रास्पबेरी फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है। उतना ही वह हमारे लिए लाभकारी भी होता है। रास्पबेरी फल को खाने से कई रोगों से मुक्ति मिलती है।

रास्पबेरी फल के साथ-साथ रास्पबेरी के पत्ते भी लाभकारी होते है। इससे बनी चाय बहुत सारे फायदे देती है।

खासकर महिलाओ के लिए इसकी चाय बहुत फ़ायदेमंद होती है। गर्भवती महिलाएं इसका सेवन करने से गर्भ के दौरान होने वाली कई समस्याओं से निजात पा जाती है। लाल रास्पबेरी के पत्तों से बनी चाय एक प्रकार की हर्बल चाय होती है। यह चाय जड़ी बूटियों का मिश्रण होती है।

रास्पबेरी पत्ते वाली चाय में महिलाओं की बढ़ती प्रजनन क्षमता, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने, हृदय की सुरक्षा, सूजन कम करने, चयापचय, हार्मोन को नियंत्रित करने और मतली व् अन्य जठरांत्र संबंधी समस्याओं को रोकने जैसे कई स्वास्थ्य लाभ शामिल होते है। जानते है Raspberry Leaf Tea Benefits.

Raspberry Leaf Tea Benefits: इस चाय के सेवन से पाए कई लाभ

Raspberry Leaf Tea Benefits

रास्पबेरी पत्ती चाय के स्वास्थ्य लाभ

  • रास्पबेरी पत्ती की चाय पीने से सर्दी, फ्लू, प्रजनन संबंधी मुद्दों, छालरोग, एक्जिमा, मुँहासे, मोटापे, अपच, कब्ज, उच्च रक्तचाप, जोड़ों का दर्द और सामान्य सूजन से पीड़ित लोगो को राहत मिलती है।
  • रास्पबेरी के पत्ते की चाय पोटेशियम, लोहा, मैग्नीशियम, विटामिन C, विटामिन B और विटामिन E के साथ निर्मित की जाती है।
  • साथ में इसमें कई शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट और एल्कोनॉइड होते हैं जो कि विविध प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते है।

गर्भवती महिलाओ के लिए लाभकारी

  • यह चाय गर्भाशय की मांसपेशियों को मजबूत बनाने का कार्य करती है।
  • ऐसा माना जाता है कि रास्पबेरी पत्ती वाली चाय के सेवन से प्रसव के दौरान होने वाले दर्द में कमी आती है। दर्द सहने की क्षमता का विकास होता है।
  • आपको बता दे कि इसके बारे में अभी तक कोई वास्तविक प्रमाण प्राप्त नहीं हो पाए है।
  • गर्भावस्था के दौरान यदि आप इस चाय का सेवन करने का विचार कर रही है तो पहले अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर ले।

पाचन में सहायक

  • रास्पबेरी के पत्ते की चाय में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है।
  • जो की पेट में दर्द को कम करने और कब्ज को रोकने में मदद करते है।
  • साथ ही यह सूजन और ऐंठन को भी कम करने में मदद करता है।

दस्त से राहत

  • यदि किसी को दस्त की समस्या हो रही है तो रास्पबेरी चाय के सेवन से आराम मिल जाता है।
  • रास्पबेरी चाय में कसैले टैनिन बहुतायत में पाया जाता है। जो कि दस्त से राहत दिलाने का कार्य करता है।
  • शोध के दौरान पता चला है कि दस्‍त की अवस्‍था में प्रत्येक आधे घंटे के दौरान इस चाय को पीना लाभकारी होता है।
  • इसका सेवन तब तक करे जब तक दस्त पूरी तरह से ख़त्म न हो जाए। ज्यादा फायदे के लिए पुदीने की पत्तियों के साथ इस चाय का सेवन भी कर सकते है।

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाये

  • रास्पबेरी पत्ती चाय में विटामिन सी की अधिक मात्रा पायी जाती है।
  • जिससे प्रति रक्षा प्रणाली को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • रास्पबेरी पत्ती की चाय शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करता है।

त्वचा की देखभाल में सहायक

  • रास्पबेरी पत्ती की चाय त्वचा पर होने वाले जलन को दूर करने में सहायता करती है।
  • रास्पबेरी पत्ती चाय में विटामिन ई और सी, एंटीऑक्सिडेंट्स तत्व पाए जाते है जो की सोरायसिस, मुँहासे और एक्जिमा को ठीक करने में मदद करते है।

वजन घटाने में मददगार

  • रास्पबेरी पत्ती चाय में कम कैलोरी होती है। जिसके कारण यह वजन को कम करने में भी सहायक होती है।
  • यह चाय महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को वितरित करने और अपनी ऊर्जा के स्तर बढ़ाने में सहायता करती है।

प्री मेंस्ट्रुएशन सिंड्रोम से निजात

  • प्री मेंस्ट्रुएशन सिंड्रोम की समस्या अधिकांश महिलाओं को होती है।
  • इसे पूर्ण रूप से बीमारी नहीं कहा जा सकता यह एक शारीरिक व् मानसिक अवस्था होती है।
  • इसके लक्षण हर महिला में अलग अलग होते है। कुछ महिलाओ को यह समस्या मासिक धर्म से आठ-दस दिन पूर्व उत्पन्न होती है।

इसके अतिरिक्त रास्पबेरी पत्ती की चाय कार्डियोवास्कुलर मुद्दे का इलाज करता है, प्रजनन क्षमता बढ़ती है और यह सूजन को कम करने में भी मदद करती है।

अन्य जानकारी

  • कुछ लोगों में रास्पबेरी पत्ती की चाय के सेवन से रेचक और मूत्रवर्धक प्रभाव सामने आये है।
  • यदि आप चिंता या नींद की दवाएँ ले रहे है तो इस चाय का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से ज़रुर विचार विमर्श करे।