Reasons for Late Period: इन कारणों से समय पर नहीं आते हैं पीरियड्स

समय से पीरियड्स (माहवारी) न आना कोई नई बात नहीं है। अधिकतर महिलाओं को अनियमित माहवारी की समस्या रहती है। वैसे तो यह इतनी गंभीर बात नहीं है लेकिन ऐसा लगातार होते रहना भी सही नहीं है।

समय पर माहवारी ना आने या फिर माहवारी अनियमितता के कारण आप कही जाने के प्लान नहीं बना पाते। यह तो बेहद ही सामान्य बात है किन्तु कई बार इनका अनियमित होना सीरियस हेल्थ थ्रेट का भी सिग्नल देता है।

किशोरावस्था के पहले कुछ वर्षों में अनियमित पीरियड होना सामान्य है। परन्तु यदि आपको यह समस्‍या किशोरावस्था के बाद भी सहनी पड़ रही है तो इसके कारण जानना ज़रूरी हो जाता है।

शर्म या झिझक के कारण लड़कियाँ इस समस्या के बारे में किसी से भी पूछने में हिचकिचाती हैं। इसलिए आज के लेख में हम आपको बता रहे है Reasons for Late Period.

Reasons for Late Period: जानिए अनियमित माहवारी के कारण

Reasons for Late Period

तनाव में रहना

  • तनाव लेना हमारे शरीर के लिए किसी भी तरह से सही नहीं है। इससे शरीर को नुकसान पहुँचता है।
  • तनाव लेने से शरीर में अधिक मात्रा में एस्ट्रोजन और कोर्टिसोल हॉर्मोन रिलीज़ होने लगते है।
  • जब शरीर में इसकी मात्रा अधिक होने लगती है तो इसका असर आपके साइकिल पर पड़ता है और यह भी एक Reasons for Missed Period है।

मधुमेह

  • शरीर में रक्त का स्तर बिगड़ जाने के कारण भी हॉर्मोन असंतुलित हो जाते है।
  • इसलिए मधुमेह की समस्या होने पर भी पीरियड्स समय पर नहीं आ पाते।

ओवर एक्सरसाइज

  • पीरियड्स होने के लिये भी हमारे शरीर को शक्‍ति चाहिये होती है।
  • यदि आप अपने शरीर की पूरी शक्ति जिम में जाकर बर्न कर देती हैं, तो शरीर के पास म‍हीने के उन दिनों में कुछ भी यूज करने के लिये नहीं रहता है।
  • या अन्य शब्दों में कहे तो ज्यादा व्यायाम करने से शरीर पर्याप्त मात्रा में एस्ट्रोजन को रिलीज नहीं कर पाता, ऐसे में समय पर पीरियड्स नहीं आते।

पीसीओएस

  • आजकल पीसीओएस की समस्या कम उम्र में भी होने लगी है, इस समस्या का सीधा प्रभाव मासिक चक्र पे पड़ता है।
  • इसमें समस्या के चलते ओवरी में छोटी गाठ बन जाती है। जिसका यदि सही समय पर इलाज नहीं किया जाये तो प्रजनन छमता पर भी असर बढ़ जाता है।
  • वजन का बढ़ना, मुहांसे, बालो की ग्रोथ बढ़ना आदि Late Period Causes माने जाते हैं ।

बर्थ कंट्रोल पिल्स

  • बर्थ कंट्रोल पिल्स लेने पर शरीर को कई साइड इफेक्ट्स होते है जिसके चलते हार्मोनल इम्बैलेंस होने लगता है।
  • बर्थ कंट्रोल पिल्स के साथ एडजस्‍ट करने में शरीर को समय लगता है। इसलिए इसके बाद पीरियड्स लेट या मिस हो सकते है।

शराब का अधिक सेवन

  • हमारा लीवर एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को मेंटेन करने का कार्य करता है।
  • शराब का सेवन ज्‍यादा करने से लीवर को नुकसान पहुँचता है जिससे दोनों हार्मोन के बीच में बैलेंस बिगड़ सकता है।

