Baby Movement During Pregnancy: गर्भावस्था के दौरान महसूस करें अपने बच्चे की हलचल

Pregnancy Baby Movement in Hindi – माँ बनना हर महिला के लिए एक बहुत ही सुखद और आनंदपूर्ण समय होता है। जब उन्हें पता चलता है कि वे माँ बनाने वाली है तो उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहता। इस समय वे अपने बच्चे की आहट और धड़कने महसूस करती है और अपने बच्चे के आने का बड़ी बेसब्री से इंतज़ार भी करती है।

एक गर्भवती महिला अपने गर्भ के दौरान कई प्रकार की हलचल महसूस करती है और यह सब हलचल एक दूसरे से विभिन्न होती है। गर्भवती को गर्भावस्था के दौरान हर महीने अलग अलग प्रकार की अनुभूति होती है।

जो महिलाएं पहली बार माँ बनती है उनके लिए उनके शिशु की हलचल पहचान पाना थोड़ा मुश्किल होता है लेकिन वो महिलाएं जो पहले भी माँ बन चुकी है वे तुरंत हलचल को पहचान लेती है और साथ ही उन्हें ये जानने समझने में भी वक़्त नहीं लगता है कि उन्हें ऐसा क्यों हो रहा है।

आज हम आपको इस लेख में गर्भ में पल रहे बच्चे की हलचल किस प्रकार होती है और किन किन महीनो में आपको उनका ध्यान रखना चाहिए जिससे की आप और आपका बच्चा स्वस्थ रह सके। आइये जाने Baby Movement during Pregnancy.

Pregnancy Baby Movement in Hindi: जानिए गर्भावस्था के किस महीने में कैसी होती है शिशु की हलचल

pregnancy baby movement in hindi

शुरुआत में (पहला महीना)

  • शुरू में शिशु की हरकत कम होती है और न के बराबर होती है।
  • लेकिन जितनी हलचल होती है बिलकुल हल्की फुलकी होती है।
  • कई महिलाओं का कहना है कि वे शुरुआत में पेट में पॉपकॉर्न फूलने जैसा महसूस करती है।
  • कई महिलाओ ने बताया कि छोटी मछली के तैरने का अनुभव होता है।
  • और जैसे पहले महीने में बच्चा बढ़ता है तो तितली के फड़फड़ाने सा आभास होता है।
  • शरीर में नाल और अल्प विकसित नाल होती है जो बच्चे को पोषण और अक्सीजन प्रदान करती है।
  • पहले महीने में बच्चा एक बॉल की तरह होता है और धीरे धीरे बच्चे के शरीर का विकास शुरू होता है।
  • पहले बच्चे का सिर, रीढ़ की हड्डी, फेफड़े और दिल बनते है।

दूसरा महीना

  • दूसरे महीने में पहले बच्चे के शरीर के कुछ अंग बनते है।
  • फिर धीरे धीरे मांसपेशियां, हड्डियां, हाथ और पैर आकर लेते है।
  • और जैसे जैसे बच्चे का आकार बनता जाता है वैसे वैसे बच्चे का चेहरा भी बनता जाता है।
  • इसी दूसरे महीने में भ्रूण में पाचनतंत्र, श्वसनतंत्र और मूत्र प्रणाली भी बनना शुरू होती है।
  • इस महीने में महिला का खास तौर पर ध्यान रखना चाहिए।
  • इन सबके दौरान महिलाएं अपने अंदर कई तरह की हलचल महसूस करती है।

