Ginger for Arthritis: अदरक से पाए जोड़ों के दर्द और गठिया में राहत

यदि आपको शरीर के किसी भी जोड़ों में बिना किसी कारणवश (न कोई चोट, न कोई ऑपरेशन) लगातार दर्द है। जैसे की पैर, कूल्हे, कोहनिया आदि में तो आपको गठिया रोग है। गठिया रोग के लक्षण आप यहाँ जान सकते है।

पहले जहा यह रोग 40 की उम्र के बाद होता है, लेकिन आजकल की गलत जीवनशैली के चलते, इसकी चपेट में कम उम्र के लोग भी शामिल है।

गठिया रोग का कोई परमानेंट इलाज नहीं है, लेकिन दवाओं द्वारा इसके लक्षणों को कम किया जा सकता है। किन्तु जैसा की हम सभी जानते है दवाई हमारे लिवर पर बहुत बुरा प्रभाव डालती है।

इसलिए आज के लेख में हम आपको गठिया का घरेलू उपचार बता रहे है. तो चलिए जानते है Ginger for Arthritis किस तरह फायदेमंद है।

Ginger for Arthritis: अदरक के उपयोग से करें गठिया को दूर

Ginger for Arthritis

अदरक गठिया में फायदेमंद कैसे है

  • आपने अदरक का प्रयोग केवल मसाले के रूप में किया होगा, लेकिन यह औषधीय गुणों से भरपूर है।
  • आपको बतादे की आयुर्वेद में अदरक को जोड़ों के दर्द दूर करने के लिए उपचार की तरह इस्तेमाल किया जाता है।
  • दरहसल अदरक में जिंजरोल नामक एक पदार्थ पाया जाता है जो जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करने का कार्य करता है।
  • साथ ही इसमें एंटी इंफ्लामेटरी गुण मौजूद होते है जो गठिया के कारण होने वाली सूजन को दूर करते है।

क्या कहता है शोध?

गठिया के शुरुवात में तो अदरक बहुत ही लाभकारी होता है। गठिया के ही एक प्रकार ऑस्टियोआर्थराइटिस से पीड़ित कई मरीजों ने नियमित तौर पर अदरक का सेवन किया और पाया की यह दर्द को कम करने और बेहतर गतिशीलता पाने में मदद करता है।

हांग कांग में हुए एक अध्ययन से यह साबित हुआ है कि अदरक का सेवन करने और अदरक के तेल से प्रभावित हिस्से पर मालिश करने से घुटने की समस्याओं, दर्द, अकड़न और सूजन से राहत मिलती है।

अदरक का उपयोग कैसे करे?

प्रयोग का तरीका एक:

  • सवसे पहले ½ चम्मच अदरक को साफ़ करके इसे पीस लें।
  • अब इसे 150 ml गर्म पानी में डाल कर मिक्स कर लें।
  • जब तक पानी ठंडा नहीं हो जाता इस मिश्रण को ढककर ऐसे ही छोड़ दे।
  • ठंडा होने के बाद इस पानी का सेवन करे।
  • ऐसा 1 महीने तक लगातार दो दिन में सेवन करने से गठिया रोग में बहुत अराम मिलेगा।
  • यह मिश्रण Ginger Juice Benefits है।

दूसरा तरीका हर्ब पुल्टिस

  • इसके लिए आपको कम से कम 30-40 ग्राम सूखे अदरक की आव्यशकता पड़ेगी।
  • इतनी मात्रा में अदरक को लेकर कपड़े में लपेट ले और थैली बना लें।
  • एक बर्तन में पानी गरम करले और अदरक की थैली को गर्म पानी में 5 मिनटों तक रखें।
  • ध्यान रखे जो कपडा आपने इस्तेमाल किया है वो सूती का हो।
  • अब इस कपडे को प्रभावित हिस्से पर रखे।
  • जैसे की कपडा गर्म हो जाये उसे वापिस उस पानी में भिगोये और प्रभावित हिस्से पर लगाए।
  • इस प्रोसेस को तब तक करे, जब तक पानी गर्म है।