वजन का बढ़ना

  • अधिक वजन बढ़ने से और मोटापे से भी आपके पीरियड्स पर असर पड़ता है।
  • शरीर में मोटापा बढ़ने की वजह से आपकी बॉडी के हॉर्मोन्स अच्छी तरह से काम नहीं कर पाते है जिस वजह से आपके पीरियड्स लेट हो जाते है।
  • इसलिए आपको एक नियमित डाइट और एक्सरसाइज करनी चाहिए जिससे की आपके पीरियड्स टाइम पर आए।

खाने में अनियमितता

  • कई महिलाओं में एनोरेक्सिया (Anorexia) और बुलिमिया (Bulimia) पाया गया।
  • यह दोनों ऐसी समस्या है जिसमे महिलाएं और लड़कियाँ अपने वजन कम करने के लिए खाने को अवॉयड करना शुरू कर देती है ।
  • इस वजह से पोषण की कमी से पीरियड्स पर भी असर पड़ता है और पीरियड्स अनियमित हो जाते है।
  • साथ ही पीरियड्स मिस होने के अलावा कभी कभी लेट आते है और फिर पीरियड्स लेट होने की वजह से आपके शरीर में कई प्रकार के अलग अलग चैंजेज आते है।

वजन कम होना

  • कई लड़कियाँ और महिलाएं अपनी उम्र के हिसाब से पतली और दुबली होती है।
  • उन महिलाओं और लड़कियों का अंडर वेट होना भी कई बार पीरियड्स को अनियमित बना देता है।
  • ऐसी महिलाओ और लड़कियों की बॉडी में सही मात्रा में एस्ट्रोजन (estrogen) नहीं बन पाता है जिससे की उनका ओवुलेशन नही हो पाता है।

ज्यादा प्रैक्टिस करना

  • कई बार ऐसा होता है की जो खिलाड़ी होते है या फिर डांसर्स होते है वो अपनी अच्छी परफॉर्मेंस के लिए ज्यादा प्रैक्टिस करते है।
  • कई बार अपने स्टैमिना को बढ़ाने के लिए वे ज्यादा प्रैक्टिस करने लग जाते है।
  • लेकिन इसका सीधा असर पीरियड्स पर पड़ता है।
  • ऐसा करना आपकी बॉडी में एस्ट्रोजन हॉर्मोन को प्रभावित करते है जिससे की एस्ट्रोजन हॉर्मोन विपरीत काम करना शुरू करते है।
  • इस वजह से महिलाओ को पीरियड लेट होना और मिस होने जैसी समस्या हो जाती है।
  • ऐसे में आपको सही प्रकार के पौष्टिक तत्वों से भरपूर भोजन करना चाहिए और आराम करना चाहिए।

कोई बीमारी से ग्रस्त रहना

  • अगर कोई महिला बहुत समय से किसी बीमारी से पीड़ित है तो उन्हें भी पीरियड्स ना आने या लेट आने की समस्या हो सकती है।
  • जब तक उस बीमारी का सही तरीके से इलाज नहीं हो जाता पीरियड्स की समस्या ऐसे ही होती रहेगी।
  • जैसे जैसे आपकी बीमारी ठीक होगी वैसे ही आपकी पीरियड्स की समस्या भी ठीक हो जाएगी।

अधिक दवाइयों का सेवन

  • अगर आपको कोई भी समस्या होती है और आप उसकी दवाई लेती हैं तो हो सकता है की यह आपके पीरियड्स को इफ़ेक्ट करे।
  • थाइरोइड, कैंसर, डिप्रेशन और मानसिक बीमारियों में जो दवाइयाँ ली जाती है ये सभी पीरियड्स को इफ़ेक्ट करती है।
  • कैंसर के उपचार कीमोथेरपी में दी जाने वाली दवाइयों का भी असर पीरियड्स पर पड़ता है।
  • अगर आप इनमे से कोई दवाई ले रहे हैं तो आपको भी पहले डॉक्टर्स से एक बार पूछ लेना चाहिए की यह बॉडी को इफ़ेक्ट तो नहीं करेगी।

इस ऊपर दिए लेख में में हमने आपको बताया Why is My Period Late के कारणों के बारे में। अगर आपको भी पीरियड्स लेट होने की या फिर अनियमितता की शिकायत है तो हो सकता है आपको भी ऊपर दिए इस लेख में से किसी कारण की वजह से यह समस्या हो। जल्द ही अपनी समस्या के कारण को जाने और उसका इलाज करे।