What to Eat Before an Exam: एग्जाम के पहले बच्चों को दे पौष्टिक आहार

एग्जाम हर बच्चे को परेशान कर देती है और साथ ही एग्जाम की वजह से कई बच्चे तनाव से ग्रसित हो जाते है और पूरा समय किताबें ही पढ़ते रहते है। न उन्हें खाने की कोई फ़िक्र होती है न ही नींद की और ऐसे में वे एग्जाम के समय बीमार हो सकते है। इसके लिए चाहिए की बच्चों को पता हो की पढ़ाई जितनी ज़रुरी है उतना ही जरूरी उनके लिए सेहतमंद रहना भी है।

ज्यादातर देखा जाता है की बच्चे अपनी पूरे साल भर की पढ़ाई का रिव्यु एग्जाम के दौरान में ही करते है तो उनके लिए और भी ज्यादा जरूरी है की शरीर को भरपूर भोजन मिले और सभी प्रकार के पोषक तत्व भी मिले जो उन्हें सेहतमंद रखे। सिर्फ दो वक़्त का जल्दबाज़ी में खाया गया भोजन उनके लिए पर्याप्त नहीं होता है। उन्हें हर तरह के पोषण की जरूरत होती है जो उनके शरीर को शक्ति देने के साथ साथ उनके दिमाग को भी तेज़ और स्वस्थ रख सके।

बच्चों को एग्जाम समय में चाहिए की वे हर तरह से सेहतमंद रहने के लिए भरपुर भोजन करे और साथ ही उन सभी तत्वों का सेवन करे जो उनके लिए जरुरी हो। ऐसे में पेरेंट्स को भी पता नहीं होता की बच्चों के लिए कैसा भोजन ज्यादा फायदेमंद होगा जो उनके ब्रेन को स्वस्थ रखेगा और बच्चों को एग्जाम में एनर्जेटिक बनाए रखेगा।

बच्चों को सही आहार मिलना बहुत ही जरूरी होता जिस के कारण उनका दिमाग शांत रहता है, शरीर एक्टिव रहता और शरीर से आलस दूर हो जाती है। इस लेख में हम आपको बताने जा रहे की एग्जाम के पहले आपको अपने बच्चे की डाइट में क्या क्या चेंजेज करना चाहिए जिससे वो सेहतमंद रह सके और ब्रेन शार्प हों । जाने What to Eat Before an Exam.

What to Eat Before an Exam: एग्जाम के पहले बच्चों की डाइट कुछ ऐसी रखें

What to Eat Before an Exam

सुबह का ब्रेकफास्ट बहुत जरुरी है

  • बच्चों को सुबह का नाश्ता थोड़ा हैवी दे जिससे की उन्हें दिन भर की ऊर्जा मिल सके।
  • ध्यान दे जो नाश्ता दे रहे है वो लो ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स वाले हो जिससे की बच्चों के शरीर को ग्लूकोज़ भरपुर मात्रा में मिलता रहे।
  • आप नाश्ते में ओट्स, उपमा, खिचड़ी, इडली आदि जैसी चीज़े ज़रूर दे जो आपके बच्चे के लिए फ़ायदेमंद होगी।
  • इस प्रकार का नाश्ता बच्चों के लिए हैवी होने के साथ साथ सेहतमंद भी होता है।

थोड़ी थोड़ी देर में कुछ न कुछ खिलाते रहें

  • बच्चों को थोड़ी थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाने के लिए ज़रूर दे।
  • लेकिन सिर्फ हल्का ही खाने को दे कुछ हैवी न दे वरना हैवी खाने की वजह से बच्चों को नींद आने लगती है।
  • और इस वजह से खाना ब्रेन को तो इतना इफ़ेक्ट नहीं करता पर इसके कारण पेट भर जाता है और नींद ज्यादा आने लग जाती है।
  • कुछ हल्का दे, जिससे बच्चों को सभी प्रकार के नुट्रिशन पर्याप्त मात्रा में मिल पाए।
  • इसके लिए आप उन्हें फ्रूट्स, फ्रूट्स से बनी स्मूथीज, ड्राई फ्रूट्स और सूप दे सकती है।

बच्चों को मिले भरपूर प्रोटीन

  • प्रोटीन से बच्चों के शरीर में पूरा समय एनर्जी बनी रहती है।
  • अगर आप चाहे तो बच्चों के ब्रेकफास्ट में भी प्रोटीन की मात्रा बढ़ा कर दे सकती हैं।
  • आप प्रोटीन के लिए ब्रेकफास्ट में अंडे, पोहा, इडली, डोसा, ढोकला आदि दे सकती है।
  • इन सभी चीज़ो से शरीर में टायरोसिन नाम का एक एमिनो एसिड होता है जो शरीर में बढ़ता है।
  • जिससे की बच्चों को एक्टिव और अलर्ट रहने में मदद मिलती है।