गठिया की समस्या में अदरक खाने के फायदे

सूजन में राहत

  • किसी न किसी तरीके से नियमित रूप में अदरक का सेवन सूजन को कम करने में फायदेमंद होता है।
  • क्योंकि जिंजर में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते है जो शरीर में किसी भी जगह आई सूजन को ठीक करने में मददगार होते है।

एंटी ऑक्सीडेंट पाउडर

  • जिंजर पाउडर का सेवन आप किसी भी रूप में कर सकते यह गठिया की समस्या में फायदेमंद होता है।
  • यह डैमेज सेल्स को ठीक करता है और साथ ही लोगों के शरीर में एंटी ऑक्सीडेंट्स को बढ़ाता है।
  • Health benefits of ginger पाउडर ये है कि शरीर में और भी अन्य समस्याओ से छुटकारा दिलाने में काफी हद तक सक्षम होता है।

दर्द से राहत दिलाये

  • अदरक में पैन किलर के गुण होते है जो दर्द में जल्द ही राहत देता है।
  • जिंजर में एंटी नोसिसेप्टिव मौजूद होता है जो शरीर में दर्द को कम करने का काम करता है।

गठिया से होने वाली अन्य समस्या में फायदेमंद

  • गठिया से अन्य बीमारी जैसे दिल की समस्या, लंग्स की समस्या, किडनी की प्रॉब्लम आदि भी हो सकती है।
  • इन अन्य समस्या से राहत हेतु अदरक का सेवन काफी फायदेमंद होता है।
  • इसलिए नियमित रूप से किसी न किसी प्रकार से अदरक जरूर खाए।

किस प्रकार से करें अदरक का सेवन

  • जिंजर एक वेरस्टाईल पदार्थ है।
  • इसे जूस, पाउडर, पेस्ट और एक्सट्रेक्ट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • अगर आप चाहे तो जिंजर पाउडर, या टुकड़े को और इसके पेस्ट को सूप में डालकर इसका सेवन कर सकते है।
  • जिंजर को वेजिटेबल जूस में भी मिलाकर पी सकते है।   
  • अदरक की चाय भी पी सकते है। अगर चाहे तो अदरक के टुकड़े को गर्म पानी में उबालकर ठंडा कर के पी सकते है।
  • मार्किट में आज कल Ginger Supplement भी मिलते है जिसे आप खा सकते है।
  • डेली दिन में 3 से 4 बार 250 मिलीग्राम जिंजर का सेवन करना चाहिए इससे गठिया की समस्या में लाभ होगा।

सावधानी रखें

  • ज्यादा जिंजर का सेवन करने से शरीर में डायरिया और गैस की समस्या हो जाती है।
  • जिंजर का सेवन कभी कभार वोमाइटिंग, आँखों में जलन की शिकायत जैसी समस्या को उत्पन्न कर देती है।
  • अगर किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर लौ हो तो उसे जिंजर का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • प्रेग्नेंट महिला को जिंजर का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए। इसे इसके दोष परिणाम देखने को मिल सकते है।
  • जिन लोगों को गॉल्स्टोन की समस्या रहती है उन्हें अदरक के सेवन से बचना चाहिए।
  • कोई दिल की बीमारी हो जैसे हार्टबीट सही काम नहीं कर रही हो तो जिंजर का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अगर पहले से कोई इलाज चल रहा है और उसकी दवाई तो ऐसे में डॉक्टर की सलाह से ही जिंजर का सेवन करें।    

इस ऊपर दिए लेख में हमने आपको बताया कि गठिया की समस्या होने पर किस तरह से अदरक सेवन फायदेमंद है। और इसे खाने से पहले कौनसी सावधानियाँ रखनी चाहिए।