गर्मी की वजह से पसीना आना तो सामान्य बात होती है। लेकिन क्या आपने सुना है की किसी को रात में जब ज्यादा गर्मी नहीं होती उसमे भी पसीना आता है। कई लोग रात के समय में भी पसीने से लतपत हो जाते है।

यदि आपके साथ भी यह समस्या है और आपने इस पर ध्यान नहीं दिया है तो अब इस पर ध्यान दे। क्यूंकि इस तरह सामान्य से अधिक पसीना आना कोई साधारण बात नहीं होती है। इस समस्या को चिकित्सकीय भाषा में “स्लीप हाइपरहाइड्रोसिस” कहा जाता है जो एक तरह की बीमारी होती है।

परन्तु इसके विषय में चिंता करने वाली बात नहीं है क्यूंकि कुछ विशेष ध्यान रखने पर यह समस्या दूर की जा सकती है। रात को पसीना आने से यह आपकी नींद में बाधा डालती है जिसके कारण मानसिक दबाव और तनाव से घिर जाते है।

पसीना आना शरीर की वह प्राकृतिक प्रणाली है। जब शरीर का ताप अत्यधिक हो जाने पर यह शरीर को ठंडा करती है। इसलिए यदि आपको रात को पसीना आ रहा है तो इसका मतलब है की आपके शरीर का तापमान ज्यादा है। अधिकांश महिलाओं को रात में पसीना आने की समस्या रहती है। जानते है इसके कारण

Causes of Night Sweats in Women: महिलाओं में रात को पसीना आने के कारण

Causes of Night Sweats in Women

संक्रमण द्वारा होती है पसीने में वृद्धि

  • कुछ ऐसे संक्रमण होते है जो रात के समय शरीर का तापमान बढ़ा देते है, जिससे कारण पसीना आने लगता है।
  • ट्यूबरक्लोसिस इन संक्रमणों में से एक है जो रात के पसीने से जुड़ा हुआ है।
  • इसके अतिरिक्त हैजे या एचआइवी, फेफड़ों या श्वसन प्रणाली के संक्रमण भी रात में सोते समय शरीर के तापमान में काफी वृद्धि करते हैं और अतिरिक्त पसीने का उत्पादन करते हैं।

बेचैनी की समस्या एवं मोटापा

  • यदि आप बेचैनी की समस्या या मोटापे या दोनों से जूझ रहे हैं तो
  • यह भी रात में अतिरिक्त पसीना निकलने की समस्या का कारण हो सकता है।
  • महिलाओं में बेचैनी की समस्या काफी सामान्य होती जा रही है। इसी कारण से रात में आ रहे पसीने में काफी बढ़ोतरी होती है।
  • दूसरी तरफ मोटापा भी पसीने को बढ़ाता है।

दवाइयों के साइड इफेक्ट्स

  • कई दवाइयों के साइड इफेक्ट्स के कारण भी रात में पसीने की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  • अगर आपको हाल में ही रात के पसीने की समस्या होनी शुरू हुई है और आप कुछ दवाइयों का भी सेवन कर रही हैं|
  • तो यह जरुरी है कि आप रात के पसीने के विषय में अपने डॉक्टर से सलाह ले और सुनिश्चित करें कि क्या आपको उन दवाइयों या खुराक में बदलाव की आवश्यकता है या नहीं।

हार्मोनल असमानता

  • बार बार शरीर के हार्मोन्स का असंतुलित होना भी महिलाओं में रात में पसीना आने का सबसे प्रमुख कारण होता है।
  • हॉर्मोन्स के स्तर में बदलाव होने से शरीर के तापमान में वृद्धि होती है जिससे पसीना आने की सम्भावना बढ़ जाती है।

कुछ अन्य समस्याएं

  • रात में आने वाले सामान्य पसीने के पीछे कुछ स्वास्थ्य समस्या भी होती है।
  • जैसे की गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज, कैंसर, रक्तचाप, ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया होना भी रात के पसीने का कारण होता है।