तीसरा महीना

  • तीसरे महीने में महिलाओं को ओर अलग प्रकार की अनुभूति होती है।
  • तीसरे महीने में बच्चे के पैर और हाथ ही उंगलिया बनती है।
  • इसी महीने में बच्चा हिलने की कोशिश करता है।
  • इस महीने में महिलाओं को बच्चे के मुड़ने का आभास होता है।
  • साथ ही वे अपने बच्चे में चौंकने वाली गतिविधि का आभास करती है।
  • इस महीने में बच्चे की त्वचा भी बन जाती है और साथ ही चेहरे का विकास भी पूरा हो जाता है।
  • इस महीने में बच्चे के बाहरी कान बनते है और साथ ही सिर भी पूरी तरह गोल आकार में आ जाता है।
  • तीसरे महीने में बच्चे के दिल की धड़कन भी आने लगती है लेकिन माँ ये महसूस नहीं कर पाती है यह अल्ट्रासॉउन्ड से ही पता चलता है।
  • तीसरे महीने में बच्चा हिचकी भी लेना शुरू कर देता है और इसी के साथ वह अंगड़ाई लेना, सुस्ती लेना और सिर हिलाने जैसे मूवमेंट करने लगता है।

चौथा महीना

  • चौथा महीना जिसमे सभी गर्भवाती महिलाये अपने बच्चे को अल्ट्रासॉउन्ड के जरिये देखती है।
  • इस महीने में बच्चे के बालो और नाखुनो की गतविधि शुरू हो जाती है और साथ ही भ्रूण का आकर भी बढ़ जाता है।
  • इस दौरान बच्चा आँख खोलना और हिलाना भी शुरू कर देता है।
  • इस महीने में बच्चे का विकास पूरी तरह से हो जाता है।

पांचवा महीना

  • पांचवे महीने से बच्चे का वजन भी बढ़ने लगता है।
  • अब धीरे धीरे बच्चो के अंगो में भी बदलाव आने लगता है।
  • इस महीने में आप अपने बच्चे की उंगलियों के निशान और पैरो के निशान अल्ट्रासॉउन्ड के जरिये देख सकती है।
  • इस महीने में बच्चे अपना अंगूठा भी चूसना शुरू कर देते है।

6 month pregnancy baby movement in Hindi

  • छटे महीने में बच्चे के दिल की धड़कन तेज़ हो जाती है क्योंकि उसे ज्यादा ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है।
  • इसी के साथ बच्चे के दांत बढ़ने लगते है और साथ ही बच्चा आवाज सुनकर रियेक्ट करता है।
  • इस महीने में बच्चा किक मारना भी शुरू कर देता है।

7 month pregnancy baby movement in Hindi

  • अब आप बच्चे की सभी तरह की एक्टिविटी को महसूस कर पाती है।
  • इस महीने में एमनियोटिक थैली में सिर्फ 750 मिली द्रव्‍य बाकि रहता है।
  • जिससे की इस महीने में बच्चा चारो ओर घूमने लगता है।
  • इस महीने में महलियाँ कुछ अचानक सी आवाजे भी सुनती है। जिसमे बच्चा उछलने और चौंकने जैसी हरकते करता है।

8 month pregnancy baby movement in Hindi

  • इस महीने में भी भ्रूण का आकार और बढ़ जाता है।
  • इस महीने में बच्चे को गर्भ में जगह कम पड़ने लगती है।
  • और बढ़ते बच्चे के हिसाब से उसे वो गर्भशाय छोटा लगने लगता है।
  • साथ ही इस महीने में बच्चा पूरी तरह से बढ़ चूका होता है और उसके पास घूमने के लिए ज्यादा जगह नहीं होती है जिससे की उसकी एक्टिविटी कम हो जाती है।

9 month pregnancy baby movement in Hindi

  • अब इस महीने में बच्चे को जगह कम पड़ने के कारण वह सिर के बल नीचे की और आ जाता है।
  • इस महीने में बच्चा बाहर निकालने के लिए हाथ पैरो को चलाने लगता है जिससे की बहुत ज्यादा हलचल माँ को महसूस होती है।
  • इस महीने में बच्चा बड़ा हो जाता है और पलटने में प्रॉब्लम होती है जिससे की एक ही जगह मार का अनुभव होता है।

यहाँ अापने जाना की गर्भवती होने के दौरान महिलाओ को कैसे आभास होते है और बच्चे का विकास किस तरह होता है। जिससे की आप अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ध्यान रख सके।


You may also like...