Benefits of Wearing Silver Anklets: चांदी की पायल पहनने से मिलते है ढेरो फायदे

महिलाओं का पायल पहनना बहुत ही शुभ माना जाता है। भारतीय परंपरा के अनुसार महिलाओं को पायल पहनना अनिवार्य होता है। इसे सुहाग की निशानियों पर भी देखा जाता है।

पुराने ज़माने में पायल को लेकर कई धारणाये भी थी। कुछ लोग इसे शुभ अशुभ से जोड़ते थे तो कुछ लोग इसे स्वास्थ्य से सबंधित करने से भी मानते थे और कहते थे की इसके कई फायदे होते हैं।

पायल जिसे अंग्रेजी में Anklet कहते हैं, पैरों की सुंदरता को बढ़ाती है। इसकी आवाज भी मधुर होती है। स्त्रियों के सोलह श्रंगार में पायल भी शामिल होती है। आजकल पायल फैशन में भी फिर से शामिल हो गयी है जिनमे तरह
तरह के डिजाइंस भी आ गए है।

पर क्या आप जानते है पायल आपके पैरों की सुंदरता बढ़ाने के अतिरिक्त आपके स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होती है। क्या आपने कभी सोचा है कि पैर में चांदी की ही पायल क्यों पहनते है। शुद्ध चांदी से बनी पायल को पहनने से पैरों के तलवों की सूजन खत्म हो जाती है। इसके अलावा जानते है और भी कई Health Benefits of Wearing Silver Anklets.

Benefits of Wearing Silver Anklets: जाने पायल पहनने से मिलने वाले अनसुने लाभ

Benefits of Wearing Silver Anklets

किस प्रकार पायल पहुँचाती है फायदा

  • चांदी की पायल को पैरों में पहनने पर यह पैरों के साथ रगड़ती रहती है।
  • ऐसा होने से पायल में उपस्थित धातु तत्व त्वचा से घर्षण करने पर शरीर में प्रवेश कर जाते है।
  • जिसके चलते हड्डियाँ मजबूत होती है साथ ही अन्य फायदे भी होते है। जानते है इसके अन्य फ़ायदों के बारे में।

हड्डियाँ मजबूत बनाये

  • पायल सदैव पैरों से रगड़ती है जिससे पायल के धातु के तत्व त्वचा से रगड़ कर शरीर के अंदर प्रवेश करते हैं।
  • यह तत्व हड्डियों को सोने-चांदी जैसी मज़बूती प्रदान करते हैं।
  • इसी कारण से माना जाता है कि पायल पहनने से हड्डियाँ मजबूत होती हैं।
  • आपको जानकारी दे दें की आयुर्वेद में भी कई दवाओं में इन धातुओं के भस्म का इस्तेमाल किया जाता है।
  • जिस तरह धातुओं की भस्म से स्वास्थ्यवर्द्धक लाभ मिलते हैं वैसे ही स्वास्थ्य फायदे पैरों में पायल पहनने से भी होते हैं।

पैरो की सूजन कम होती है

  • यदि आप हमेशा एड़ी की सूजन की शिकायत करते हैं?
  • जो आपके दैनिक दिनचर्या में बाधा डालती हैं या आपके लिए रोजमर्रा की समस्या बन गई है तो Silver Payal पहनने से आपको मदद मिल सकती है।
  • यह रक्त परिसंचरण को नियंत्रित करती है और इस तरह एड़ी की सूजन का इलाज करने में सहायक है।

शरीर का तापमान संतुलित रखे

  • चांदी की तासीर ठंडी होती है, आयुर्वेद के मुताबिक मनुष्य का सिर ठंडा और पैर गर्म होने चाहिए।
  • जिसके लिए सिर पर सोना और पैरों में चांदी पहनने का चलन है। Ladies Payal पहनने से सिर से उत्पन्न गर्म ऊर्जा पैरों में और पैरों से पैदा हुई ठंडी ऊर्जा सिर में चली जाती है।
  • जिसके कारण पूरे शरीर का तापमान संतुलित रहता है।

