How to Improve Baby’s Skin Color: शिशु की त्वचा की रंगत निखारने के टिप्स

आपने देखा होगा की छोटे बच्चोंं की त्वचा प्राकृतिक तौर पर ही सुंदर और मुलायम होती हैं। जन्म के बाद बच्चोंं की त्वचा का भी ख्याल रखना भी ज़रुरी होता है, नहीं तो यह बहुत जल्दी रूखी और बेरंग हो जाती है। अगर केयर ना किया जाए तो बड़ों की त्वचा भी ख़राब होने लग जाती है तो बच्चों की त्वचा तो बहुत ज्यादा नाजुक होती है इसलिए इसके केयर की बहुत ज्यादा जरुरत पड़ती है।

हर माता पिता चाहते है की उनका बच्चा स्वस्थ रहने के साथ साथ सुन्दर और गोरा भी हो। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बता रहे है जिससे आप अपनी शिशु की त्वचा की रंगत को बचपन में ही निखार सकते है।

साथ ही यदि आपका बच्चा पहले से ही गोरा है तो इन टिप्स की मदद से आप उसकी रंगत को बरकरार रख सकते है। बहुत सी मम्मियों की शिकायत होती है कि जन्म के समय तो उनका शिशु गोरा था लेकिन दिन पर दिन उसकी रंगत गहरी होती जा रही है।

पर्यावरण में होने वाले बदलाव आपके शिशु की त्वचा की रंगत को प्रभावित कर सकते है। लेकिन शिशु की त्वचा की देखभाल से इस प्रभाव को रोका जा सकता है। आइये जाने How to Improve Baby’s Skin Color.

How to Improve Baby’s Skin Color: बच्चोंं की त्वचा को गोरा करने का तरीका

How to Improve Baby's Skin Color

साबुन का इस्तेमाल न करे

  • सबसे पहले तो आप यह जान ले की छोटे बच्चे की त्वचा बहुत नाजुक होती है इसलिए इनकी त्वचा पर साबुन का इस्तेमाल ना करे।
  • साबुन काफी कठोर होता है और इसमें कई हानिकारक तत्व मौजूद होते है जो छोटे बच्चोंं की त्वचा को क्षति पहुँचाते हैं।
  • साथ ही कुछ बच्चों को इससे एलर्जी भी हो जाती है, इसलिए एकदम छोटे बच्चे को दूध और बेसन से नहलाएं।
  • यदि आपको बहुत ज्यादा जरुरत लग रही है तो हफ्ते में 1-2 दिन बेबी सोप से नहला सकते है।

रोज़ाना मालिश करें

  • बच्चों की हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए उनकी मालिश की जाती है।
  • हम आपको बता दे की रोज़ाना मालिश करके शिशु की त्वचा का सांवलापन बचपन में ही दूर किया जा सकता है।
  • दरअसल मालिश करने से बच्चे की त्वचा पर नमी बनी रहती है, और त्वचा में नमी रहने पर अपने आप रंगत निखरने लगती है।

स्वास्थ्य का ख्याल रखे

  • यदि बच्चों का स्वास्थ्य सही नहीं रहता है तब भी बच्चों की त्वचा काली पड़ने लगती है।
  • इसलिए अपने बच्चे का खाने पीने से लेकर उसके कपड़े और आसपास के वातावरण का भी अच्छा ख्याल रखे।

इन उपायों की मदद से आप बच्चे की त्वचा की रंगत में थोड़ा परिवर्तन आता है। इसके अलावा शिशु की त्वचा पर कभी भी गोरा बनाने वाली क्रीम्स का इस्तेमाल ना करे। इससे शिशु की नाजुक त्वचा में एलर्जी हो सकती है।

कैसे रखें त्वचा का ख्याल: Baby Skin Colour Improvement Tips

उपरोक्त उपायों के अतिरिक्त भी आप कुछ घरेलू उपाय भी कर सकते है, जैसे

उबटन का इस्तेमाल

  • बच्चे के शरीर पर उबटन लगाने से भी Baby Skin Color में निखार आता है। इसका उपयोग करने के लिए आप थोड़े से बेसन में दूध और गुलाबजल को मिला दे और फिर इसका उबटन तैयार कर ले। इस उबटन को बच्चे को लगाए।
  • इस बात का भी ध्यान दे की आपको उबटन हलके हाथों से ही लगाना है क्योंकि बच्चे की स्किन बहुत ही मुलायम होती है।
  • इसके बाद आप उसे नहला सकते है। प्रतिदिन इसका इस्तेमाल करने से त्वचा में निखार आने लगता है।

