Hygiene For Kids: बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए हर पेरेंट्स को आजमाने चाहिए ये टिप्स

प्रत्येक माता पिता चाहते है की उसका बच्चा स्वस्थ रहे क्योंकि एक स्वस्थ बच्चे का विकास अच्छे से होता है और इसके लिए बेहद जरूरी है कि बच्चे की देखभाल अच्छे से की जाए ताकि वह रोगों से दूर रह सके।

हमे उसके खान पान से लेकर उसके रख रखाव सभी पर ध्यान देना चाहिए। यदि आपका शिशु कुछ ही महीने का है तो आपको उसकी साफ़ सफाई का विशेष ख्याल रखना पड़ता है ताकि वह रोगों से दूर रहे।

वैसे तो हाइजीन का ख्याल रखना पूरे परिवार के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। किंतु छोटे बच्चों का इम्युनिटी सिस्टम वीक होता है इसलिए वे बीमारी के घेरे में जल्दी आ जाते है। इसलिए बच्चों के लिए हाइजीन का ख्याल रखना बहुत ही ज़रुरी होता है।

आज हम आपको Hygiene For Kids बताने जा रहे है। जिसके अनुसार आपको बच्चे के खाने, पीने और नहाने से लेकर हर चीज का ध्यान रखना ज़रुरी होता है।

Hygiene For Kids: आपके बच्चों को रोगों से दूर रखें इन हाइजीन टिप्स को अपना कर

Hygiene For Kids

प्रतिदिन बच्चे को नहलाएं

  • बच्चे को प्रतिदिन नहलाना बहुत आवश्यक होता है।
  • रोज नहलाने से बच्चा साफ़ रहता है और उसे इंफेक्शन होने का खतरा कम होता है।
  • ध्यान रहे की जब भी आप बच्चे को नहलाती है तो बच्चे के चेहरे, हाथ और डायपर वाली जगह को प्रतिदिन साफ करें।
  • यदि नवजात शिशु है तो आप उसे प्रतिदिन नहलाने के बजाय स्पॉज बॉथ करवा सकते हैं।

अपने हाथों को हमेशा धोएं

  • बच्चे या परिवार में किसी का भी खाना बनाने से पहले हाथ धोना बहुत आवश्यक होता है।
  • ध्यान रहे जब भी आप बच्चे का डायपर चेंज करते है तो चेंज करने के बाद अपने हाँथ ज़रूर धो ले।
  • आपको बता दे की बच्चे को उठाने से पहले एंटीबैक्टीरियल साबुन से हाथ धोने की आवश्यकता होती है।
  • यदि आप बिना हाथ साफ किए बच्चे को लेते हैं तो उसे बैक्टीरिया के कारण से जुकाम और डायरिया होने की आशंका बढ़ जाती है।

बाल धोना

  • छोटे बच्चों के लिए हमेशा बिना आंसू वाले प्राकृतिक शैंपू का उपयोग करना चाहिए
    बच्चे के सर पर शैम्पू को धीरे धीरे लगाना चाहिए नहीं तो बच्चों के बाल गिर सकते है।
  • दरअसल बच्चों की त्वचा बहुत नाजुक होती है और तेजी से शैम्पू लगाने से बालों के रोम में तनाव हो सकता है।
  • बच्चों के सर को भी हलके हाथों से सॉफ्ट तौलिये के मदद से पोंछना चाहिए और बड़े दांतो वाले कंघी से बाल संवारना चाहिए।

कान साफ रखे

  • बच्चों के कानो को साफ रखना भी बहुत ज़रुरी होता है।
  • परन्तु इसके लिए आपको इसका सही तरीका मालूम होना चाहिए।
  • ध्यान रहे की कभी भी बच्चों के कानो को ईयर बड से साफ ना करें।
  • आप बच्चों के कान को साफ करने के लिए कॉटन के कपड़े का उपयोग कर सकते है।
  • यह बच्चे के लिए अच्छा रहता है और साथ ही इससे कानों को आसानी से साफ किया जा सकता है।

