मीठा नीम कई प्रकार के औषधिय गुणों से परिपूर्ण होता है, जो कि स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित होते है। इसे करी पत्ता के नाम से भी जाना जाता है। इसका प्रयोग ज़्यादातर दक्षिणी भारत में किया जाता है लेकिन आजकल यह हर रसोई घर में मसाले के रूप में प्रयोग किया जाता है। मीठा नीम का प्रयोग व्यंजनो का स्वाद और खुशबु को बढ़ने के लिए किया जाता है।

यह हमारे खाने के स्वाद को तो बढ़ता ही है साथ ही यह हमारे शरीर को कई तरह की बीमारियो से भी दूर रखने में मदद करता है। मीठी नीम में आइरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस और कई प्रकार के विटामिन भी होते है जो कि शरीर को एनीमिया, उच्च रक्तचाप, मधुमेह आदि रोगो से बचाने में मदद करते है।

इसके अलावा करी पत्ते में विटामिन B2, B6 और B9 की भरपूर मात्रा होती है। जिससे हमारे बाल काले, घने और मजबूत बनते है। इसके अलावा हमे रूसी की समस्या से भी निजाद मिलती है। कुछ लोग अपने चेहरे की रूखी त्वचा और कील मुहसो से भी परेशान रहते है। ऐसे लोगों को हम बताना चाहते है कि मीठा नीम के पत्तो से बने फेस पैक का इस्तेमाल करने से कील मुहसो से छुटकारा पाया जा सकता है।

इसके अलावा यह हमारे स्वस्थ के लिए और किन तरीक़ो से फायदेमंद है। जानने के लिए पढ़े करी पत्ता के फायदे

 

जाने करी पत्ता के औषधीय गुण और स्वास्थ्य लाभ

Curry Leaves Benefits in Hindi

करी पत्ता का प्रयोग लोग अपने व्यंजनो में बहुत शोक से करते है लेकिन बहुत कम लोग यह जानते है कि यह वजन को भी कम करने में मदद करता है।

दिल की बीमारियो को दूर करे

करी पत्ते में हमारे शरीर के बेड कोलेस्टरॉल को कम करने का गुण होता है। जिससे हम दिल की बीमारियो से दूर रह सकते है। शायद आप जानते है कि शरीर के ऑक्सीडेटिव कोलेस्ट्रॉल, बेड कोलेस्टरॉल को बनाने में मदद करते है जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। कड़ी पत्ता में एंटी-ऑक्सीडेंट का गुण होता है जो कि कोलेस्टरॉल का ऑक्सीडेशन होने से रोक देता है। जिससे शरीर में बेड कोलेस्टरॉल की मात्रा बढ़ नही पाती है। इस तरह से यह हमे दिल से संबंधित परेशानियो से दूर रखने में मदद करता है।

 

एनीमिया रोग के लिए

एनीमिया केवल शरीर में सिर्फ़ खून की कमी के कारण नही होता है, बल्कि जब शरीर में आइरन को अब्ज़ॉर्ब करने और इसका सही तरह से इस्तेमाल करने की शक्ति कम हो जाती है तब भी हमे एनीमिया होने का खतरा बढ़ जाता है। इस रोग से निजाद पाने के लिए करी पत्ता बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमे आइरन और फॉलिक एसिड की बहुत अधिक मात्रा पाई जाती है। हमारे शरीर में फॉलिक एसिड, आइरन को अब्ज़ॉर्ब करने में मदद करता है और आइरन खून की कमी को पूरा करता है। इसलिए यदि आप एनीमिया से पीड़ित है तो एक खजूर और करी पत्ता रोजाना सुबह खाली पेट खाए। इससे शरीर का आइरन लेवल बढ़ता है और एनीमिया होने का खतरा कम होता है।

 

