Moringa Leaves Benefits: सहजन के पत्ते आपकी सेहत के लिए है काफी फ़ायदेमंद

सहजन या ड्रमस्टिक के बारे में तो आपको पता होगा हीं की यह कितना गुणकारी है। यह आपको कई प्रकार की बीमारियों से राहत दिलाने में भी काफी सक्षम है। साथ ही इसमें कई प्रकार के तत्व मौजूद होते है।

सहजन को कई लोग मोरिंगा के नाम से भी जानते है इसके अलावा भी इसे कई नामो से बुलाया जाता है। जितनी Sahjan फ़ायदेमंद है उतनी ही सहजन की पत्तियां भी फ़ायदेमंद होती है।

सहजन की पत्तियों में 80 प्रकार के अलग अलग तत्व होते है और साथ ही 46 टाइप के एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते है। ड्रमस्टिक के फ्लावर, बीज, पत्तियों के फली और इसकी जड़ तक सब कुछ फायदेमंद होती है।

इस लेख में हम आपको ड्रमस्टिक के फ़ायदों के बारे में बताने जा रहे की यह किस प्रकार से आपको स्वस्थ रख सकते है। इस लेख में आप पढ़े Moringa Leaves Benefits.

Moringa Leaves Benefits: जाने मोरिंगा की पत्तियों के फ़ायदों के बारे में

Moringa Leaves Benefits

आँखों के लिए फ़ायदेमंद

  • सहजन की फली का सेवन आँखों के लिए काफी ज्यादा फ़ायदेमंद साबित होता है।
  • मोरिंगा में काफी अच्छी मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है जो आँखों को स्वस्थ रखने का काम करता है।
  • जब आँखों की बात आती है तो कई लोग ये कहते है की गाजर का सेवन करना चाहिए लेकिन गाजर से मुकाबले सहजन में 4 गुना ज्यादा विटामिन ए होता है।
  • ड्रमस्टिक की पत्तों के इस्तेमाल से आप आँखों की सभी समस्या से दूर रह सकते है।

हड्डियों के लिए फ़ायदेमंद

  • सहजन के पत्तों में 435 एमजी तक कैल्शियम होता है जो की हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए काफी ज्यादा फ़ायदेमंद है।
  • अगर आप चाहे तो सहजन के पत्तों का रस पी सकते है इससे आपकी हड्डियाँ हमेशा ही स्वस्थ रहेगी।
  • यह हड्डियों के ग्रोथ के साथ साथ उसे मजबूत बनाने का भी काम करती है।

नर्वस सिस्टम को बढ़ावा देना

  • ड्रमस्टिक में काफी ज्यादा मात्रा में विटामिन बी काम्प्लेक्स पाया जाता है।
  • यह सहजन में पाया जाने वाला विटामिन बी काम्प्लेक्स आपकी बॉडी में नर्वस सिस्टम को प्रोत्साहित करता है।
  • सहजन के पत्तों के सेवन से आपके नर्वस सिस्टम की कार्य क्षमता बढ़ती है।
  • इसके अलावा यह आपके नर्वस सिस्टम में होने वाले डिसऑडर जैसे अंगो की झुनझुनी से भी राहत दिलाता है।

हार्ट की समस्या में लाभदायक

  • ड्रमस्टिक के पत्ते आपको कई प्रकार की हार्ट की बीमारियों से दूर रखते है।
  • ड्रमस्टिक में काफी अच्छी मात्रा में पोटैशियम प्राप्त होता है जिससे आप दिल की मांसपेशियों को स्वस्थ रख सकते है।
  • मोरिंगा की पत्तियों से कभी भी दिल की मांसपेशियों में सिकुड़न आने की समस्या नहीं होती है।
  • इसी के साथ मोरिंगा की पत्तियों का सेवन दिल में ब्लड के सर्कुलेशन को काफी स्मूथ रखता है।
  • मोरिंगा में मिनरल भी भरपूर मात्रा में होता है जिस वजह से यह आपके हार्ट को स्वस्थ रखने में सक्षम होता है और साथ ही हार्ट के वर्क को सामान्य रखता है।
  • इसी के साथ मोरिंगा की पत्तियों में काफी एंटीऑक्सीडेंट्स होते है जो सूजन से बचाते है।
  • इस के सेवन से आप हार्ट की कई बीमारियों से बच सकते है।

इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाता है

  • ड्रमस्टिक के पत्तों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है।
  • वैसे लोग विटामिन सी के लिए ऑरेंज को अच्छा स्रोत मानते है पर ड्रमस्टिक के पत्तों में भी काफी मात्रा में विटामिन सी होता है जो आप को स्वस्थ रखता है।
  • विटामिन सी बॉडी में इम्युनिटी को बढ़ाता है और कई तरह की बीमारियों से बचाता है।
  • अगर बॉडी में इम्युनिटी सिस्टम स्ट्रांग होता है तो आपको सामान्य बीमारी जैसे सर्दी, खांसी और बुखार के इन्फेक्शन कभी नहीं घेरते है।

कैंसर की बीमारी में फ़ायदेमंद

  • ड्रमस्टिक के पत्तों में 46 टाइप के अलग अलग एंटीऑक्सीडेंट्स होते है जो बॉडी से फ्री रेडिकल्स के खिलाफ लड़ता है।
  • इस तरह यह बॉडी में कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकता है और बाकि सेल्स को कैंसर सेल्स में कन्वर्ट होने से बचाता है।

प्रेग्नेंट महिलाओं को एनीमिया से बचाता है

  • प्रेग्नेट महिलाओं के लिए सहजन के पत्तों का रस काफी ज्यादा फ़ायदेमंद होता है।
  • सहजन के पत्तों में काफी मात्रा में आयरन मौजूद होता है।
  • इस वजह से यह माँ और बच्चे में प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली आयरन की कमी को पूरा करता है।
  • साथ ही यह बॉडी में रेड ब्लड सेल्स को बनाता है और बढ़ावा देता है।
  • इस तरह से यह एनीमिया की बीमारी को होने से रोकता है।

ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है

  • ब्लड प्रेशर की समस्या में आप सहजन के पत्तों के पाउडर का इस्तेमाल करें।
  • क्योंकि सहजन के पत्तों में अनिमो एसिड और फाइबर की मात्रा काफी अच्छी होती है जिससे बॉडी में ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है।
  • सहजन के पत्तों में पाए जाने वाले तत्वों के कारण यह इन्सुलिन को इनक्रीज करता है।
  • डायबिटीज के मरीजों को हफ्ते में तीन बार सहजन के पत्तों का सेवन करना चाहिए।

अस्थमा के मरीजों के लिए फ़ायदेमंद

  • अस्थमा के मरीजों को सहजन के सूप का सेवन करना चाहिए इससे उन्हें काफी लाभ मिलता है।
  • ड्रमस्टिक के पत्तो में एंटी इंफ्लेमेटरी के गुण होते है जिससे अस्थमा की बीमारी में फायदा मिलता है।

झुर्रियों में फ़ायदेमंद

  • अगर आपको भी झुर्रियों की समस्या है तो आपको सहजन के पत्तों के रस में निम्बू मिलाकर चेहरे पर लगाना चाहिए।
  • 5 मिनट तक रखने के बाद आप अपना चेहरे धोए फर्क महसूस होगा।
  • सहजन के पत्तों में मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी ऑक्सीडेंट्स के गुणों की वजह से यह चेहरे की झुर्रियों को हटाने में सक्षम होता है।

इस ऊपर दिए लेख में आज हमने आपको बताया की मोरिंगा की पत्तियों से आपको किन समस्या में फायदा मिल सकता है और यह आपके लिए किसी किसी प्रकार से स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकता है। अगर आप भी ऊपर बताई गई किसी भी समस्या से परेशान हैं तो आपको भी सहजन की पत्तियों का सेवन करना चाहिए लाभ होगा।


You may also like...