नाखून काटे

  • अधिकांश छोटे बच्चों को अपने हाथ मुँह में लेने की आदत हो जाती है और यदि हाँथ के नाख़ून बड़े है तो वह बच्चे के मुलायम मसूड़ों में भी लग सकते है।
  • साथ ही नाखून बड़े होने से उनमें कीटाणु अपनी जगह बना लेते है।
  • यही कीटाणु हांथो से मुँह में प्रवेश कर जाते है जिससे बच्चे बीमार होते है।
  • इसलिए सदैव बच्चे के नाखून को काटकर रखें और साफ रखें।

शिशु की दूध के बोतल की सफाई

  • यदि आप अपने बच्चे को बोतल से दूध पिला रही है तो आपको बोतल की साफ सफाई पर पूरा ध्यान देना चाहिए।
  • इसके लिए बोतल को प्रतिदिन साफ करे।और हर अल्टरनेट दिन में बोतल को गर्म पानी से साफ करे।
  • बोतल के निप्पल को अपने हांथो की सहायता से साफ करे यह बहुत ही मुलायम होती है इसलिए इसका विशेष ध्यान देना होता है।
  • बोतल को धोने के बाद साफ कपड़े से अच्छी तरह से पोछ ले ताकि उसमे नहीं और पानी ना रहे।

अपने बच्चे के डायपर नियमित रूप से बदलें-

  • बच्चे के डायपर को नियमित समय अंतराल में बदलते रहना चाहिए।
  • ज्यादा समय तक डायपर को ना बदलने से वह गीला रहता है जिसके कारण बच्चे को सर्दी जुकाम भी हो सकता है।
  • डायपर बदलते समय बच्चे की सफाई का भी ध्यान रखे। इसके बाद कॉटन के कपड़े की मदद से इसे साफ करे।

इन बातों का भी रखे ख्याल

  • अपने बच्चों की आँखों को भी साफ करते रहे। बार बार गंदे हाँथ बच्चों की आँखों पर न लगने से संक्रमण हो सकता है। एक साफ कपड़े की मदद से आँखों को साफ करे।
  • यदि आपका बच्चा खिलौनों से खेलता है तो आपको उसके खिलौनों को भी साफ सुथरा रखना ज़रुरी है। क्योंकि बच्चे खिलौनों को कभी कभी मुंह में लेने लगते है जिससे कीटाणु उनके शरीर में भी जा सकते है इसलिए खिलौनों की साफ सफाई पर भी विशेष ध्यान दे।
  • अपने घर को भी साफ सुथरा रखे। जिससे किसी प्रकार का संक्रमण न हो सके। घर में गन्दगी होने से भी बीमारियाँ फैलती है और बच्चों में इम्युनिटी पावर कम होती है जिसके कारण बच्चे जल्दी बीमार पड़ते है। खास कर फर्श को किसी कीटाणुनाशक से साफ करे।
  • आप बच्चे को जब भी अपने हाथ में ले तो इस बात का भी ध्यान दे की आपके हाथ भी साफ होने चाहिए। क्योंकि इससे भी बच्चों को संक्रमण हो सकता है।
  • बच्चों को पहनाने वाले कपड़ों को भी साफ सुथरा रखना चाहिए। आप बच्चों के कपड़े को डेटोल से भी धो सकते है इससे गन्दगी के साथ साथ कपड़े कीटाणु रहित भी हो जाते है।
  • यदि आपके बच्चे के दांत आ गए है तो आपको बच्चे के दाँतों का भी ख्याल रखना ज़रुरी होता है। इसलिए बच्चों के दांतो को मुलायम ब्रश से साफ कराये। यदि आपका बच्चा खुद से ब्रश नहीं कर सकता है तो आप धीरे धीरे ब्रश की मदद से उनके दांतो को साफ कर सकते है। और यदि बच्चे के दाँत नहीं आये है तो आप साफ कॉटन के कपड़े से भी बच्चे के मुँह को साफ कर सकते है।

आज के लेख में आपने Hygiene Tips for Babies के बारे में जाना। आप तो आप जान ही गए होंगे की छोटे बच्चो के लिए हाइजीन रखना कितना ज़रुरी होता है। आप भी उपरोक्त उपायों को अपनाकर अपने बच्चे को स्वाथ्य और तंदरुस्त रख सकते है।


You may also like...