से एक थायराइड है यह गर्दन में श्वास नली के ऊपर एवं स्वरयन्त्र के दोनों तरफ दो भागों में होती है।

थाइराइड को साइलेंट किलर भी माना जाता है| क्यूंकि इसके लक्षणों का पता धीरे धीरे चलता है| यदि आप आजकल थकान महसूस कर रहे हो। अपनी डाइट पर ध्यान रखते हो पर फिर भी वजन बढ़ता ही जा रहा हो, गर्दन में सूजन लग रही हो और पेट ख़राब रहता हो। तो ये समस्याओ को आप अनदेखा ना करे। क्यूंकि ये थाइराइड के भी लक्षण हो सकते है|

35 वर्ष से ऊपर वाले लोगो में अक्सर ये समस्या देखी जाती है। आप घरेलू तरीको से भी इस समस्या को कम कर सकते है। इसके लिए आपकी डाइट काफी मायने रखती है। आइये आज के लेख में जानते है Thyroid Diet के बारे में|

Thyroid Diet: थाइराइड की समस्या में लाभदायक आहार

Thyroid Diet

ब्रोकली  

ब्रोकली थायरॉइड हार्मोन्स की संख्या को कम करता है। ब्रोकली “cruciferous” प्रजाति की होती है जिसमे कलीफ्लॉवर और कैबेज भी आते है।

बेरीज

बेरीज में आप स्ट्रॉबेरीज, ब्लूबेरीज या रस्पबेरीज कुछ भी ख़ा सकते है जो आपको पसंद हो। क्यूंकि इन सब में एंटीऑक्सिडेंट्स होता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है। इसके लिए प्रतिदिन आप इसे खाने की आदत डाल ले।

योगर्ट

थाइराइड से आपके शरीर की हड्डिया भी कमजोर होती है इसलिए दही खाना भी आपके लिए फायदेमंद है| योगर्ट में कैल्शियम की भरपूर मात्रा होती है इसलिए आप इसे दिन में दो बार खा सकते है|

फिश

फिश नुट्रिएंट्स का एक अच्छा स्त्रोत है| मछली में विटामिन, मिनरल और कई प्रकार के पोषक तत्व होते हैं। समुद्री फिश में आयोडीन काफी मात्रा में होता है| झींगा जैसी समुद्री मछलियों में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है। जो Thyroid Problems के लिए लाभदायक होता है।

ओट्स खाये

जब भी आपको भूख लगे तो आप ओट्स खा सकते है क्यूंकि ओट्स में नुट्रिएंट्स होता है जो थायराइड में खाफी मददगार होता है|

अखरोट और बादाम

एक अखरोट में 5 माइक्रोग्राम सेलेनियम नामक तव्व पाया जाता है। बादाम में भी भरपूर मात्रा में सेलेनियम होता है जो थायराइड के कारण गले में होने वाली सूजन को कम करने में सहायक होता है|

सनफ्लॉवर सीड

इसमें कॉपर होता है आप इसके बीज भूनकर रख ले और इसे सुबह शाम एक चमच्च चबाकर खाये। इससे थाइरॉइड कम होता है।

मशरूम

इसमें विटामिन होता है जो थाइराइड ग्लैड के फंक्शन को अच्छा रखता है इसलिए इसे खाने से थाइराइड कम होता है।

लहसुन और प्याज

इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन होता है| प्रतिदिन लहसुन की कालिया सुबह शाम खाकर पानी पिए। प्याज को सलाद के रूप में कच्चा खाये। ये दोनों ही थाइराइड में सहायक होते है।

ऊपर आपने Thyroid Diet in Hindi तो जान लिया| यदि आपको भी इसके लक्षण अपने अंदर दिखाई दे रहे है तो जल्द ही इन चीजों को अपने आहार में शामिल कर ले ताकि आप थाइराइड जैसी समस्या को कम कर पाए|