नारियल तेल से करे मालिश

  • बच्चे का रंग यदि दब रहा है तो Fair Baby Skin के लिए नारियल के तेल से मालिश करना बहुत ही असरकारी होता है।
  • नारियल का तेल बच्चों को नुकसान भी नहीं करता है साथ ही यह त्वचा के रंग को निखारने में मदद भी करता है।
  • इसका इस्तेमाल करने से बच्चे के शरीर में इंफेक्शन होने के चांसेज भी कम हो जाते है।

धूप भी है जरूरी

  • बच्चों के लिए धूप भी बहुत जरूरी होती है इससे बच्चों को विटामिन डी मिलता है जो उनके हड्डियों और शरीर के विकास के लिए बहुत ही जरुरी होता है।
  • इसलिए बच्चों को धूप में थोड़ी देर ज़रूर बिठाये। यदि बच्चे को धूप से परेशानी हो रही है तो अपने डॉक्टर से धूप में बैठने का समय पूछ कर उसके अनुसार भी बिठा सकते है।

दूध और चन्दन पाउडर

  • दूध और चंदन पाउडर भी बच्चों की स्किन के लिए लाभकारी होता है। इसका उपयोग करने के लिए एक चम्मच में चंदन पाउडर ले लें और उसमे थोड़ा सा दूध मिला दे।
  • इसका एक पेस्ट तैयार हो जायेगा। साथ ही इसमें थोड़ा सा हल्दी भी मिला दे। इस पेस्ट को बच्चे के शरीर पर लगाए।
  • यदि आप इसका इस्तेमाल प्रतिदिन करेंगे तो इससे त्वचा का रंग तो साफ होगा साथ ही शरीर पर दाग और दाने नहीं होंगे।

आवश्यक जानकारी

  • जब भी आप अपने शिशु को नहलाये तो उसे ज्यादा गर्म पानी से नहीं नहलाना चाहिए। ऐसा करने से शिशु की त्वचा रूखी हो जाती है उन्हें आपको हलके गर्म पानी से ही नहलाना चाहिए।
  • Baby Complexion को सही रखने के लिए आपको कभी भी अपने बच्चे पर साबुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि बच्चों की त्वचा बहुत ही कोमल होती है इसलिए साबुन उनकी त्वचा को हानि पहुंचा सकता है।
  • आप बच्चों को दूध से भी नहला सकते है इससे भी बच्चों की त्वचा कोमल होती है। साथ ही आप गुलाब जल का भी इस्तेमाल कर सकते है।
  • बच्चों को मॉस्चराइजर ज़रूर लगाए यह बच्चों की त्वचा पर नमी बनाये रखने में मदद करता है। साथ ही इसके इस्तेमाल से त्वचा का रंग भी अच्छा रहता है और त्वचा में निखार भी आता है।

बच्चों के स्किन की देखभाल करना आपकी ज़िम्मेदारी है जिसे आपको बहुत ही अच्छे से निभाना है नहीं तो आगे चलकर बच्चों को स्किन से जुड़ी समस्याएं हो सकती है इसलिए उनकी त्वचा की साफ सफाई पर पूरा ध्यान दे साथ ही अपने बच्चों की देखभाल करते रहे। उपरोक्त उपायों के अतिरिक्त बच्चों को फलों का रस भी दें, यह बच्चों की रंगत को निखारने में मदद करता है साथ ही उनके आहार का भी ख्याल रखे क्योंकि त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाने के लिए आहार का सही तरीके से उपयोग करना भी ज़रूरी है।बच्चों का ख्याल रखे और समय समय पर उनका डॉक्टर के द्वारा चेकअप भी करवाते रहे ताकि आपको अपने बच्चे के स्वास्थ के बारे में पता चल सके।

You may also like...