Wrist Exercise at Home: कलाई मजबूत बनाने में मदद करेंगे ये एक्सरसाइज

आज के समय अधिकतर काम कंप्यूटर या लैपटॉप की मदद से होने लगे है। कंप्यूटर पर काम करने वाले लोग अपना पूरा दिन एक ही स्थिति में कुर्सियों पर बैठे कर करते रहते हैं, उन्हें दिन भर बस माउस और की-बोर्ड चलाना होता है।

रोज रोज यह कार्य करने पर इसका जोर आपकी कलाइयों पर पड़ता है और आप अपनी कलाइयों में दर्द की शिकायत करते है। लेकिन क्या करे, काम है करना तो पड़ेगा ही, इससे हम भाग भी नहीं सकते है।

हम काम करना तो नहीं छोड़ सकते लेकिन कलाईयों को लचीला और मजबूत बनाने के लिए कुछ असरकारी व्यायाम तो कर ही सकते है। यह व्यायाम आपके कलाइयों को सुन्दर भी बनाते है और मजबूत भी जिससे आप बगैर किसी थकावट के अपना काम कर सकते हैं।

हम जानते है की जॉब करने वाले हर व्यक्ति के पास इतना समय नहीं है की इसके लिए वो जिम जाये, इसलिए हम आपको बता रहे है Wrist Exercise at Home, ताकि आप इसे घर पर ही कर सके और इसके फायदों का लाभ उठा सकें।

Wrist Exercise at Home: अपने घर पर ही एक्सरसाइज की मदद से कलाइयों को मजबूत बनाये

Wrist Exercise at Home in Hindi

पुश अप्स: Wrist Exercises

  • पुश अप्स को आप घर में कर सकते है। आपको इसके 5-5 के तीन सेट्स करना चाहिए।
  • पुश अप्स करने से आपके पूरे हाथ मजबूत होते है, साथ ही बॉडी पोस्चर को सुधारने के लिए भी यह अच्छा तरीका है।
  • आप पुश अप्स करने का तरीका यहां जान सकते है।

मुट्ठी को खोलना बंद करना: Wrist Workouts

  • हम जानते है हर किसी को पुश अप्स करना नहीं आता है, इसलिए हम यह साधारण तरीका भी बता रहे है।
  • सबसे पहले सीधे खड़े हो जाए और अपने हाथ को जमीन के समानंतर, अपनी छाती के सामने फैला ले।
  • अब अपने अंगूठे को अंदर की तरफ मोड़कर मुट्ठी बंद कर लें।
  • मुट्ठी को जोर से बंद करके रखना है ताकि आपके हाथों की नसों में खिचाव हो।
  • अब अपनी मुट्ठी को जोर से अर्थात बल पूर्वक खोल लें। इस क्रिया को रोज 10 बार तक करे।

गेहूं पीसने की चक्की की तरह हाथ चलाये

  • यह व्यायाम भी कलाइयों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।
  • इसे करने के लिए सर्वप्रथम पालथी लगाकर बैठ जाएं और अपने दोनों हाथों को सामने की और फैला लें।
  • अब अपने हाथों की दोनों उंगलियों को क्रॉस करके पकड़ ले और हाथों को दाएं से बायीं ओर इस तरह से घुमाएं जैसे की आप गेहूं पीसने की चक्की चला रहे हों।
  • ऐसा विपरीत दिशा में भी करे, आप चाहे तो एक एक हाथ से भी ऐसा कर सकते है।
  • यह व्यायाम करने में बहुत ही सरल है। तथा इसे करने से आपकी बाहें और कलाईयां मजबूत होती है।

हाथों को कोहनियों से घुमाये

  • सबसे पहले सीधे खड़े हो जाये, और अपने हाथों को नीचे की तरफ ढीला छोड़ दे।
  • अब दोनों हाथों को उठाकर कंधो पर रखे। इस दौरान आपकी कोहनिया मुड़ी हुई होना चाहिए।
  • अब हाथों को यही रखते हुए, कोहनियों को गोल-गोल करके ऊपर व नीचे की तरफ घुमाएं।
  • इस अभ्यास को रोज कम से कम 15-20 बार ज़रुर करें।
  • वैसे तो इस व्यायाम को बैठकर भी कर सकते है, लेकिन बैठकर करने के बजाएं इसे खड़े होकर करने में ज्यादा फायदा मिलेगा।
  • इसे करने से हाथों की नसों में रक्त का संचार होता है और हाथों की मसल्स भी एक्टिव होती है।