मधुमेह में फायदेमंद

करी पत्ते में कई प्रकार के एंटी-डायबिटिक एजेंट होते है जो कि शरीर में इंसुलिन की गतिविधि को प्रभावित कर ब्लड से शुगर के लेवल को कम करने में मदद करते है। इसके अलावा मीठे नीम में उपस्थति फाइबर की मात्रा भी मधुमेह से ग्रसित रोगियो के लिए फयदेमंद होती है। इसलिए रोजाना सुबह खाली पेट करी पत्ते का सेवन करना शुरू करे और पाए डाइयबिटीस से निजाद।

 

लिवर को सुरक्षित रखे

अल्कोहल और मछली में पाए जाने वाले तत्व मरकरी से हमारे लिवर पर ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस बढ़ता है। जिससे लिवर की परेशानी बढ़ जाती है। ऐसे में करी पत्ता, लिवर पर पड़ने वाले ऑक्सीडेटिव प्रभाव से बचाने में मदद करता है। इसके अलावा यदि आपको लिवर से संबंधित कोई भी परेशानी हो तो घर पर बने हुए घी को गर्म कर उसमे एक कप करी पत्ते का जूस मिलाए। उसके बाद इसमे थोड़ी सी शक्कर और पीसी हुई काली मिर्च को मिलाए। थोड़ी देर तक मिश्रण में उबाल लें और फिर हल्का ठंडा कर इसे पी जाए।

 

डायरिया से बचाए

करी पत्ते में उपस्थित कार्बजोल की वजह से इसमे एंटी बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी का गुण पाया जाता है। यह गुण हमारे पेट के लिए बहुत ही फयदेमंद होता है। करी पत्ता पेट से पित्त को दूर कर डायरिया को दूर करने में मदद करता है। इसके सेवन के लिए करी पत्तो को पीसकर इसके रस को छांछ के साथ दिन में 2 से 3 बार पिए। आपको जल्द ही डायरिया में आराम मिल जाएगा।

 

त्वचा के लिए फयदेमंद

पुराने समय में चेहरे की चमक को बढ़ने के लिए करी पत्ते का उपयोग किया जाता था। इसके इस्तेमाल के लिए पहले इसका फेस पैक बना ले फिर चेहरे पर लगाए। यह चेहरे की सभी समस्याओ जैसे चेहरे का रूखापन, फाइन लाइन, पिंपल और एक्ने जैसी समस्याओ को दूर करने में मदद करता है।

इसका फेस पैक बनाने के लिए सबसे पहले करी पत्तो को सूखा ले और इन्हे पीसकर पाउडर बना ले। अब इस पाउडर में गुलाबजल, नारियल तेल और थोड़ी मुलतानी मिट्टी को मिलाए। अब इस मिश्रण से बने फेस पैक को अपने चेहरे पर लगाकर 20 मिनिट के लिए छोड़ दे। फिर ठंडे पानी से चेहरे को धो ले।

 

बालो के लिए फयदेमंद

करी पट्टी का प्रयोग हमारे बालो की जड़ो को मजबूत बनाने, काला बनाने, झड़ने से रोकने और बालो को रूसी से बचाने में भी किया जाता है। यह हमारे बालो के लिए और किस तरह से फायदेमंद है जानने के लिए पढ़े Kadi Patta for Hair.

 

वजन कम करे

ऊपर आपने करी पत्ते के कई स्वस्थ लाभ के बारे में जाना है लेकिन आपको यह जानकार आश्चर्य होगा कि यह हमारे वजन को भी कम करने में सहायक होता है। मीठे नीम में उपस्थित फाइबर की मात्रा, हमारे शरीर में जमे अतिरिक्त फैट और विषाक्त पदार्थो को बाहर निकालने में मदद करता है। जो कि वजन को कम करने में सहायक होता है।

 

आज आपने जाने करी पत्ता के फायदे। यदि आप भी अपने खाने के स्वाद के साथ-साथ अपने शरीर को स्वस्थ तथा बालों और त्वचा की देखभाल करना चाहते है तो आज से अपने आहार में करी पत्ते का इस्तेमाल करना शुरू करे।