बच्चे हाइड्रेटेड रहे

  • बच्चों का बॉडी हमेशा हाइड्रेटेड रहे जिससे की उनका पढ़ाई पर से ध्यान डाइवर्ट न हो।
  • अगर बच्चों की बॉडी हाइड्रेटेड नहीं रहेगी तो उन्हें थकान महसूस होगी और साथ ही दिमाग भी थका हुआ होगा।
  • आप बच्चों की बॉडी को हाइड्रेटेड रखने के लिए फ्रेश फ्रूट जूस, लस्सी, छाछ, निम्बू पानी, ग्रीन टी दे सकती है।
  • यह सभी चीज़े बॉडी के लिए काफी फ़ायदेमंद होगी।

बच्चों को ज्यादा कैफीन न दे

  • बच्चों के एग्जाम समय में या उससे पहले ज्यादा कैफीन पीना सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है।
  • बच्चों के द्वारा एग्जाम के पहले कॉफ़ी, एनर्जी ड्रिंक, चाय, कोला जैसी चीज़ो का सेवन बंद कर देना चाहिए।
  • इन सब चीज़ो में कैफीन होता है जिस वजह से बच्चों को अच्छी तरह नींद नहीं आती है।
  • एग्जाम के पहले अच्छी नींद लेना भी बहुत जरूरी होता है।

बच्चों को ज्यादा शुगर नहीं खाना चाहिए

  • एग्जाम के पहले ज्यादा शुगर इसलिए नहीं खानी चाहिए क्योंकि यह और ज्यादा जंक फ़ूड खाने के लिए प्रेरित करती है।
  • खाली पेट तो बिलकुल ही नहीं खाना चाहिए वरना भूख ज्यादा लगती है।

बच्चों को स्ट्रेस बस्टर फ़ूड मिले

  • एग्जाम के तनाव भरे दिनों में बच्चों को चाहिए की वो ऐसा कुछ खाए जिससे की उनका दिमाग शांत रहे।
  • बच्चों को इस दौरान घुलनशील विटामिन्स की जरूरत होती है बॉडी में।
  • बच्चों के शरीर के लिए मिनरल्स में जिंक और विटामिन्स में विटामिन बी काम्प्लेक्स और सी होना चाहिए।
  • जिससे की स्ट्रेस से लड़ने वाले हॉर्मोन एक्टिव हो जाते है और ये स्ट्रेस को बढ़ने नहीं देता है।
  • इसके लिए आपको अपने बच्चों को ब्राउन राइस, नट्स, अंडे, हरी ताज़ी सब्जी और फ्रूट्स देना चाहिए।

ब्रेन की क्षमता बढ़ाने वाला आहार दे

  • बच्चों के दिमाग की क्षमता बढ़ाने के लिए एंटी ऑक्सीडेंट्स वाले आहार दे।
  • इससे भी बच्चों को स्ट्रेस कम करने में फायदा होगा।
  • एंटी ऑक्सीडेंट्स से बच्चों की बॉडी में इम्युनिटी बढ़ेगी।
  • इसके कारण बच्चे बीमारियों से भी दूर रह पाएंगे।
  • एंटी ऑक्सीडेंट्स के लिए बच्चों को अंडा, फिश, गाजर, कद्दू और हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए।

बच्चों की मेमोरी बढ़ाने वाले आहार दे

  • ओमेगा 3 फैटी एसिड मेमोरी बढ़ाने का काम करता है।
  • अगर आप नॉन वेज खाते है तो ओमेगा 3 फैटी एसिड का सबसे अच्छा स्त्रोत फिश है।
  • ओमेगा 3 फैटी एसिड के लिए आप अलसी, कद्दू, तिल, सोयाबीन को अपने बच्चों के आहार में शामिल करे।
  • बाजार में आज कल ओमेगा 3 फैटी एसिड के लिए सप्लीमेंट्स भी उपलब्ध है, आप उसका भी सहारा ले सकती है।

एग्जाम के दौरान बाहर का खाना न खाए

  • बच्चों को बाहर का खाना खाने का बहुत शौक होता है लेकिन एग्जाम के दौरान उन्हें बाहर का खाना नहीं खाना चाहिए।
  • बाहर का खाना बच्चों की हेल्थ के लिए अच्छा नहीं होता है।
  • और इससे हो सकता है की उनके शरीर में इम्युनिटी कम हो जाये और स्ट्रेस बढ़ जाए ।
  • हो सकता है की बाहर का खा कर उन्हें एग्जाम के सयम पर इन्फेक्शन हो जाए।
  • इसलिए जहाँ तक हो सके बाहर का खाना अवॉयड ही करना चाहिए।

अगर आपके बच्चों की भी एग्जाम स्टार्ट होने वाली है तो आपको भी उन्हें इस लेख में ऊपर दिए गए आहार और चीज़ो को ही खिलाना चाहिए जिससे की एग्जाम के समय पर वे एकदम सेहतमंद और स्वस्थ रह सके। साथ ही उन्हें एग्जाम के पहले होने वाले स्ट्रेस से भी निजात मिल जाएगी।

Spread the love

You may also like...