ऑफ सेट हैंग एक्सरसाइज

  • यह व्यायाम करने में थोड़ा कठिन होता है। लेकिन इसे करने से हाथों और कलाईयों को बहुत आराम मिलता है और वह मजबूत बनती है।
  • इस व्यायाम को करने के लिए सबसे पहले पुलअप बार पर लेट जाए। फिर इसके बाद पुलअप बार को अपने एक हाँथ से पकड़ ले।
  • दूसरे हाँथ को एक तौलिये की मदद से पकड़ ले। इस व्यायाम को दो मिनट तक करे। इसके बाद बारी बारी से अपने हाथों को चेंज करते रहे।

टू आर्म्स हैंगिंग एक्सरसाइज

  • Hand Exercises कलाईयों के लिए बहुत ही अच्छा होता है। इसे यदि नियमित रूप में किया जाए तो इससे कलाईयों को मज़बूती मिलती है।
  • साथ ही कार्यो को करने में आसानी होती है। इसे करने के लिए सबसे पहले पुलअप बार पर लटके।
  • आपको पुलअप बार पर जितनी क्षमता है उतनी देर तक लटके रहे। शुरुआत में आप इसे कुछ सेकंड के लिए करे। फिर इसके बाद इसका समय थोड़ा थोड़ा बढ़ाते जाये।

टॉवल चिनअप्स एक्सरसाइज

  • यह व्यायाम भी कलाईयों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है, इसे करने से कलाईयों की कार्य क्षमता बढ़ती है।
  • इस व्यायाम को आप तौलिये की सहायता से कर सकते है। इसे करने के लिए आपको दो तौलिये की जरुरत होती है इसलिए आप सबसे पहले दो तौलिये ले ले।
  • इसके लिए तौलिये को पुलअप बार पर लटका दे फिर तौलिये के दोनों छोरो को पकड़ कर चिनअप करना शुरू करे।
  • इस व्यायाम को पहले थोड़े समय के लिए करे। फिर अपनी क्षमता के अनुसार समय को बढ़ाते जाए।

उपरोक्त व्यायाम को करके आप अपनी कलाईओ को मजबूती दे सकते है। इन्हे नियमित रूप से करे। नहीं तो यह असरकारी नहीं होगा।

अन्य जानकारी

  • कलाईयों को मजबूत करने के लिए उपरोक्त व्यायाम असरकारी है लेकिन यदि आप इन व्यायामों को करने के लिए नए है तो आप इसके लिए किसी कुशल प्रशिक्षक की मदद ले सकते है ताकि वह इन्हे करने का सही तरीका बता सके।
  • सही तरीके से करने पर ही आप इसके फ़ायदों का लाभ ले सकते है। सही तरीके से नहीं करने पर आपको अन्य परेशानी हो सकती है इसलिए इस बात का ज़रूर ध्यान दे।
  • व्यायाम के साथ साथ कलाईयों को मजबूत बनाने के लिए आपको पौष्टिक आहार की भी जरुरत होती है क्योंकि यदि आप पौष्टिक आहार का सेवन नहीं करते हैं तो आपके शरीर को ज़रुरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते है और आप व्यायामों को भी नियमित रूप से करने में आप असमर्थ रहते है।
  • इसलिए आप व्यायाम के साथ साथ पौष्टिक आहार भी लें। यह तभी असरकारी होगा जब दोनों कार्य बराबर होंगे।

इस तरह आप अपनी कलाईयों को मज़बूती दे सकते है और यदि आपकी क़लईया मज़बूत रहेंगी तो आप अपने कार्यो को तो आसानी से कर ही सकते है साथ ही साथ इसके कारण आपकी कलाईयों को चोट लगने का खतरा भी कम हो जाता है। यह इसलिए होता है क्योंकि कलाईयों के कारण ही आप लिखना, खाना, चीजों को उठाना और हाथों के अन्य कार्यो को करते है। इसलिए अपनी कलाईयों की देखभाल करे। उन्हें अनदेखा न करे। कलाईयों के व्यायाम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करे।

You may also like...