पैरो का दर्द दूर करे

  • Anklets for Women पैरो को अच्छा दिखाने के साथ साथ पैर के दर्द को दूर करने में भी सहायक होता है।
  • यदि आप थके हुए है और पैर के दर्द से पीड़ित हैं या फिर आपके पैरों में झुनझुनी, या कमजोरी महसूस कर रही हैं तो चाँदी की पायल पहनने से इन समस्याओं से राहत मिलती है।

नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव कम होता है

  • वास्तु शास्त्र के मुताबिक पायल की आवाज से घर की नकरात्मक शक्तियां कम हो जाती हैं।
  • साथ ही इससे सकारात्मक ऊर्जा भी मिलती रहती है।

बांझपन को दूर करे

  • महिलाओं के पैरों में पायल पहनने से बहुत सी समस्याएं दूर हो जाती है।
  • इससे बांझपन जैसी परेशानी नहीं आती है। महिला को होने वाले स्त्री रोग संबंधी विकार भी दूर हो जाते है।
  • हार्मोनल असंतुलन से भी इससे निजात मिल जाता है। प्रसूति संबंधी परेशानियां भी पायल की मदद से दूर हो जाती है।

प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि

  • पायल पहनने से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता का भी विकास होता है। जिसके कारण रोगों से लड़ने की शक्ति बनी रहती है।
  • शरीर स्वस्थ्य रहता है इसे पहनने से और शरीर में ऊर्जा भी बनी रहती है।
  • यदि शरीर से ऊर्जा निकलती है तो भी यह ऊर्जा को वापस शरीर में लाने में मदद करती है।

Ankle Jewelry पहनने के अन्य फायदे

  • यदि आप चांदी की पायल पहनती है तो उससे आपके शरीर में रक्त का संचार भी अच्छे से होता है और इससे आपको बीमारियों से भी राहत मिलती रहती है।
  • यदि किसी महिला के पेट पर ज्यादा चर्बी है या फिर निचले अंगो में ज्यादा वसा है तो आपको चांदी की पायल जरूर पहननी चाहिए।
  • यह पेट और उसके निचले अंगो में वसा की मात्रा वृद्धि नहीं होने देता है। इसलिए यह मोटापा को भी कम करने में मदद करता है।
  • महिलाओ को मासिक धर्म के समय होने वाली समस्याएं भी पायल पहनने से दूर हो जाती है। दर्द की परेशानी भी नहीं होती है। इसलिए चांदी की पायल को पहनना अच्छा होता है।
  • पायल पैरों की सुंदरता को भी बढ़ाने में मदद करती है। पुराने ज़माने से लेकर आज तक महिलाएं सोलह शृंगार में पायल को पहनती है। इससे पैरों की सुंदरता में चार चाँद लग जाते है।
  • पायल की मधुर आवाज़ पुरुषों को भी अपनी ओर आकर्षित करने में सहायक होती है।
  • ऐसा भी माना जाता है की यदि महिलाएं चांदी की पायल को नियमित रूप से पहने रहती है तो उससे महिलाओं में गाइनोलॉजिकल डिस्ऑर्डर जैसी परेशानी नहीं होती है।

अन्य जानकारी

  • पुराने ज़माने में पायल का उपयोग संकेत के लिए भी किया जाता है। यदि कोई महिला पायल पहनती है तो उसकी आवाज से घर के अन्य पुरुष सतर्क हो जाते थे और उन्हें महिला के आगमन की सुचना भी मिल जाती थी ताकि वह व्यवस्थित ढंग से उनके सामने आ सके।
  • हिन्दू धर्म में ऐसा भी माना जाता है की Indian Anklets पति पत्नी के मध्य सम्बन्धो को मधुर बनाने में मदद करती है। इससे दोनों के बीच प्यार को बढ़ावा भी मिलता है। साथ ही इसे पहनने से घर का वातावरण अच्छा रहता है।

अब तो आप समझ ही गए होंगे की चांदी की पायल पहनना आपके लिए कितना फायदेमंद होता है। एक पायल को पहनकर आप भारतीय परंपरा को निभा सकती है साथ ही इसके फायदों का भी लाभ उठा सकती है और अपनी सुंदरता को भी बढ़ा सकती है। तो फिर आज से ही शुरू कर दे अपने पैरों में Ladies Anklets को पहनना।


You may also like...