Rickets Symptoms: बच्चों में होने वाला हड्डियों का एक रोग, जाने लक्षण

Spread the love
  • 3
    Shares

सूखा रोग यानी रिकेट्स, हड्डियों का एक रोग है जो बच्चों में होता है। यह रोग बच्चों के शरीर में विटामिन डी की कमी के चलते होता है।

इसमें बच्चा दिन प्रतिदिन निरबल होता जाता है उसका पेट भी आगे की और निकलने लगता है। साथ ही इसमें बच्चों की हड्डियाँ मुलायम हो जाती हैं।

और कई बच्चो के केसेस मे यह हड्डियां इतनी कमजोर हो जाती हैं कि साधारण दबाव के चलते भी टूटने लगती है। यही कारण है की इस रोग के होने पर बच्चो के पैर टेढ़े मेढ़े हो जाते है और स्पाइन भी असामान्य होकर मुड़ जाती है।

यदि यह रोग बड़ों में होता है तो इसे अस्थि-मृदुता (ओस्टोमलाकिआ) कहा जाता है। विशेषज्ञों के मुताबित यह रोग कुपोषण के चलते होता है, तो चलिए आज के लेख में जानते है रिकेट्स कैसे होता है और Rickets Symptoms in Hindi.

Rickets Symptoms in Hindi: रिकेट्स क्या है और इसके लक्षण

Rickets Symptoms

रिकेट्स के लक्षण

  1. रिकेट्स का मुख्य लक्षण हड्डियों में दर्द है।
  2. जिन बच्चों को यह समस्या होती है उन्हें बहुत बेचैनी होने लगती है और वे चिड़चिड़े हो जाते है।
  3. इसमें बच्चो के सर से अधिक पसीना निकलने लगता है, दस्त लग जाते है और मांसपेशिया ठंडी पढ़ने लगती है।
  4. इसके होने पर दाँतों की रचना में विकृति, दाँतों में कैविटी होना और दाँतों में देर से विकास होना सम्मिलित हैं।
  5. सूखा रोह होने पर बच्चे की छाती में विकार हो जाते है जिसके कारण ना वो ठीक से चल पाता है और ना उठ बैठ पाता है।

कैसे होता है रिकेट्स?

शरीर में विटामिन डी, हड्डियों में कैल्शियम और फास्फोरस को अवशोषित करने का कार्य करता है। इसका मतलब है यदि विटामिन डी की कमी हो जाएगी तो शरीर में विटामिन सी और फॉस्फोरस की कमी भी हो जाती है।

ऐसी अवस्था में जब शरीर के रक्त में कैल्शियम और फास्फोरस की कमी होने लगती है तो रक्त इसकी पूर्ति हड्डियों से करने लगता है और अपना संतुलन बनाता है। इसके परिणामस्वरूप हड्डियां मुलायम होने लगती है और हड्डियों की संरचना कमजोर हो जाती है।

विटामिन डी की कमी से रिकेट्स होता है, इसका खतरा 3 से 36 महीने तक के बच्चों में ज्यादा देखने को मिलता है। इसके अतिरिक्त जिनकी त्वचा का रंग काला होता है उन्हें भी रिकेट्स का खतरा बना रहता है क्योंकि इस तरह की त्वचा पर धूप का प्रभाव बहुत कम पड़ता है।

अन्य कारण

  • हम जानते है विटामिन डी का मुख्य स्त्रोत विटामिन डी है। आजकल के बच्चे बाहर ज्यादा खेलना पसंद नहीं करते है, जिसके चलते उन्हें पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी नहीं मिल पाता है।
  • बच्चों को पौष्टिक खाना ना मिल पाने के कारण भी विटामिन डी कमी हो जाती है और रिकेट्स का खतरा बढ़ जाता है।
  • बहुत कम केसेस में इसके पीछे अनुवांशिक कारण भी हो सकते है।
Loading...

Spread the love
  • 3
    Shares

You may also like...